विज्ञापन
Home » Personal Finance » InvestmentClam settlement will be done within 20 days of retirement, pension may start soon

ईपीएफओ / रिटायरमेंट के 20 दिन के भीतर करना होगा क्लेम निपटारा, जल्द शुरू हो सकेगी पेंशन

ईपीएफओ ने जारी किए आदेश, मृत्यु होने पर परिवार को सात दिन के भीतर मिलेगी मदद

Clam settlement will be done within 20 days of retirement, pension may start soon

नई दिल्ली. एम्पलाई पेंशन स्कीम 1995 के दायरे में आने वाले प्राइवेट कंपनियाें, सार्वजनिक निगम, कार्पोरेशन, कारखाने आदि में  कार्यरत 2.5 करोड़ कर्मचारियों के लिए एक और राहत भरी खबर है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ)  ने निर्देश दिए हैं कि किसी भी कर्मचारी को रिटायरमेंट के 20 दिन के भीतर क्लेम सेटलमेंट होना चाहिए। यदि संबंधित दफ्तर ऐसा नहीं करते हैं तो फाइल सीधे दिल्ली ऑफिस तलब की जाएगी। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के एडीशनल सेंट्रल पीएफ कमिश्नर आरएम वर्मा ने सभी रीजनल दफ्तरों को आदेश जारी कर दिए हैं।

 

मृत्यु की दशा में सात दिन की मियाद


ईपीएफओ दफ्तरों को किसी अंशदाता यानी कर्मचारी की मृत्यु होने पर 7 दिन में क्लेम का निपटारा करना होगा।  कर्मचारी भविष्य निधि कल्याण समिति ने बताया कि अभी तक इन क्लेम के निपटारे के लिए समय सीमा तय नहीं थी। इससे कई कर्मचारियों को पेंशन के लिए लंबा इंतजार करना पड़ता था। अब इस व्यवस्था से कर्मचारियों को बहुत फायदा होगा। 

यह भी पढ़ें : देश की पहली बुलेट ट्रेन में नौकरी करनी है तो जापानी भाषा जानना जरूरी, 4 जून तक नौकरी के कर सकते हैं आवेदन

 

ईपीएफओ से यह मिलती है मदद 

 

निजी कंपनियों में कार्यरत कर्मचारियों की सैलरी में से 12 और इतनी ही रकम नियोक्ता के खाते में से कटती है। इस रकम पर संगठन द्वारा तय की गई ब्याज दर मिलती है। अभी यह ब्याज दर 8.65 प्रतिशत सालाना है। कर्मचारी के रिटायरमेंट यानी 58 साल की उम्र पर यह रकम ब्याज समेत वापस की जाती है। यही नहीं नियोक्ता के हिस्से से जमा होने वाली रकम का 75 प्रतिशत हिस्सा पेंशन फंड में जाता है। रिटायरमेंट के बाद यह रकम पेंशन के रूप में कर्मचारी व उसकी मृत्यु के बाद आश्रित को रकम मिलती है। 

यह भी पढ़ें : अमेजन के प्लेटफार्म पर टायलेट उत्पादों पर लगी हिंदू देवी-देवताओं की तस्वीर, भड़के लोग, कंपनी ने हटाए प्रोडक्ट्स

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन