बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Property » Updateइन 100 शहरों में बनेंगे एयरपोर्ट, कमाई के साथ आपको होंगे ये फायदे

इन 100 शहरों में बनेंगे एयरपोर्ट, कमाई के साथ आपको होंगे ये फायदे

मोदी सरकार ने उड़े देश का आम नागरिक (उड़ान) शुरू की है।

1 of

नई दिल्‍ली। मोदी सरकार ने उड़े देश का आम नागरिक (उड़ान) शुरू की है। इससे हवाई सफर सस्‍ता करने के साथ-साथ सरकार 100 शहरों में एयरपोर्ट बनाने जा रही है। इससे इन 100 शहरों का कायाकल्‍प हो जाएगा। इस लिस्‍ट में आपका शहर भी हो तो आप के लिए कई के साथ-साथ कई तरह के फायदे मिलेंगे। आपके शहर में एयरपोर्ट बनने के बाद आप कई तरह के बिजनेस शुरू कर सकते हैं।

 

जैसे कि आप टूरिज्‍म, होटल-मोटल, टैक्‍सी सर्विस सहित वे सभी बिजनेस शुरू कर सकते हैं, जो एयरपोर्ट के आसपास होते हैं। वहीं, आपके शहर में प्रॉपर्टी की कीमतें बढ़ने लगेंगी। शहर का डेवलपमेंट होगा और फ्रास्‍ट्रक्‍चर में सुधार होगा, जिससे आपका लिविंग स्‍टैंडर्ड बढ़ जाएगा। 

 

क्‍या कहते हैं एक्‍सपर्ट्स 

इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर एक्‍सपर्ट एवं फीडबैक इंफ्रा के चेयरमैन विनायक चटर्जी का कहना है कि जिन शहरों में एयरपोर्ट्स बनने हैं, उनमें लैंड प्राइस में अचानक उछाल आया है। साथ ही, सर्विस सेक्‍टर में जॉब्‍स और टूरिज्‍म की संभावनाएं बढ़ी हैं। रियल एस्‍टेट सर्च वेबसाइट मकान डॉट कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, एयरपोर्ट के कारण इन शहरों में रियल एस्‍टेट बिजनेस बढ़ रहा है और ये शहर गेम चेंजर साबित होंगे। 

 

इन शहरों में खुलेंगे एयरपोर्ट 
सिविल एविएशन मिनिस्‍ट्री के मुताबिक गोवा में मोपा, महाराष्‍ट्र में नवी मुंबई, शिरडी, सिंद्धु दुर्ग, कर्नाटक में शिमोगा, हसन, गुलबर्ग, बिजापुर, पश्चिम बंगाल में दुर्गापुर, केरल में कन्‍नूर, मध्‍यप्रदेश में डाबरा, सिक्किम में पकयोंग, पुडुचेरी में कराईकल, उत्‍तर प्रदेश में जेवर, कुशी नगर, गुजरात में धोलेरा, आंध्रप्रदेश में ओरावाकल्‍लू, विशाखापट्टनम के नजदीक भोगापुरम में नए एयरपोर्ट्स को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी गई है। सरकार ने मच्‍छीवाड़ा, लुधियाना, ईटानगर, जमशेदपुर, अलवर और कोठागुडेम में साइट क्लियरेंस दी जा चुकी है। इनमें से कई एयरपोर्ट इंटरनेशनल लेवल के भी होंगे, जहां से इंटरनेशनल फ्लाइट भी चलेंगी। 

 

आगे पढ़ें - और किन शहरों में बनेंगे एयरपोर्ट 

 

 

इन शहरों में बनेंगे एयरपोर्ट 

 

इसके अलावा सरकार ने अनसर्वड या अंडर सर्वड एयरपोर्ट को भी चालू करने जा रही हैं। यहां नए सिरे से इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर भी डेवलप किया जाएगा। ये एयरपोर्ट भटिंडा, शिमला, आगरा, बीकानेर, ग्‍वालियर, कडापा, लुधियाना, नांदेड़, पठानकोट, विधानगर, अंदल (दुर्गापुर), बुर्नपुर, कूच बेहर, जमशेदपुर, राउरकेला, भावनगर, दीव, जाम नगर, आदमपुर, कांडला, कानपुर (चाकेरी), कुल्‍लू (भूंतर), मीठापुर (द्वारका), मुंद्रा, पंत नगर, पुडुचेरी, पोरबंदर, शिलांग (बारापानी), बिलासपुर, जगदलपुर, कोल्‍हापुर, मैसूर, नेयवली, ओजार नासिक, रायगढ़, सालेम, शोलापुर, उतकेला, बिडार, होसूर में हैं। 

 

आगे पढ़ें - किन शहरों में है संभावना 

 

किन शहरों में है संभावना 


केंद्र सरकार अभी उन शहरों की पहचान कर रही है, जहां एयरपोर्ट बनाए जा सकते हैं। पिछले दिनों फिक्‍की और केपीएमजी द्वारा जारी रिपोर्ट में उन शहरों का नाम बताया गया, जिनमें एयरपोर्ट बनाने की संभावना दिखती है। इनमें उत्‍तर प्रदेश के आगरा, इलाहाबाद, कानपुर और बरेली, मध्‍यप्रदेश के ग्‍वालियर, सागर, रेवा व छिंदवाड़ा, आसाम के जोरहाट, लीलाबरी, तेजपुर, धुभरी, झारखंड में जमशेदपुर, दुमका, धनबाद, देवघर और डाल्‍टनगंज, राजस्‍थान के बाड़मेर, बीकानेर, गंगा नगर ( सूरतगढ़), कोटा, जैसलमेर, कार निकोबार, आंध्रप्रदेश के पासीघाट, बिहार के मधुबनी और भागलपुर, हरियाणा के हिसार, महाराष्‍ट्र के अमरावती, ओडि़शा के झारसुगुडा आदि शहर शामिल हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट