बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Investmentसरकारी योजना में 1000 रु महीना जमा करेंगे तो बेटी को मिलेंगे 5 लाख से ज्यादा

सरकारी योजना में 1000 रु महीना जमा करेंगे तो बेटी को मिलेंगे 5 लाख से ज्यादा

बेटियों के लिए सरकार ने एक पॉलिसी शुरू की है, जिसका नाम है सुकन्या समृद्धि योजना।

facts about sukanya samriddhi yojana in hindi, सुकन्या समृद्धि योजना में 1000 रु महीना जमा करेंगे तो बेटी को मिलेंगे 5 लाख से ज्यादा

न्यूज डेस्क। बेटियों के भविष्य और जीवन को सुरक्षित करने के लिए मोदी सरकार ने एक योजना शुरू की है। इस योजना का नाम है सुकन्या समृद्धि योजना। इस योजना में माता-पिता को 14 वर्षों तक हर माह कम से कम 1,000 रुपए जमा करवाना है। इस योजना के लिए एक फार्म भरना होता है, जो किसी भी पोस्ट ऑफिस और बैंक से मिल सकता है। आप जिस बैंक से इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, उस बैंक में पैसा जमा करना सकते हैं। इस योजना में हर माह पैसा जमा करवाने की अधिकतम सीमा 12,500 रुपए है। केनरा बैंक की ऑफिशियल वेब साइट के अनुसार इस योजना में लगातार 14 वर्षों जमा करना है और खाता खोलने की तारीख से 21 वर्षों पूरे होने पर आपकी पॉलिसी परिपक्व हो जाएगी। जानें सुकन्या समृद्धि योजना से जुड़ी कुछ और खास बातें...

 

1. इस योजना का उद्देश्य बालिकाओं के कल्याण को प्रोत्साहित करना है।

2. इस योजना में 10 वर्ष तक की आयु की बच्ची के नाम पर खाता खोला जा सकता है। बच्ची की ओर से मूल या कानूनी अभिभावक खाता खोल सकते हैं। दो बच्चियों तक (या अधिकतम तीन, जुड़वा के मामले में) के खाते खोले जा सकते हैं।

3. योजना में न्यूनतम जमा राशि 1000 रुपए मासिक है और एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 1.5 लाख रुपए जमा करवा सकते हैं।

4. इस योजना में फिलहाल 8.1% की चक्रवृद्धि ब्याज दर है। भारत सरकार प्रत्येक वित्तीय वर्ष हेतु ब्याज दर घोषित करती है। इस कारण ये दर कम या ज्यादा भी हो सकती हैं।

5. योजना में पैसा जमा करने की अवधि 14 वर्ष है। इसके बाद खाता खोलने की तिथि से 21 वर्षों पर योजना परिपक्व हो जाती है। इसके अलावा जमाकर्ता अभिभावक की मृत्यु होने पर समय से पहले भी पैसा बेटी को मिल सकता है।

6. वैसे तो इस योजना में 21 वर्ष पूरे होने के ही पैसा मिलता है, लेकिन 18 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद करीब 50% पैसा उच्च शिक्षा या विवाह के लिए निकाला जा सकता है।

7. इस योजना में जमा की जा रही रकम आईटी अधिनियम की धारा 80सी के तहत कर मुक्त होती है।

8. योजना में रकम जमा करने के लिए नकद या चेक या मांग ड्रॉफ्ट का उपयोग कर सकते हैं।

 

ये बातें भी ध्यान रखें

21 साल के बाद खाता बंद हो जाएगा और पैसा गार्जियन को मिल जाएगा। अगर बेटी की 18 से 21 साल के बीच मैरिज हो जाती है तो अकांउट उसी वक्त बंद हो जाएगा। अगर प्रीमियम जमा करने में लेट होते हैं तो सिर्फ 50 रुपए की पैनल्टी लगेगी। अभिभावक अपनी दो बेटियों के लिए दो अकाउंट खोल सकते हैं। जुड़वां होने पर उसका प्रूफ देकर ही तीसरा खाता खोल सकेंगे। खाते को आप कहीं भी ट्रांसफर करा सकेंगे।

 

ऐसे समझें फायदे को

यदि 2018 में कोई व्यक्ति 1,000 रुपए महीने से अकाउंट खोलता है तो उसे 14 साल तक यानी 2031 तक हर साल 12 हजार रुपए जमा करना होंगे। इस तरह 14 साल में 1.68 लाख रुपए जमा होंगे। 2018 में इस योजना की ब्याज दर 8.1% है। इस दर से जब बच्ची 21 साल की होगी तो उसे 527,036.12 रुपए मिलेंगे।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट