Home » SME » OpportunityStart low cost business with govt institution

2.5 लाख में शुरू करें सोलर स्पिनिंग मिल, 1 लाख महीना हो सकती है इनकम

गर्मी के इस सीजन में आप मात्र 2.50 लाख रुपए में सोलर से चलने वाले स्पिनिंग मिल लगा सकते हैं।

1 of

नई दिल्‍ली। गर्मी के इस सीजन में आप मात्र 2.50 लाख रुपए में सोलर से चलने वाले स्पिनिंग मिल लगा सकते हैं। इस मिल में तैयार यार्न (सूत, धागा) से आप रेडीमेड गारमेंट तक बना सकते हैं। इसके लिए आपको चरखे लगाने होंगे, जो सोलर से चलेंगे। इस प्रोजेक्‍ट को सरकार की ओर से भी सपोर्ट मिलता है। सरकार न केवल 90 फीसदी तक लोन देती है, बल्कि 25 फीसदी तक सब्सिडी भी दी जाती है। 

 

आज हम आपको ऐसी एक प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के बारे में बताएंगे, जो सरकारी एजेंसी खादी विलेज इंडस्‍ट्री कमीशन (केवीआईसी) द्वारा तैयार की गई है। इस प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट को आधार बना कर आप सरकार से प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत लोन भी ले सकते हैं। 

 

क्‍या है प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट  

केवीआईसी की प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक इस पूरे प्रोजेक्‍ट की लागत लगभग 24 लाख 87 हजार रुपए होगी। इसमें से केवल 10 फीसदी यानी 2 लाख 48 हजार रुपए आपको लगाना होगा। बाकी का 90 फीसदी टर्म लोन यानी लगभग 22 लाख 39 हजार रुपए प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत लोन मिल जाएगा। 

 

कितनी मिलेगी सब्सिडी
सरकार सेल्‍फ इम्‍पलायमेंट को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से 25 फीसदी तक सब्सिडी दी जाती है। ऐसे में, सोलर चरखे से कताई, बुनाई एवं प्रोसेसिंग यूनिट लगाने पर 6 लाख 22 हजार रुपए की सब्सिडी मिलती है। जिसे खादी ग्रामोद्योग कमीशन की मार्जिन मनी कहा जाता है।

 

नहीं देना पड़ेगा ब्‍याज
हालांकि इस योजना के तहत 13 फीसदी ब्‍याज दर का प्रावधान है। 5 साल के भीतर पैसा लौटाना होता है, लेकिन इस ब्‍याज राशि को सब्सिडी के साथ एडजस्‍ट कर दिया जाता है। इसके चलते आपको लगभग कुल लोन राशि ही लौटाना पड़ती है।

 

कैसे शुरू करें बिजनेस
प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक इस प्रोजेक्‍ट के लिए सोलर पावर से चलने वाले 25 चरखे और 10 लूम्‍स लगाए जाएंगे। सोलर चरखा के लिए खादी कमीशन की ओर से रॉ-मैटीरियल सिलवर/रोविंग की सप्‍लाई की जाती है। हालांकि आप बाहर से भी सिलवर व रोविंग खरीद सकते हैं । यह मैटीरियल टैक्‍सटाइन मैन्‍युफैक्‍चरिंग यूनिट से भी मिल जाता है। इसके  इसके बाद यार्न का प्रोडक्‍शन शुरू किया जा सकता है। जिससे आप कपड़े बना सकते हैं। ज्‍यादातर मिल मालिक रेडीमेड गारमेंट बनाकर बेच रहे हैं। 

 

आगे पढ़ें : कितनी होगी इनकम 

क्‍या है मार्केट पटेन्शल
इन सोलर चरखे से बनने वाले यार्न को केंद्र सरकार के कई विभागों में सप्‍लाई किया जाता है। इसके लिए खादी कमीशन द्वारा भी सपोर्ट किया जाता है। इस यार्न से बने टॉवेल, बेड शीट, तकिये के कवर, डस्‍टर क्‍लॉथ रेलवे सहित कई विभागों में मंगाए जाते हैं।  इसके अलावा मार्केट में भी इसकी डिमांड बढ़ती जा रही है। इतना ही नहीं, चूंकि आपके पास 25 चरखे हैं तो आप किसी रेडीमेड गारमेंट कंपनी से भी ऑर्डर ले सकते हैं।

 

आगे पढ़ें : 1 लाख महीना होगी कमाई 

 

कितनी हो सकती है कमाई
सरकार की प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट प्रोफाइल के मुताबिक यदि यूनिट पूरी कैपेसिटी से प्रोडक्‍शन करती है तो सालाना कम से कम 80 लाख रुपए की सेल्‍स हो सकती है। जबकि आपको खर्च के तौर पर 25 स्पिनर, 10 वीवर, पांच टेलर, 1 ओवरलॉक ऑपरेटर, 1 मास्‍टर कटर को साल का 32 लाख 56 हजार रुपए वेतन के रूप में देने होंगे। लगभग 14 लाख रुपए रॉ मैटीरियल (कच्‍चे माल) पर खर्च होगा।
ऐसे में यदि सेल्‍स में से कुल खर्च निकाल दें तो आपका नेट प्रॉफिट 12 लाख 10 हजार रुपए होगा, जो हर साल बढ़ता जाएगा। यानी कि आप 1 लाख रुपए महीना से अधिक कमाई कर सकते हैं।

 

पूरे प्रोजेक्‍ट के बारे में जानने के लिए यहां क्लिक करें http://www.kvic.org.in/kvicres/update/pmegp/SOLAR%20CHARKHA%20NEW_25.pdf

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट