Home » SME » OpportunityIRCTC offers to apply for Rail Travel service agent आईआरसीटीसी ने रेल ट्रेवल सर्विस एजेंट के लिए एप्‍लीकेशन मांगी

रेल टिकट बेच करें कमाई, रेलवे के साथ बिजनेस का का मौका

आप रेल टिकट बेचकर अच्‍छी खासी कमाई कर सकते हैं

1 of

नई दिल्‍ली। आप रेल टिकट बेचकर अच्‍छी खासी कमाई कर सकते हैं। इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्‍म कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईआरसीटीसी) यह मौका दे रहा है। आईआरसीटीसी द्वारा रेल ट्रेवल सर्विस एजेंट (आरटीएसए) की नियुक्ति की जाती है, जो अपने अपने शहर में ऑनलाइन रेल टिकट बुकिंग कर सकते हैं, जिसके बदले उन्‍हें आकर्षक कमीशन दिया जाता है। आप भी इसके लिए अप्‍लाई कर सकते हैं। आज हम आपको इस पूरे प्रोसेस के बारे में बताएंगे। 

 

क्‍या है आरटीएसए एजेंट 
आईआरसीटीसी द्वारा हर शहर में कई ऑथराइज्‍ड एजेंट नियु‍क्‍त किए जाते हैं, जो आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर ऑनलाइन टिकट बुकिंग कर सकते हैं। इसके बदले में उन्‍हें कमीशन दिया जाता है। 

 

क्‍या आएगा खर्च 
रेल ट्रेवल सर्विस एजेंट बनने के लिए आपको पहली बार केवल 20 हजार रुपए देने होंगे, जिसका आईआरसीटीसी के नाम पर डिमांड ड्राफ्ट बनाना होगा। इसमें 10 हजार रुपए रिफंडेबल होंगे। इसके बाद आपको हर साल रिन्‍यूअल के लिए 5000 रुपए देने होंगे। 

 

क्‍या करना होगा 
सभी रेल ट्रेवल सर्विस एजेंट को क्‍लास पस्रनल डिजिटल सर्टिफिकेट लेना होगा। यह सर्टिफिकेट किसी भी इंडियन सर्टिफाइंग अथॉरिटी से मिल जाएगा। 

 

आगे पढ़ें : कितना मिलेगा कमीशन 

 

कितना मिलेगा कमीशन 

आईआरसीटीसी ने रेट तय किए हुए हैं, जो आप रेल ट्रेवल सर्विस एजेंसी के तौर पर कमीशन के रूप में ले सकते हैं। आप स्लिपर क्‍लास की टिकट पर अधिकतम 30 रुपए और एसी टिकट पर अधिकम 60 रुपए प्रति टिकट कस्‍टमर्स से एक्‍सट्रा वसूल सकते हैं। इसमें सर्विस टैक्‍स अलग होगा। 

 

आगे पढ़ें : कैसे कर सकते हैं अप्‍लाई 

 


कैसे कर सकते हैं अप्‍लाई 
आपको 100 रुपए के स्‍टाम्‍प पेपर पर एग्रीमेंट बनवाना होगा। 20 हजार रुपए का डिमांड ड्राफ्ट लगाना होगा। आईआरसीटीसी का रजिस्‍ट्रेशन फॉर्म भर उसकी कॉपी भी लगानी होगी। रजिस्‍ट्रेशन फॉर्म यहां से डाउनलोड कर सकते हैं।  http://contents.irctc.co.in/en/RegistrationForm.pdf 
इसके अलावा क्‍लास थर्ड पसर्नल डिजिटल सर्टिफिकेट भी लेना होगा। संबंधित जोनल रेलवे से भी लैटर लेना होगा। पैन कार्ड, पिछले सालों की इनकम टैक्‍स रिटर्न और एड्रेस प्रूफ भी देना होगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट