Home » Economy » BankingSBI plans to add 8,000 more ATMs this fiscal

SBI खोलेगी 8000 नए ATM, खुला कमाई का रास्ता

एसबीआई के मैनेजिंग डायरेक्‍टर (नेशनल बैंकिंग) और ग्रुप एक्‍जीक्‍यूटिव बी श्रीराम ने बताया कि बैंक ने 4000 रिसायक्‍लर्स स्‍थापित करने की योजना बनाई है

SBI plans to add 8,000 more ATMs this fiscal
नई दिल्‍ली। देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्‍टेट बैंक (एसबीआई) ने बुधवार को कहा है कि वह चालू वित्‍त वर्ष के दौरान 8,000 नए एटीएम स्‍थापित करेगा।
 
एसबीआई के मैनेजिंग डायरेक्‍टर (नेशनल बैंकिंग) और ग्रुप एक्‍जीक्‍यूटिव बी श्रीराम ने बताया कि बैंक ने 4000 रिसायक्‍लर्स स्‍थापित करने की योजना बनाई है, जो दोनों कैश डिसपेंसिंग और डिपॉजिट का काम करेंगे। इसके अलावा बैंक ने 2,000 कैश डिसपेंसर और 2,000 कैश डिपॉजिट मशीन स्‍थापित करने की भी योजना बनाई है। उन्‍होंने बताया कि वर्तमान में बैंक के 43,000 एटीएम कार्यरत हैं, जिसमें से प्रतिदिन औसत 2400 करोड़ रुपए की निकासी होती है। एक माह में एक औसतन 25 करोड़ ट्रांजक्‍शन होते हैं।
 
कमाई का अवसर
क्या आपका घर शहर या गांव के किसी बाजार या चहल-पहल वाले इलाके में है। आपके पास 10 फीट लंबी और 10 फीट चौड़ी जगह है, लेकिन आप उसका इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं। अगर ऐसा है तो आपके पास घर बैठकर कमाई का बढ़िया मौका है। एसबीआई इस साल 8000 एटीएम खोलने जा रहा है। एसबीआई के इस प्लान के साथ आप फायदा भी कमा सकते हैं। आप एसबीआई का एटीएम अपनी खाली पड़ी दुकान या जगह पर लगवाकर 15,000-20,000 रुपए तक का किराया कम सकते हैं।
 
कैसे ले सकते हैं इसका फायदा
आप एसबीआई के एटीएम के लिए एप्लाई कर सकते हैं। बस आपको अपने पास के एसबीआई ब्रान्च से पता करना होगा कि कहीं उन्हें तो नया एटीएम नहीं लगाना। अगर ऐसा होता है तो आपको बैंक के एटीएम के लिए आवेदन देना होगा।

कितनी चाहिए जगह 
एसबीआई के एक बैंक अधिकारी के मुताबिक, इसके लिए कम से कम आपके पास 10 फीट लंबी और 10 फीट चौंड़ी जगह होनी चाहिए। इसके अलावा नेटवर्क एंटिना लगाने के लिए आपको थोड़ी सी जगह देनी होगी। बैंक ये देखता है कि एटीएम के लिए वो जगह सही है या नहीं। मसलन यह जगह या शॉप मेन स्ट्रीट में होनी चाहिए जहां ज्यादा से ज्यादा लोग आसानी से पैसा निकाल सकें। इसके एवेज में बैंक से आपको परमानेंट किराया मिलता है।

आपकी जगह और एटीएम की हिफाजत करती है बैंक 
एटीएम मशीन, एसी, सुरक्षा की व्यवस्था और रखरखाव बैंक की जिम्मेदारी होती है। जहां तक किराए की बात है तो ग्रामीण इलाकों और कस्बों में यह किराया 2 से 5 हजार के बीच होता है। वहीं शहरी इलाकों या किसी खास मार्केट में यह किराया 10 से 15 हजार या इससे भी अधिक हो सकता है। किराया लोकेशन देखकर तय होता है।


कैसे मिलेगी एटीएम लगवाने की मंजूरी
जब बैंक को कहीं एटीएम लगवाना होता है तो वह उसके लिए बिड मंगवाती है या आस-पास के मार्केट में जानकारी लेती है। इसके लिए अलग-अलग लोग एप्लाई करते हैं। आए हुए आवेदनों का चयन करके, जिस ब्रान्च के तहत यह एटीएम आता है उसका ब्रान्च मैनेजर और बैंक के रीजनल ऑफिस का अधिकारी जगह देखने जाते हैं। संतुष्ट होने पर वह किराए की बात करते हैं और मंजूरी देते हैं।
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss