Home » Personal Finance » Property » UpdateGovt will construct bye pass and ring road in these 80 cities

इन 80 शहरों में बढ़ने वाले हैं प्रॉपर्टी के दाम, चेक करें लिस्‍ट

प्रॉपर्टी एक्‍सपर्ट्स मानते हैं कि इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्रोजेक्‍ट्स की वजह से प्रॉपर्टी कीमतों में 20 फीसदी वृद्धि होती है

1 of

नई दिल्‍ली। मोदी सरकार ने भारत माला प्रोजेक्‍ट के तहत लगभग 80 शहरों में रिंग रोड और बाइपास बनाने की घोषणा की है। इस पर काम भी शुरू हो गया है। इससे जहां शहरों के बीच कनेक्‍टविटी बढ़ेगी, ट्रेवल टाइम कम होगा और जाम से मुक्ति मिलेगी, वहीं प्रॉपर्टी की कीमतें भी बढ़नी तय हैं।

क्या कहते हैं मार्केट एक्सपर्ट

जेएलएल इंडिया के सीइओ रमेश नैय्यर का कहना है कि अब तक यह देखा गया है कि ट्रांसपोर्ट प्रोजेक्‍ट्स की वजह से शहरों में प्रॉपर्टी की कीमतों में बढ़ोतरी होती है। मुंबई में जिन इलाकों में मेट्रो कनेक्टिविटी बढ़ी, वहां पिछले आठ सालों में 400 फीसदी प्राइस एप्रिसिएशन देखा गया। 

उम्‍मीद जताई जा रही है भारत माला प्रोजेक्‍ट्स से भी प्रॉपर्टी की कीमतों में उछाल आएगा। 

 

आपको हो सकता है फायदा 

ऐसे में, यदि इन शहरों में आपकी प्रॉपर्टी है तो आप कुछ दिन होल्‍ड करके कुछ समय बाद अपनी प्रॉपर्टी बेच सकते हैं। अभी इन शहरों में प्रॉपर्टी की कीमत स्थिर है। यदि आप इन्‍वेस्‍टमेंट के मूड में हैं तो इन शहरों में प्रॉपर्टी पर इन्‍वेस्‍टमेंट कर सकते हैं। अब आपके मन में सवाल उठ रहा होगा कि आप जिस शहर में रह रहे हैं, क्‍या वहां बाइपास या रिंग रोड बनने वाला है। तो आपके इस सवाल का हम जवाब देंगे। हम आपको बताएंगे कि मोदी सरकार किन शहरों में रिंग रोड या बाइपास बनाने वाली हैं। 

 

इन शहरों में बन रहे हैं बाइपास 

सरकार ने 51 शहरों में बाईपास बनाने का निर्णय लिया है। इनमें लुधियाना, आगरा, वाराणसी, औरंगाबाद, अमृतसर, ग्‍वालियर, सोलापुर में 4 बाईपास, नादेंड में दो, जालंधर, फिरोजाबाद, सिलीगुड़ी, जलगांव, कोझिकोडी, कुरनॉल, बोकारो, बेलारी, धुले, बिलासपुर, देवास में दो, जलाना, सागर, मिर्जापुर, रायचूर, गंगा नगर, होसपत, ऑनगोल, मोर्वी, रायगंज, पनवेल, विदिशा, सासाराम, छत्‍तरपुर, बागलकोट, सिहोर, जहानाबाद, नागौर, चिलाकलुरपित, रिनीगुंटा, सांगरेड्डी, इम्‍फाल, सिलचर, शिलांग, डिब्रुगढ़, दीमापुर, उदयपुर, हिंगघाट और चित्रदुर्गा शामिल हैं। इन सभी शहरों के बीच अलग अलग हाइवे गुजर रहे हैं। लेकिन अब इन शहरों के बाईपास बनाने का निर्णय लिया गया है, ताकि शहर के अंदर जाम नहीं लगे। 

 

आगे पढ़ें - कहां बनेंगी रिंग रोड 

 

 

कहां बनेंगी रिंग रोड 

 

मिनिस्‍ट्री ऑफ रोड एंड ट्रांसपोर्ट के मुताबिक, 28 शहरों में रिंग रोड बनेंगी। इनमें पुणे, बंगलुरु, संभल पुर, मदुरैई, इंदौर, धुले, रायपुर, शिवपुरी, दिल्‍ली, भुवनेश्‍वर, गुरुग्राम, सूरत, पटना, लखनऊ, वाराणसी, विजयवाड़ा, चित्रदुर्ग, अमरावती, सागर, सोलापुर, जयपुर, बेलगाम, नागपुर, आगरा, कोटा, धनबाद, उदयपुर, रांची शामिल हैं। देश की जानी मानी प्रॉपर्टी कंसलटेंसी एवं रिसर्च फर्म नाइट फ्रेंक की अक्‍टूबर महीने के अपडेट में कहा गया है कि रिंग और बाइपास रोड से शहरों में कनेक्‍टविटी बढ़ेगी, जो देश के बड़े शहरों में डिकंजेशन बढ़ेगा। 

 

आगे पढ़ें : क्‍या है भारत माला प्रोजेक्‍ट 

 

क्‍या है भारत माला प्रोजेक्‍ट 
मोदी सरकार द्वारा लॉन्‍च किए गए भारत माला प्रोजेक्‍ट पर लगभग 5.35 लाख करोड़ रुपए खर्च होंगे और इससे 34800 किलोमीटर सड़क बनेगी। पहले फेज में भारत माला प्रोजेक्‍ट की 24800 किमी सड़क बनेगी, जबकि एनएचडीपी के तहत 10 हजार किमी सड़क बनेगी। पहले फेज के भारत माला प्रोजेक्‍ट में 9000 किमी इकोनॉमिक कोरिडोर शामिल होंगे, जिन पर 1.20 लाख करोड़ रुपए का खर्च आएगा। इसके अलावा 80 हजार करोड़ रुपए की लागत से 6000 किमी इंटर कोरिडोर व फीडर कोरिडोर, 1 लाख करोड़ रुपए की लागत से 5000 किमी नेशनल कोरिडोर एफिशिएंसी इंप्रूवमेंट, 25 हजार करोड़ रुपए की लागत से 2000 किमी इंटरनेशनल कनेक्टिविटी रोड, 20 हजार करोड़ रुपए की लागत से 2000 किमी कॉस्‍टल रोड और पोर्ट कनेक्टिविटी और लगभग 40 हजार करोड़ रुपए की लागत से 800 किमी ग्रीन फील्‍ड एक्‍सप्रेस-वे बनाए जाएंगे। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट