बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Banking » UpdateMDR पर RBI और रिटेलर आमने सामने, आपको उठाना पड़ सकता है खामियाजा

MDR पर RBI और रिटेलर आमने सामने, आपको उठाना पड़ सकता है खामियाजा

रिटेलर्स अब डेबिट कार्ड के लिए नए एमडीआर चार्ज के विरोध में लामबंद हो गए हैं।

1 of

नई दिल्‍ली। 6 दिसंबर को जब रिजर्व बैंक ने डेबिट कार्ड के लिए एमडीआर चार्ज में बदलाव किया तो माना जा रहा था कि 1 जनवरी से कैशलेस ट्रांजैक्‍शन सस्‍ता हो जाएगा और रिटेलर कैशलेस ट्रांजैक्‍शन को प्रमोट करेंगे। लेकिन रिटेलर्स अब डेबिट कार्ड के लिए नए एमडीआर चार्ज के विरोध में लामबंद हो गए हैं। उनका कहना है कि अब तक डेबिट कार्ड पर एमडीआर चार्ज 0.5 फीसदी था जिसे बढ़ा कर 0.9 फीसदी कर दिया गया है। इससे उनकी लागत बढ़ जाएगी। 

 

एमडीआर चार्ज पर क्‍यों है कन्‍फ्यूजन 

 

रिजर्व बैंक ने नोटबंदी के बाद कैशलेस ट्रांजैक्‍शन को बढ़ावा देने के लिए दिसंबर 2016 में डेबिट कार्ड के लिए एमडीआर चार्ज 1,000 रुपए तक के ट्रांजैक्‍शन पर 0.25 फीसदी और 1,000 रुपए से 2000 रुपए तक के ट्रांजैक्‍शन पर एमडीआर चार्ज 0.5 फीसदी कर दिया था। इससे पहले रिजर्व बैंक  के 2012 के सर्कुलर के अनुसार डेबिट कार्ड के लिए एमडीआर 2000 रुपए तक के ट्रांजैक्‍शन पर 0.75 फीसदी और 2,000 रुपए से अधिक के ट्रांजैक्‍शन के लिए 1 फीसदी तय किया था। 

 

रिटेलर इसलिए एमडीआर चार्ज का कर रहे हैं विरोध 

 

रिटेलर नए एमडीआर चार्ज को नोटबंदी के बाद तय किए गए एमडीआर चार्ज से तुलना कर रहे हैं और इसके आधार पर एमडीआर चार्ज को बढ़ा हुआ बता रहे हैं। रिटेलर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के प्रेसीडेंट सी राजगोपालन ने moneybhskar.com को बताया कि पहले डेबिट कार्ड पर एमडीआर 0.5 फीसदी था जिसे आरबीआई ने बढ़ा कर 0.9 फीसदी कर दिया है। इससे हमारी लागत बढ़ जाएगी। उन्‍होंने कहा कि हम इस मसले पर रिजर्व बैंक और वित्‍त मंत्रालय में अपना पक्ष रखेंगे। 

 

आपके लिए एमडीआर चार्ज क्‍यों है अहम 

 

अगर आप डेबिट कार्ड से कैशलेस ट्रांजैक्‍शन करते हैं तो आपके लिए यह जानना जरूरी है कि एमडीआर चार्ज आपके लिए नहीं है। रिजर्व बैंक ने साफ किया है कि एमडीआर चार्ज रिटेलर या दुकानदार को डेबिट कार्ड ट्रांजैक्‍शन पर देना होता है। रिजर्व बैंक के सर्कुलर में कहा गया है कि दुकानदार या रिटेलर एमडीआर चार्ज कस्‍टमर से  नहीं वसूल  सकते हैं। यानी वे डेबिट कार्ड ट्रांजैक्‍शन पर आपसे कोई शुल्‍क नहीं ले सकते हैं। 

 

तमाम रिटेलर एमडीआर के नाम पर लेते हैं 2 फीसदी चार्ज 

 

बड़े पैमाने पर दुकानदार या रिटेलर एमडीआर चार्ज के नाम पर डेबिट कार्ड ट्रांजैक्‍शन करने वालों से 2 फीसदी चार्ज लेते हैं। उनका कहना है कि उनको यह पैसा बैंक को देना होता है । आम लोगों को रिजर्व बैंक के नियम की जानकारी नहीं होती है और वे 2 फीसदी चार्ज दे देते हैं। ऐसे में अगर आपसे कोई डैबिट कार्ड ट्रांजैक्‍शन पर ट्रांजैक्‍शन चार्ज के नाम पर कोई राशि मांगता है तो आप न दें।

आगे पढें- क्‍या है नया एमडीआर चार्ज 

 

 

क्‍या है नया एमडीआर चार्ज 

रिजर्व बैक ने अब टर्नओवर के आधार पर डेबिट कार्ड के लिए एमडीआर चार्ज किया है। अब 20 लाख रुपए तक सालना टर्नओवर वालों के लिए एमडीआर 0.40 फीसदी तय किया हैं वहीं इससे ज्‍यादा टर्नओवर वालों के लिए 0.9 फीसदी है। 20 लाख तक टर्नओवार वालों के लिए प्रति ट्रांजैक्‍शन एमडीआर 200 रुपए से ज्‍यादा नहीं होगा वहीं 20 लाख से अधिक टर्नओवर वालों के लिए एमडीआर प्रति ट्रांजैक्‍शन 1,000 रुपए से ज्‍यादा नहीं होगा। नया एमडीआर चार्ज 1 जनवरी, 2018 से लागू होगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट