बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Banking » Updateबैंक हड़ताल का दूसरा दिन: डिपॉजिट, FD रिन्‍यूअल से लेकर कई सेवाओं पर पड़ा असर, सैलरी मिलना भी मुश्किल

बैंक हड़ताल का दूसरा दिन: डिपॉजिट, FD रिन्‍यूअल से लेकर कई सेवाओं पर पड़ा असर, सैलरी मिलना भी मुश्किल

पीएसयू बैंकों के लगभग 10 लाख बैंककर्मियों की हड़ताल लगातार दूसरे दिन जारी है।

1 of

नई दिल्‍ली. सरकारी बैंकों के लगभग 10 लाख बैंककर्मियों की हड़ताल गुरुवार को लगातार दूसरे दिन जारी है। इससे देश भर में बैकिंग सेवाएं प्रभावित हुई हैं। बैंककर्मी इंडियन बैंक एसोसिएशन द्वारा सिर्फ 2 फीसदी इन्‍क्रीमेंट की पेशकश के विरोध में हड़ताल पर हैं। बैक कर्मियों के यूनियन यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंकिंग यूनियंस की ओर से बुलाई गई हड़ताल का यह आखिरी दिन है। शुक्रवार से पीएसयू बैंकों में कामकाज सामान्‍य होने की उम्‍मीद है। 

 

यूएफबीयू ने हड़ताल होने का किया दावा 

यूएफबीयू ने दावा किया है कि हड़ताल पूरी तरह से सफल रही है। सभी बैंकों की सभी शाखाओं में कर्मचारी हड़ताल में शामिल हैं। यूएफबीयू को विभिन्‍न राज्‍यों और सेंटर्स जैसे मुंबई, दिल्‍ली, कोलकाता, चेन्‍नई, बंगलुरू, हैदराबाद, अहमदाबाद, जयपुर, पटना, नागपुर, जम्‍मू, गुआहाटी, जमशेदपुर, लखनऊ, आगरा, अंबाला और त्रिवेंदम से रिपोर्ट मिली है। रिपोर्ट के मुताबिक सभी बैंकों के शाखाओं में कर्मचारियों ने उत्‍साह के साथ हड़ताल में भाग लिया। देशभर में 21 पीएसयू बैंकों में लगभग 85,000 शाखाएं हैं और इनमें कुल बैंकिंग बिजनेस की हिस्‍सेदारी लगभग 70 फीसदी है। 

 

प्राइवेट बैंकों में काम-काज है सामान्‍य 

प्राइवेट बैंकों जैसे आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक में बैंकिंग काम काज लगभग सामान्‍य है। चेक क्लियरेंस सहित सिर्फ कुछ बैकिंग गतिविधियों पर असर पड़ा है। ऐसे में अगर आपका सैलरी अकाउंट प्राइवेट बैकों में है तो आप आज आपके अकाउंट में सैलरी आ सकती है वहीं अगर आपका सैलरी अकाउंट पीएसयू बैंकों में है तो आपको सैलरी के लिए शुक्रवार तक इंतजार करना पड़ सकता है। कई कंपनियां महीने की 30 या 31 तारीख को सैलरी अकाउंट में ट्रांसफर करती हैं। 

 

डिपॉजिट से लेकर एफडी रिन्‍यूअल तक पर असर 

बैंकिंग सेक्‍टर से जुड़े सूत्रों ने बताया कि हड़ताल की वजह से बैकिंग ऑपरेशन जैसे डिपॉजिट, बैकिंग रिन्‍यूअल, सरकारी खजाने से जुड़े ऑपरेशन, या शेयर बाजार से जुड़ी सेवाओं पर असर पड़ा है। आज सैलरी डे होने से पीएसयू बैंकों में लोगों को आज सैलरी नहीं मिल पाएगी। 

 

इसलिए खफा हैं बैंक यूनियन्‍स 

बैंक कर्मचारियों के वेतन में नवंबर 2017 के बाद से बढ़ोत्‍तरी नहीं हुई है। डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंशियल सर्विसेज, वित्‍त मंत्रालय और भारत सरकार की ओर से IBA को बैंक कर्मचारियों के वेतन में जल्‍द बढ़ोत्‍तरी के लिए दो बार लेटर लिखा था। लेकिन IBA ने बातचीत की प्रक्रिया में देरी की और मीटिंग के 10 राउंड में केवल मैनेजमेंट और नॉन-फाइनेंशियल मुद्दों पर चर्चा की गई। उसके बाद 5 मई 2018 की मीटिंग में IBA ने केवल 2 फीसदी की वेतन वृद्धि का प्रस्‍ताव रखा, जिसे बैंक यूनियन्‍स ने अस्‍वीकार कर दिया। इसके बाद उन्‍होंने 30 और 31 मई को राष्‍ट्रव्‍यापी हड़ताल का फैसला लिया। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट