Home » SME » Opportunityhow to become bank mitra, surya mitra, youth employment scheme of modi government

5 तरीकों से बनिए मोदी सरकार के 'मित्र', होगी अच्छी इनकम, बैंक-टूरिज्म-सोलर सेक्टर में मौका

केंद्र सरकार बैंक मित्र, सूर्य मित्र, पर्यटन मित्र जैसी स्कीम चला रही है। जिससे जुड़कर रेग्युलर इनकम की जा सकती है।

1 of

नई दिल्‍ली.  युवाओं को इनकम के मौके उपलब्‍ध कराने के लिए मोदी सरकार ने कई स्‍कीम्‍स शुरू की हैं। अलग-अलग विभागों द्वारा चलाई जा रही ये 'मित्र' स्‍कीम्‍स काफी पापुलर हैं। इनमें बैंक मित्र (Bank Mitra)  सूर्य मित्र (Surya Mitra),  पर्यटक मित्र से जुड़ कर युवा जहां सरकार के काम में अपना हाथ बंटा रहे हैं, वहीं युवाओं को अच्‍छी-खासी इनकम भी हो रही है। इसके अलावा सरकार जल्‍द ही आयुष्‍मान भारत स्‍कीम के तहत स्‍वास्‍थ्‍य मित्र बनाने जा रही है। मोदी सरकार की तर्ज पर राजस्‍थान में ई मित्र स्‍कीम काफी पापुलर है। आज हम इन योजनाओं के बारे में बताएंगे, जिनसे जुड़ कर युवा सरकार के मित्र बन रहे हैं और सरकार भी इन मित्रों के माध्‍यम से अपनी सेवाएं ज्‍यादातर लोगों तक पहुंचा रही है। 

 

 

बैंक मित्र बन करें कमाई 
मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई बैंक मित्र काफी पापुलर है। देश में अब तक 1.26 लाख बैंक मित्र बन चुके हैं। हाल ही में, बैंकों में नए सिरे से बैंक मित्र बनाने की प्रक्रिया शुरू हुई है। कोई भी व्यक्ति, जिसकी उम्र 18 साल से ज्यादा है, वह बैंक मित्र बन सकता है। बैंक मित्र बनने के लिए बैंक 1.25 लाख रुपए तक लोन भी दे रहे हैं। जिसमें बाइक खरीदने से लेकर, लैपटॉप, प्रिंटर, स्कैनर और शुरूआती बिजनेस के लिए भी बैंक से सपोर्ट मिलता है। यानी अगर आपके पास बिजनेस शुरू करने के लिए पूंजी नहीं है, तो भी आप बैंक मित्र बनकर हर महीने अच्छी कमाई कर सकते हैं। बैंक से उन्हें फिक्स सैलरी 5000 रुपए महीना मिलती है। साथ ही, हर ट्रांजैक्शन पर कमीशन भी मिलता है। ग्रामीण इलाकों या जहां एटीएम नहीं है, वहां के लिए बैंक मित्रों को माइक्रो एटीएम दिया जाता है। बैंक मित्र बनने के लिए बैंक शाखाओं से सीधे संपर्क किया जा सकता है। 

 

क्‍या काम करते हैं बैंक मित्र 
बैंक मित्र प्रमुख रुपए से कस्टमर को ये सर्विसेज देते हैं..
1. सेविंग बैंक अकाउंट खोलना
2. आरडी और एफडी अकाउंट
3. कैश डिपॉजिट और विदड्रॉल सर्विस
4. ओवरड्रॉफ्ट सर्विस
5. किसान क्रेडिट इश्यू करना
6. इन्श्योरेंस प्रोडक्ट और म्युचुअल फंड प्रोडक्ट की बिक्री
7. पेंशन अकाउंट
 8. डीटीएच रिचार्ज
9. मोबाइल रिचार्ज
10. डाटा कार्ड रिचार्ज
11. पोस्ट पेड और लैंड लाइन फोन बिल पेमेंट
12. इलेक्ट्रिसिटी बिल पेमेंट
13. टिकट बुकिंग
14. पैन कार्ड सर्विस
15. सभी तरह के इन्श्योरेंस के प्रीमियम का कलेक्शन

 

फ्री में बन सकते हैं सूर्य मित्र 
भारत में सोलर सेक्‍टर का तेजी से ग्रोथ हो रहा है। लगभग सभी बड़े औद्योगिक समूह इस सेक्‍टर में अपना बिजनेस बढ़ा रहे हैं। कई विदेशी कं‍पनियां भी भारत में अपने पैर जमा रही हैं। इन कंपनियों में काम करने वालों की कमी को पूरा करने के लिए मोदी सरकार ने सूर्य मित्र स्‍कीम शुरू की है। इस स्‍कीम के तहत सरकार की ओर से फ्री में ट्रेनिंग दी जाती है। सरकार का टारगेट 50 हजार युवाओं को सूर्य मित्र बनाना बनाने का टारगेट रखा था, इसमें से लगभग 18 हजार सूर्य मित्र बन चुके हैं। कोई भी युवा सूर्य मित्र बनने के लिए अप्‍लाई कर सकता है। इसके लिए युवा का दसवीं पास होना जरूरी है। साथ ही, इलेक्ट्रिशियन, वायरमैन, इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स, मैकेनिक, फिटर, शीट मैटल में आईटीआई किया हुआ है। उम्र 18 साल से अधिक हो तो आप सूर्य मित्र बनने के लिए अप्‍लाई कर सकते हैं। 

 

क्‍या होगा सूर्य मित्र बनने का फायदा 
ट्रेनिंग लेने के बाद युवा अपना सोलर बिजनेस शुरू कर सकते हैं।सरकार का सोलर चैनल पार्टनर भी बन सकते हैं।   युवाओं को सोलर सिस्‍टम के मेंटेनेंस, ऑपरेशन और इंस्‍टॉलेशन की ट्रेनिंग दी जाएगी।देश में सोलर प्‍लांट लगा रही व पैनल मैनयुफैक्‍चरिंग कर रही देशी विदेशी कंपनियों में जॉब कर सकते हैं।

 

स्‍वास्‍थ्‍य मित्र बनाने की योजना 
मोदी सरकार ने आयुष्मान योजना को सफल बनाने के लिए स्‍वास्‍थ्‍य मित्र योजना शुरू करने की घोषणा की है। ये  स्वास्थ्य मित्र लोगों का बीमा करवाने के साथ-साथ इलाज की सुविधा भी दिलाएंगे। इसके बदले स्‍वास्‍थ्‍य मित्र को एक निश्चित सैलरी के साथ इंसेंटिव भी मिलेगा। स्वास्थ्य मित्र ठीक उसी तरह होंगे जैसे अभी जनधन योजना में बैंक मित्र लोगों का खाता खुलवाने के साथ-साथ बैंकिंग ट्रांजैक्शन कराते हैं। 

 

क्‍यों चाहिए स्‍वाथ्‍य मित्र
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के एक वरिष्‍ठ अधिकारी के मुताबिक, आयुष्‍मान भारत स्‍कीम के तहत सरकार का फोकस गरीब और वंचित तबके के लोगों को इलाज की सुविधा उपलब्‍ध कराने पर है। इसलिए इन लोगों को आसानी से इस स्‍कीम में जोड़ने के लिए सरकार को उन्‍हीं के बीच के आम लोगों की जरूरत होगी, जो लोगों को आयुष्‍मान स्‍कीम के फायदे बता सकें और स्‍कीम से जुड़ने के लिए राजी कर सकें। इसके अलावा लोगों को आसानी से इंश्‍योरेंस का लाभ मिल सके, ये सुनिश्चित करने में भी स्‍वास्‍थ्‍य मित्र मददगार होंगे। 

 

पर्यटक मित्र बन करें कमाई 
भारत में टूरिज्‍म सेक्‍टर को प्रमोट करने और बेरोजगार युवाओं को इस सेक्‍टर से जोड़ने के लिए पर्यटक मित्र स्‍कीम चलाई जा रही है। इसके लिए सरकार केवल 10 दिन की ट्रेनिंग देती है। उसके बाद युवाओं को पर्यटक मित्र  का सर्टिफिकेट दे दिया जाता  है। मिनिस्‍ट्री ऑफ टूरिज्‍म द्वारा पर्यटक मित्र की ट्रेनिंग दी जा रही है।  यह ट्रेनिंग लेने के लिए आप कम से कम 12वीं कक्षा पास होने चाहिएं। आपकी उम्र 18 से 28 साल साल के बीच होनी चाहिए। कॉलेज जा रहे स्‍टूडेंट भी यह ट्रेनिंग ले सकते हैं, जो एनसीसी या एनएसएस में भी इनरोल हो। हालांकि उन्‍हें प्रिंसिपल से नो-ऑब्‍जेक्‍शन लेना होगा।

यह भी पढ़ें : करना चाहते हैं बिजनेस, सरकार 5 तरह से दे रही है पैसों का सपोर्ट

 

आगे पढ़ें : कैसे सकते हैं कमाई 

कैसे कर सकते हैं कमाई
ट्रेनिंग लेने के बाद आईआईटीटीएम द्वारा न केवल सर्टिफिकेट दिया जाएगा, बल्कि पर्यटक मित्र के तौर पर आपका नाम अपनी वेबसाइट पर डिस्‍पले किया जाएगा। इसके अलावा आईआईटीटीएम द्वारा टूरिज्‍म सेक्‍टर की इंडस्‍ट्री और लीडर्स को वेलेडिक्‍टरी फंक्‍शन में बुलाया जाएगा, जिनसे आप का परिचय कराया जाएगा। वे आपको गाइड या टूरिज्‍म फैसिलिटेटर के तौर पर जॉब पर रख सकते हैं।
आईआईटीटीएम द्वारा राज्‍यों के टूरिज्‍म डिपार्टमेंट को भी पर्यटक मित्रों की लिस्‍ट भेजी जाएगी, ताकि वे आपसे सीधे संपर्क कर सकें। सरकार की योजना है कि राज्‍य के टूरिज्‍म डिपार्टमेंट्स द्वारा आपको पर्यटक मित्र के तौर पर अप्‍वाइंट कर सकती है। जिसके लिए हर माह अच्‍छी खासी रकम दी जाएगी।
पर्यटक मित्र बनने के बाद आप गाइड के तौर पर भी अपना काम शुरू कर सकते हैं। इसके लिए आपको टूरिज्‍म विभाग के पास अलग से रजिस्‍ट्रेशन कराना होगा। यह एक ऐसा काम है, जो सीजन में आपको मोटी कमाई करवा सकता है।

 

आगे पढ़ें : ई मित्र बनने का मौका 

 

ई मित्र बनने का मौका 
केंद्र की तर्ज पर राजस्‍थान सरकार की एक बेहद पॉपुलर ई मित्र स्‍कीम है। लोगों को घर के पास ही विभिन्न  सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए सरकार ने ई-मित्र की सुविधा शुरू की है। बिजली, पानी, मोबाइल के बिल जमा करवाने से लेकर जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र, मूल निवास, परीक्षाओं की फीस, विवाह प्रमाण पत्र बनवाना, रेवेन्यू कोर्ट मैनेजमेन्ट, परीक्षा फीस जमा करवाना, रोज़गार आवेदन जैसी अनेकों सेवाएं ई-मित्र केन्द्रों पर उपलब्ध हैं।

 

लगभग 30000 से अधिक ई-मित्र वीसी (Video Conferencing) से जुड़े हुए हैं। इनके माध्यम से जन-सुनवाई व प्रशिक्षण की सुविधाएं भी दी जा रही हैं। राज्य में 15000 ई-मित्र कियोस्क बैंकिंग सेवाएं भी दे रहे हैं। यहां लोग आसानी से अपने भामाशाह खाते में प्राप्त राशि निकाल रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में 2500 ई-मित्र पे-पॉइंट बनाये जा चुके हैं जिनके माध्यम से घर-घर जाकर नकद राशि को निकालने की सुविधा भी दी जा रही है। अगर आप ई मित्र बनना चाहते हैं तो इस पोर्टल पर रजिस्‍ट्रेशन करा सकते हैं http://mis.emitra.gov.in/

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट