Home » Personal Finance » Banking » UpdateBenefits, banks provide wealth manager to Salary account holders

सैलरी अकाउंट के 4 फायदे, बैंक की ओर से आपको मिलता है वेल्थ मैनेजर

सैलरी अकाउंट पर मिलने वाले फायदे को बैंक अक्सर नहीं बताते हैं। बैंक सैलरी अकाउंट पर कई तरह के ऑफर देते हैं।

1 of
 
नई दिल्ली। सैलरी अकाउंट, रेगुलर बैंक अकाउंट की तरह ही होता है, जिसमें हर माह आपका एम्पलॉयर आपकी सैलरी डालता है। अगर आपके पास सैलरी अकाउंट है तो आपको इसके साथ मिलने वाले फायदे के बारे में भी पता होगा। हालांकि, सैलरी अकाउंट पर मिलने वाले फायदे को बैंक अक्सर नहीं बताते हैं। बैंक सैलरी अकाउंट पर कई तरह के ऑफर देते हैं। इनमें मुफ्त एटीएम इस्तेमाल करने की सुविधा से लेकर सस्ते बैंक लोन तक की सुविधा होती है। इसके अलावा बैंक क्लासिक सैलरी अकाउंट, वेल्थ सैलरी अकाउंट, बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट अकाउंट-सैलरी और डिफेंस सैलरी अकाउंट की भी सुविधा देते हैं।
 
आइये जानते हैं क्या हैं सैलरी अकाउंट के फायदे...
 
1. बैंक देता है डेडिकेटेड वेल्थ मैनेजर
 
अगर आपके पास बहुत सारा पैसा है तो आप वेल्थ सैलरी अकाउंट भी खोल सकते हैं। इसके तहत बैंक आपको डेडिकेटेड वेल्थ मैनेजर देता है। यह मैनेजर आपके बैंक से जुड़े तमाम काम देखता है।
 
2. फ्री इंटरनेट ट्रांजेक्शन
 
कुछ बैंक पेरोल अकाउंट्स को क्रेडिट कार्ड देने, फ्री इंटरनेट ट्रांजेक्शन, ओवरड्राफ्ट, सस्ते लोन, चेक, पे ऑर्डर व डिमांड ड्राफ्ट की फ्री रेमिटेंस (विदेश से आने वाला पैसा) जैसी सुविधाएं भी देते हैं।
 
आगे की स्लाइड में पढ़िए और क्या-क्या फायदे होते हैं सैलरी अकाउंट के...
 
नोटः तस्वीरों का इस्तेमाल प्रस्तुतीकरण के लिए किया गया है।
 
3. सेविंग अकाउंट में बदलता है सैलरी अकाउंट
 
अगर आपके बैंक को पता चले कि कुछ समय से आपके अकाउंट में सैलरी नहीं आ रही है तो आपको मिली तमाम सुविधाएं वापस ले ली जाती हैं और आपके बैंक अकाउंट को नॉर्मल सेविंग्स अकाउंट की तरह ही जारी रखा जाता है।
 
4. आसानी से ट्रांसफर होता है अकाउंट
 
एक बैंक से दूसरे बैंक में अकाउंट बदलने के लिए भी सैलेरी अकाउंट के मामले में बैंक इसका प्रोसेस आसान रखते हैं। बेशक वे इसमें कुछ शर्तें जरूर रखते हैं।
 
कैसे खुलता है खाता
 
सैलरी अकाउंट खोलने के लिए आप किसी कॉरपोरेट, सरकारी विभाग या पीएसयू  में कार्यरत होने चाहिए और आपकी कंपनी के उस बैंक से सैलेरी अकाउंट रिलेशनशिप होनी चाहिए। इसके साथ ही ग्राहक का उसी बैंक में कोई और खाता नहीं होना चाहिए।
 
 
क्या मिलती हैं अन्य सुविधाएं
 
बैंक आपको पर्सनलाइज्ड चेक बुक देता है, जिसके हर चेक पर आपका नाम छपा होता है। आप बिल भुगतान की सुविधा ले सकते हैं, नहीं तो फोन या इंटरनेट के जरिए पेमेंट्स कर सकते हैं। सेफ डिपॉजिट लॉकर, स्वीप-इन, सुपर सेवर फैसिलिटी, फ्री पेबल-एट-पार चेकबुक, मुफ्त इंस्टाअलर्ट्स, फ्री पासबुक और फ्री ईमेल स्टेटमेंट जैसी सुविधाएं भी बैंक देते हैं।
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss