बिज़नेस न्यूज़ » SME » Opportunityगांव में है जमीन तो सरकार दे रही है 6 लाख रुपए तक कमाने का मौका

गांव में है जमीन तो सरकार दे रही है 6 लाख रुपए तक कमाने का मौका

अगर आपके पास गांव में जमीन है तो आपके लिए बिजनेस का बहुत अच्‍छा मौका है।

1 of

नई दिल्‍ली। अगर आपके पास गांव में जमीन है या आप गांव में जमीन लीज पर ले सकते हैं तो आपके लिए बिजनेस का बहुत अच्‍छा मौका है। दरअसल, केंद्र सरकार पिछले कुछ सालों से रूरल टूरिज्‍म को काफी प्रमोट कर रही है। आप भी सरकार के इस प्रोग्राम के साथ जुड़कर अपना बिजनेस खड़ा कर सकते हैं। आप अपने गांव में या किसी भी रूरल एरिया में रूरल टूरिज्‍म स्‍पॉट डेवलप कर अच्‍छी खासी कमाई कर सकते हैं।

 

यदि आप रूरल टूरिज्‍म का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो सरकार आपको पूरा सपोर्ट करेगी। आज हम आपको इसके बारे में विस्‍तृत जानकारी देंगे।

 

क्‍या है पोटेंशियल

केंद्र सरकार द्वारा संचालित सिडबी ( स्‍मॉल इंडस्‍ट्रीज डेवलमेंट बैंक ऑफ इंडिया) के मुताबिक अर्बनाइजेशन बढ़ने के कारण अब लोग अपनी छुट्टियां कुछ हटकर बिताना चाहते हैं। यही वजह है कि पिछले कुछ सालों में रूरल टूरिज्‍म का स्‍कोप बढ़ रहा है। विदेशियों में भी भारत की ग्रामीण संस्‍कृति को जानने की ललक के चलते रूरल टूरिज्‍म के प्रति सरकार ने अपना ध्‍यान केंद्रित किया है।

 

सरकार कैसे कर रही है सपोर्ट

सिडबी के मुताबिक, केंद्र सरकार रूरल टूरिज्‍म को सपोर्ट कर रही है। अब तक केंद्र सरकार द्वारा 153 रूरल टूरिज्‍म प्रोजेक्‍ट्स को सपोर्ट किया जा रहा है। इतना ही नहीं, यूएनडीपी द्वारा भी 36 रूरल लोकेशन को रूरल टूरिज्‍म के तौर पर डेवलप करने के लिए असिस्‍टेंस दी जा रही है। केंद्र सरकार द्वारा रूरल टूरिज्‍म प्रोजेक्‍ट्स को इम्‍प्रूव करने के लिए गांव के आसपास इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर डेवलप किया जा रहा है। जैसे रोड, सोलिड वेस्‍ट मैनेजमेंट, एडवेंचर या स्‍पोर्ट्स इक्‍वीपमेंट, साइनेज, रिसेप्‍शन, मोनूमेंट्स के रिफ्रबिशमेंट और अकमो‍डेशन आदि का इंतजाम किया जा रहा है। हालांकि इसके लिए आपको स्‍टेट लेवल की टूरिज्‍म एजेंसियों से संपर्क करना होगा।

 

 

 आगे पढ़ें : क्‍या होगी प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट

क्‍या होगी प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट

सिडबी ने एक प्रोजेक्‍ट प्रोफाइल तैयार किया है। इसके मुताबिक यदि आप रूरल टूरिज्‍म बिजनेस शुरू करना चाहते हैं और आपका गांव इस मामले में सही लोकेशन साबित हो सकती है तो आपको लीज पर जमीन नहीं लेनी होगी। अगर आप लीज पर जमीन लेते हैं तो आपको कम से कम 10 लाख रुपए लीज के लिए प्रोविजन करना होगा। इसके अलावा आपको साइट डेवलपमेंट, हट (झोपड़ी) बनाने, फर्नीचर का इंतजाम करने, हाउस कीपिंग इक्‍वीपमेंट, किचन, डायनिंग एरिया, यूटिलिटी व्‍हीकल, डीजी सेट, वर्किंग कैपिटल मार्जिन आदि पर लगभग 87 लाख 50 हजार रुपए की प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट तैयार करनी होगा।

 

आगे पढ़ें : कितना मिलेगा लोन

कितना मिलेगा लोन

सिडबी की इस प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक आपको लगभग 52 लाख 50 हजार रुपए का टर्म लोन मिल जाएगा। आपको अपनी इक्विटी के तौर पर 35 लाख रुपए का इंतजाम करना होगा। यह लोन आपको लगभग 11 फीसदी की ब्‍याज दर पर मिलेगा, जो 5 साल के भीतर लौटाना होगा।

 

आगे पढ़ें : क्‍या होगी इनकम 

 

क्‍या होगी इनकम

 

सिडबी की इस प्रोजेक्‍ट प्रोफाइल में बताया गया है कि यदि आप 15 हट (झोपड़ी) बनाते हैं तो आपकी साल भर की ऑपरेटिंग इनकम 65 लाख 93 हजार रुपए होगी, जबकि ऑपरेटिंग एक्‍सपेंस 39.50 लाख रुपए होगा। इसके अलावा लोन का ब्‍याज, डेप्रिशिएसन, टैक्‍स आदि घटाकर आपको साल भर में शुद्ध मुनाफा लगभग 6 लाख रुपए हो सकता है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट