Home » Personal Finance » Property » Updatehome loan subsidy, avail interest subsidy on MIG Flats

PMAY: 200 वर्ग मीटर का फ्लैट खरीदने पर भी मिलेगी सब्सिडी, मिडिल क्‍लास को होगा फायदा

अब 200 वर्ग मीटर (2152 वर्ग फुट) कारपेट एरिया वाला फ्लैट खरीदने पर भी होम लोन पर 2.30 लाख रुपएकी ब्‍याज सब्सिडी मिलेगी

1 of

नई दिल्‍ली. अब 200 वर्ग मीटर (2152 वर्ग फुट) कारपेट एरिया वाला फ्लैट खरीदने पर भी होम लोन पर 2.30 लाख रुपए की ब्‍याज सब्सिडी मिलेगी। वहीं 160 वर्ग मीटर (1722 वर्ग फुट) कारपेट एरिया वाले फ्लैट खरीदने पर होम लोन के ब्‍याज पर 2.35 लाख रुपए की सब्सिडी मिलेगी। दरअसल, सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) के क्रेडिट लिंक्‍ड सब्सिडी स्‍कीम के तहत मिडिल इनकम ग्रुप की कैटेगिरी में बदलाव कर कारपेट एरिया में 33 फीसदी का इजाफा कर दिया है। 

 

PMAY में अब तक किसे मिलती थी सब्सिडी 
मोदी सरकार ने PMAY के तहत मिडिल इनकम ग्रुप को दो कैटेगिरी में बांटा हुआ है। सालाना 6 से 12 लाख रुपए इनकम वाले ग्रुप को एमआईजी-वन और 12 से 18 लाख रुपए सालाना इनकम वाले ग्रुप को एमआईजी-2 कैटेगिरी में शामिल किया गया है। अब तक एमआईजी-वन कैटेगिरी को 120 वर्ग मीटर तक कारपेट एरिया वाले घर खरीदने पर सब्सिडी मिलती थी, जबकि एमआईजी-2 कैटेगिरी के लोगों को 160 वर्ग मीटर तक के कारपेट एरिया वाला घर खरीदने पर सब्सिडी मिलती थी। इसे बढ़ा 150 वर्ग मीटर और 200 वर्ग मीटर कर दिया गया है। 

 

 

क्‍या होगा फायदा 
प्रॉपर्टी कंसल्टैंसी फर्म अनारॉक प्रॉपटी कंसलटेंट्स के चेयरमैन अनुज पुरी ने कहा कि यह एक बेहद महत्‍वपूर्ण कदम है। इससे रियल एस्‍टेट मार्केट पर भी काफी पॉजिटिव असर पड़ेगा। खासकर, टियर-टू और टियर-थ्री शहरों में हाउसिंग सेल्‍स तेजी से बढ़ेगी, क्‍योंकि इन शहरों में लैंड वेल्‍यू कम होने होने के कारण बड़े अपार्टमेंट लोगों की पहुंच के भीतर हैं। 

 

1.68 लाख लोगों को मिला फायदा 

हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स मिनिस्‍टऱ हरदीप पुरी ने एक ट्विट कर जानकारी दी है कि मिनिस्‍ट्री की ओर से एमआईजी की दोनों कैटेगिरी के तहत 11 जून तक 168417 लोगों को 3627.29 करोड़ रुपए की सब्सिडी दी गई है। 

 

 

ब्‍याज दर में कमी से होगा फायदा 

पश्चिमी उत्तर प्रदेश क्रेडाई के उपाध्यक्ष व एबीए कॉर्प के एमडी अमित मोदी का कहना है कि यह सरकार का उठाया हुआ अच्छा कदम है। इस सब्सिडी से मध्यम वर्ग को राहत मिलेगी। साथ ही अमित मोदी ने कहा कि दिल्ली-मुम्बई जैसे महानगरों में मकान खरीदने वालों के लिए 2 लाख या 2.50 लाख की सब्सिडी कोई खास मायने नहीं रखती, लेकिन ब्याज दर में कमी जरूर कुछ राहत देगी। कुल मिलाकर केन्द्र सरकार का यह कदम सराहनीय है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss