Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Personal Finance »Property »Update» Experts Raised Question On PMAY Subsidy Scheme For MIGs

    पीएम आवास योजना पर उठे सवाल, बजट में सिर्फ 1400 करोड़ रु का आवंटन

     
    नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ईडब्‍ल्‍यूएस और एलआईजी के साथ-साथ अब मिडिल इनकम ग्रुप (एमआईजी) को भी सब्सिडी दी जाएगी, लेकिन एमआईजी को केवल एक साल के लिए ही सब्सिडी दी जाएगी और बजट में योजना के तहत दी जाने वाली सब्सिडी के लिए केवल 1400 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है। एक्‍सपर्ट्स का मानना है कि सबको घर देने के वादे को पूरा करने के लिए सरकार को यह स्‍कीम अगले साल भी बढ़ानी होगी, वरना कई लोग फायदा लेने से वंचित रह सकते हैं।
     
    31 दिसंबर तक ही ले सकेंगे फायदा
     
    नोटबंदी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 31 दिसंबर 2016 को एमआईजी को भी सब्सिडी देने की घोषणा की थी। लेकिन विधानसभा चुनाव के कारण तीन माह तक उनकी यह घोषणा लागू नहीं हो पाएगी। चुनाव परिणाम के बाद मिनिस्‍ट्री़ ऑफ हाउसिंग एंड अर्बन पॉवरिटी एलिवेशन ने गाइडलाइंस जारी कर दी है, लेकिन गाइडलाइंस में साफ तौर पर लिखा है कि यह स्‍कीम 31 दिसंबर को समाप्‍त हो जाएगी।
     
    एक साल में मिल पाएगा 50 हजार लोगों को लोन ?
     
    प्रधानमंत्री की घोषणा के बाद फाइनेंस मिनिस्‍ट्री ने इसके लिए बजट 2017-18 में केवल एमआईजी को सब्सिडी देने के लिए 1000 करोड़ रुपए का प्रोविजन किया। सब्सिडी स्‍कीम के मुताबिक, एक व्‍यक्ति को अधिकतम 2 लाख रुपए की सब्सिडी दी जाएगी। ऐसे में यदि बजट का प्रोविजन देखा जाए तो 50 हजार लोगों को ही सब्सिडी दी जा सकेगी। लेकिन एक साल, जिसमें भी 3 माह लगभग पूरे हो चुके हैं यानी कि 9 माह में 50 हजार लोगों को सब्सिडी देना संभव है। इसे लेकर सवाल उठने लगे हैं।
     
    प्राइवेट सेक्‍टर की कैपेसिटी नहीं
     
    प्रॉपर्टी कंसलटेंसी फर्म जेएलएल, इंडिया के रिसर्च हेड आशुतोष लिमये ने moneybhaskar.com को बताया कि सरकार की यह स्‍कीम तो बहुत बढि़या है और इसका फायदा भी रियल एस्‍टेट सेक्‍टर को मिलेगा, लेकिन यदि एक साल के भीतर 50 हजार लोगों को सब्सिडी दी जाती है तो देश के प्राइवेट डेवलपर्स की कैपेसिटी नहीं है कि वे इतने कम समय में 50 हजार फ्लैट्स लॉन्‍च कर पाएं। ऐसे में, सरकार के पास एक ही रास्‍ता है कि एमआईजी के लिए सब्सिडी स्‍कीम का समय बढ़ाया जाए। यदि ऐसा नहीं होता है तो बहुत से लोग इस स्‍कीम का फायदा नहीं उठा पाएंगे और बजट राशि का भी पूरा यूज नहीं हो पाएगा।
     
    अगली स्‍लाइड में पढ़ें -एलआईजी/ईडब्‍ल्‍यूएस के लिए 400 करोड़ 

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY