बिज़नेस न्यूज़ » SME » Financing3 माह में 2 लाख नए कस्‍टमर्स जोड़ेगी होम क्रेडिट

3 माह में 2 लाख नए कस्‍टमर्स जोड़ेगी होम क्रेडिट

अभी होम क्रेडिट के कस्‍टमर्स की संख्‍या 8 लाख है, कंपनी तीन माह में इसे बढ़ा कर 10 लाख करना चाहती है।

Finance Company Home credit has its operations in over 50 cities
 
नई दिल्‍ली। होम क्रेडिट, इंडिया का टारगेट है कि आने वाले तीन माह में 2 लाख नए कस्‍टमर्स को जोड़ कर कंज्यूमर फाइनेंस सेक्‍टर में जोरदार उपस्थिति दर्ज की जाए। अभी कंपनी के कस्‍टमर्स की संख्‍या 8 लाख है, कंपनी तीन माह में इसे बढ़ा कर 10 लाख करना चाहती है।
 
क्‍या करती है कंपनी
 
होम क्रेडिट यूरोप बेस्‍ड कंपनी है, जो 11 देशों में फैली हुई है। इंडिया में होम क्रेडिट इंडिया फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड की शुरुआत साल 2012 में हुई। कंपनी कंज्‍यूमर ड्यूरेबल प्रोडक्‍ट्स को फाइनेंस करती है। इनमें होम अपलाइसेंस, मोबाइल, लैपटॉप, टैबलेट, इलेक्‍ट्रॉनिक गुड्स के साथ-साथ मोटर बाइक शामिल है।
 
फर्स्‍ट टाइमर को देती है लोन
 
ज्‍यादातर फाइनेंस कंपनियां फर्स्‍ट टाइम लोन ले रही कस्‍टमर को लोन देने से गुरेज करती हैं, लेकिन होम क्रेडिट, इंडिया की वाइस प्रेसिडेंट ( कस्‍टमर एक्‍सपीरियंस) सिमरन सोनी ने ‘मनीभास्‍कर’ को बताया कि हमारी कंपनी के 70 फीसदी कस्‍टमर ऐसे हैं, जिन्‍होंने पहली बार लोन लिया है। हम उन्‍हें मना नहीं करते, बल्कि उनसे समझते हैं कि वे कितना लोन लेना चाहते हैं और उसे कैसे-कैसे लौटाएंगे। अपने स्‍तर पर इसकी जांच करने के बाद हम 30 मिनट से भी कम समय में लोन दे देते हैं।
 
कैसे अलग है होम क्रेडिट
 
मार्केट में कंज्‍यूमर ड्यूरेबल आयटम को फाइनेंस करने वाली कई कंपनियां हैं तो फिर होम क्रेडिट कैसे उन सबसे अलग है? सिमरन का कहना है कि होम क्रेडिट की विशेषता है कि कंपनी कस्‍टमर्स से पूछती है कि वे लोन कैसे-कैसे लौटाएंगे। कंपनी कस्‍टमर्स की सहूलियत देखती है। कंपनी अपनी ओर से कोई दबाव नहीं देती। यह कंपनी की यूनिकनेस है। इसके अलावा कंपनी के तीन मंत्र हैं। सिम्‍पल, सेफ और स्‍पीड। होम क्रेडिट से लोन लेने का प्रोसेस सिंपल है। कस्‍टमर्स को सेफ लोन प्रोवाइड कराया जाता है और तेजी से कस्‍टमर्स को लोन व सर्विस उपलब्‍ध कराई जाती है।  
 
पर्सनल लोन भी देती है होम क्रेडिट
 
कंज्‍यूमर गुड्स के साथ साथ होम क्रेडिट द्वारा पर्सनल लोन भी दिया जाता है, लेकिन यह लोन केवल उन कस्‍टमर्स को दिया जाता है, जो पहले कंज्‍यूमर गुड्स के लिए लोन ले चुके हैं और उनकी पेमेंट हिस्‍ट्री साफ सुथरी हो। यह पर्सनल लोन अपना छोटा मोटा बिजनेस शुरू करने या बिजनेस के एक्‍सपेंशन के लिए दिया जाता है।
 
अभी इंडिया में क्‍या नेटवर्क  
 
होम इंडिया का नेटवर्क देश के 13 राज्‍यों के 50 शहरों में फैला है। लगभग 10 हजार स्‍टोर पर होम इंडिया के एग्‍जीक्‍यूटिव उपलब्‍ध रहते हैं, जो कस्‍टमर्स को हर तरह की सुविधा देते हैं। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट