Home » Personal Finance » Banking » Updatesavings plan of banks you will get more benefit

बैंकों के ये है सेवि‍ंग प्‍लान, आपको ऐसे मि‍लेगा ज्‍यादा फायदा

हर आदमी अपने फ्यूचर को सिक्‍योर करने के लिए किसी न किसी तरह सेविंग करता है।

1 of
नई दि‍ल्‍ली. हर आदमी अपने फ्यूचर को सिक्‍योर करने के लिए किसी न किसी तरह सेविंग करता है। भारत में फ्यूचर सेविंग्‍स का जो तरीका सबसे ज्‍यादा पसंद किया जाता है, वह है एफडी। ज्‍यादातर लोग बैंक एफडी को ही बेस्‍ट मानते हैंं। इसके अलावा कुछ लोग म्‍युचुअल फंड में इन्‍वेस्‍ट करते हैं तो कुछ लोग शेयर खरीदते हैं। वहीं, कुछ लोग पीपीएफ अकाउंट भी खोलते हैं। ऐसे में आरज हम बता रहे हैं कि‍ बैंक में कि‍स तरह पैसा इनवेस्‍ट करेंगे तो आपको ज्‍यादा इनकम हो सकती है।  
 
टैक्‍स फ्री एफडी 
 
कई बैंक ग्राहकों को टैक्‍स फ्री एफडी भी ऑफर कर‍ते हैं। इसके तरह की एफडी पर आपको जो रिटर्न मिलता है उसपर किसी तरह का टैक्‍स नहीं लगता है। हालांकि याद रखें कि हर एफडी पर मिलने वाला रिटर्न टैक्‍स फ्री नहीं होता है। आमतौर पर टैक्‍स फ्री एफडी पर 6 फीसदी के आसपास रिटर्न मिलता है। इसकी लॉकइन अवधि 5 साल होती है। वहीं, आप बीच में इस पैसे को नहीं लिकाल सकते हैं। इसके दो फायदे हैं एक तो आपको सेवि‍ंग अकाउंट से ज्‍यादा ब्‍याज मि‍लता है। दूसरा टैक्‍स में भी आपको छूट मि‍लती है। 
आगे पढ़ें : ऐसे में लगाएं पैसा तो मि‍लेगा ज्‍यादा ब्‍याज 

फ्लेक्‍सी अकाउंट या स्‍वीप इन फैसिलिटी 
 
SBI, बैंक ऑफ इंडिया, HDFC बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, ICICI बैंक, एक्सिस बैंक आदि ज्‍यादातर बैंक अपने सेविंग्‍स अकाउंट होल्‍डर्स को इस तरह की सुविधा दे रहे हैं। आइए आपको बताते हैं कि यह सुविधा क्‍या है और आप कैसे इसका फायदा ले सकते हैं।  
 
आखिर क्‍या है स्‍वीप इन फैसिलिटी?
 
बैंकों में सेविंग्‍स अकाउंट के लिए एक मैक्सिमम डिपॉजिट तय होता है। कई बार कस्‍टमर भी मैक्सिमम अमांउट तय कर सकते हैं। इसके बाद आपके अकाउंट में उससे ज्‍यादा अमाउंट नहीं रह सकता। इस पाबंदी को देखते हुए बैंक सरप्‍लस अमाउंट को FD में कन्‍वर्ट करने की सुविधा देते हैं। इस अमाउंट पर बैंक में FD के लिए तय ब्‍याज दर के हिसाब से ब्‍याज मिलता है। इसे ही स्‍वीप इन फैसिलिटी कहते हैं। 
 
उदाहरण : 
बैंक की सेवि‍ंग अकाउंट लि‍मि‍ट 3,00,000 रुपए है।  
आपके अकाउंट में 4,00,000 रुपए जमा है। 
ऐसे में बैंक आपके 1,00,000 रुपए की एफडी कर देगा। 
 
इसका फायदा यह होगा कि‍ कस्‍टमर को सेविंग्‍स अकाउंट पर तो ब्‍याज मिलता ही रहेगा। इसके साथ ही अतिरिक्‍त राशि पर एफडी का ब्‍याज भी मिलेगा। ऐसे में कस्‍टमर को डबल फायदा होता है। 
PPF 
 
पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) निवेशकों के लिए कई साल से एक पसंदीदा निवेश रहा है। और हो भी क्‍यों न निवेश करने पर टैक्स बेनिफिट मिलता है। वहीं, मेच्योरिटी के समय भी इस पर कोई टैक्स नहीं देना पड़ता। ऐसे में सरकार की गारंटी भी जोड़ दी जाए तो है PPF एक बेमिसाल निवेश। फि‍लहाल इसमें 7.6 फीसदी की दर से ब्‍याज मि‍लता है। इसके अलावा आप पीपीएफ में मि‍नि‍मम 500 रुपए और मैक्‍सि‍मम 1,50,000 रुपए सालाना जमा कर सकते हैं। पीपीएफ चुनि‍ंदा बैंक 
शाखाआेें में खोला जा सकता है।   
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट