बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Banking » Updateरिजर्व बैंक की वार्निंग, इन 4 वजहों से देश में भड़क सकती है महंगाई

रिजर्व बैंक की वार्निंग, इन 4 वजहों से देश में भड़क सकती है महंगाई

रिजर्व बैंक ने मोदी सरकार को राजकोषीय घाटा बढ़ने को लेकर चेतावनी दी है।

1 of

नई दिल्‍ली. रिजर्व बैंक ने मोदी सरकार को राजकोषीय घाटा बढ़ने को लेकर चेतावनी दी है। रिजर्व बैंक ने कह है कि हाल में मोदी सरकार और राज्‍य सरकारों ने ऐसे कई कदम उठाएं हैं जिससे राजकोषीय घाटा बढ़ने का खतरा है और इससे महंगाई भड़क सकती है। मोदी सरकार राजकोषीय घाटे के मोर्चे पर पहले से दबाव में है। वित्‍त वर्ष 2017 18 के पहले सात माह में ही राजकोषीय घाटा लक्ष्‍य के 96 फीसदी के स्‍तर पर पहुंच गया है। मोदी सरकार ने मौजूदा वित्‍त वर्ष में राजकोषीय घाटा जीडीपी का 3.2 फीसदी तक रखने का लक्ष्‍य तय किया है।  

 

#1. राज्‍यों में किसानों की कर्ज माफी 

 

रिजर्व बैंक ने पांचवी मॉनिटरी पॉलिसी स्‍टेटमेंट में कहा है कि देश के कई राज्‍यों ने किसानों का कर्ज माफ किया है। इससे राजकोषीय मोर्चे पर दबाव बढ़ेगा और इससे महंगाई बढ़ सकती है। उत्‍तर प्रदेश, महाराष्‍ट्र सहित देश के कई राज्‍यों ने किसानों का कर्ज माफ किया है या कर्ज माफ करने का वादा किया है। उत्‍तर प्रदेश और महाराष्‍ट्र में किसानों की कर्ज माफी के बाद पंजाब सरकार पर भी किसानों का कर्ज माफ करने का दबाव है। पंजाब सरकार ने इसके लिए एक कमेटी का गठन किया है। वहीं गुजरात विधानसभा के चुनाव में कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में किसानों का कर्ज माफ करने का वादा किया है। आने वाले समय में हर विधानसभा चुनाव में किसान का कर्ज माफ करने का वादा एक ट्रेंड बना रह सकता है। रिजर्व बैंक पहले भी इससे महंगाई बढ़ने को लेकर सरकारों को आगाह कर चुका है। 

 

सस्ते कर्ज के लिए करना होगा इंतजार: RBI ने नहीं घटाया इंटरेस्ट रेट, रेपो रेट 6% पर बरकरार

 

#2. पेट्रोलियम उत्‍पादों पर एक्‍साइज ड्यूटी और वेट में कटौती 

 

पिछले कुछ माह के दौरान पेट्रोलियम की कीमतों में इजाफा होने के बाद केंद्र सरकार ने डीजल और पेट्रोल पर प्रति लीटर 2 रुपए पति लीटर एक्‍साइज ड्यूटी कम की है। इसके अलावा कुछ राज्‍यों ने भी पेट्रोलियम  उत्‍पादों पर वैट कम किया है। इससे भी सरकार का राजस्‍व कम होगा और राजकोषीय घाटा बढ़ेगा। इससे महंगाई पर दबाव और बढ़ने का खतरा है। 

 

#3. GST रेट में कटौती 

 

केंद्र सरकार ने हाल में 170 से ज्‍यादा आयटमों पर जीएसटी रेट में कटौती की है। इससे सरकार को जीएसटी के तौर पर कम राजस्‍व मिलेगा। इससे भी राजकोषीय घाटा बढ़ेगा और महंगाई बढ़ने का खतरा बढ़ जाएगा। 

 

#4. बढ़ रही है लागत 

 

रिजर्व बैंक ने अपने सर्वे में पाया है कि इनपुट कास्‍ट यानी लगत बढ़ रही है। इसकी वजह से मैन्‍यूफैक्‍चरिंग कंपनियों के उत्‍पादों की लागत बढ़ी है। इसका असर उत्‍पादों की कीमतों पर भी आएगा और  इससे कम अवधि में खुदरा महंगाई बढ़ने का खतरा है। 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट