Home » Personal Finance » Banking » UpdateHDFC Bank, Paisabazaar partnership crosses Rs.1000 crore loan milestone

एचडीएफसी और पैसा बाजार डॉट कॉम ने बांटा रि‍कॉर्ड 1000 करोड़ का लोन

एचडीएफसी बैंक और पैसाबाजार डॉट कॉम ने आज तक 1000 करोड़ रुपये के असुरक्षित लोन का वितरण किया है।

HDFC Bank, Paisabazaar partnership crosses Rs.1000 crore loan milestone
 
 
गुड़गांव. एचडीएफसी बैंक और पैसाबाजार डॉट कॉम ने आज घोषणा की  है कि आज तक उन्होंने 1000 करोड़ रुपये के असुरक्षित लोन का वितरण किया है। Paisabazaar.com ने अप्रैल, 2015 में एचडीएफसी बैंक के साथ साझेदारी की थी। इसके बाद से एचडीएफसी बैंक के लि‍ए वह प्रमुख वितरकों में से एक बन गया है।  
 
मि‍लकर लाए पेपरलैस पॉलि‍सी 
 
पैसबाजार डॉट कॉम और एचडीएफसी बैंक ने हाल ही में तुरंत और पेपरलेस स्वीकृति प्रक्रिया लॉन्च की है। इस सुवि‍धा के बाद से ग्राहकों को पैसबाजार डॉट कॉम के जरिए एचडीएफसी बैंक की ओर से लागू लोन पर तुरंत स्वीकृति मिलेगी। 
 
और आसान करेंगे लोन लेना 
 
एचडीएफसी बैंक के ग्रुप हेड अरविंद कपिल ने कहा हमारा प्रयास है कि हमारे ग्राहकों को डिजिटल प्‍लेटफाॅर्म का लाभ मि‍ले। एक तो इससे हमारी लोन प्रक्रिया को सरल और तेज़ होगी। वहीं, पैसाबाजार डॉट कॉम तकनीक और नवीनता का उपयोग करते हुए ग्राहकों को लोन देने के लि‍ए एक कुशल और सक्षम प्रणाली बनाने के लि‍ए हमारे साथ मि‍लकर काम कर रहा है। यह बात इससे और स्पष्ट होती है कि‍ हम पार्टनरशि‍प में 1000 कराेड़ रुपए का असुरक्षित लोन दे चुके हैं।  
 
3 साल में बने नंबर वन 
 
पैसाबाजार डॉट कॉम के सीईओ और सह-संस्थापक नवीन कुकरेजा ने कहा, "जब हमने बाजार में कदम रखा तब हम छठे नंबर पर थे। लेकि‍न सि‍र्फ 3 साल में हमने नंबर एक तक का सफर तय कि‍या है और हर साल लगभग 130% की तरक्‍की की है। वहीं, हमारी इस सफलता में एचडीएफसी बैंक का बहुमूल्य योगदान रहा है। टेक्‍नोलॉजी और नयापन लाकर हम भविष्य के लि‍ए इस साझेदारी को मजबूत बनाने पर काम कर रहे हैं।ऐसे में हमारा अगला लक्ष्‍य मार्च 2018 तक एचडीएफसी बैंक के साथ 1500 करोड़ रुपये के लोन के मील के पत्थर तक पहुंचना है। 
 
 
इस साझेदारी को मजबूत बनाते हुए, पैसबाजार और एचडीएफसी बैंक ने क्रेडिट कार्ड और बि‍जनेस लोन, होम लोन, ऑटो लोन और गोल्‍ड लोन जैसे लोन सहि‍त कई सारे उत्पादों पर भी एक दूूूसरे का सहयोग किया है, जि‍सके बाद सभी उत्‍पादों में सफलता मि‍ली है। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट