Home » Personal Finance » Banking » UpdatePF data leak : know how you can check your PF ac

चोरी हो रहा है आपका PF डाटा, चेक कर लें अपना पीएफ अकाउंट

कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन EPFO के करोड़ों मेंबर्स के लिए बुरी खबर है। ईपीएफओ मेंबर्स का पर्सनल डाटा चोरी हो रहा है।

1 of

नई दिल्‍ली। कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन EPFO के करोड़ों मेंबर्स के लिए बुरी खबर है। ईपीएफओ मेंबर्स का पर्सनल डाटा चोरी हो रहा है। ईपीएफओ ने डाटा चोरी को लेकर इन्‍फॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी मिनिस्‍ट्री को पत्र लिखकर इसकी जांच करने और सिस्‍टम को मजबूत करने की मांग की है जिससे ईपीएफओ मेंबर्स का डाटा सिक्‍योर रहे। पत्र की कॉपी moneybhaskar के पास है।

 

 

हैकर्स ने चुराया PF डाटा 

 

ईपीएफओ के सेंट्रल पीएफ कमिश्‍नर वीपी जॉय ने आईटी मिनिस्‍ट्री को लिखे पत्र में कहा है कि ईपीएफओ की वेबसाइट aadhaar epfoservices.com में खामियों की वजह से हैकर्स ने डाटा चुरा लिया है। ऐसा वेबसाइट में तकनीकी खामियों और बैैकडोर शेल्‍स में कमजोरी की वजह से हुआ है। डाटा चोरी के मामले को देखते हुए इंटेलीजेंस ब्‍यूरो ने कॉन्फिडेंशियल डाटा को सुरक्षित रखने के लिए बेस्‍ट प्रैक्टिसेज और गाइडलाइंस का पालन करने की सलाह दी है।  

 

कॉमन सर्विस सेंटर पर नहीं मिलेगी ईपीएफओ की कोई सर्विस 

 

डाटा चोरी के मद्देनजर अब कॉमर्स सर्विस सेंटर पर ईपीएफओ ने अपनी सेवाएं देना बंद कर दिया है। ऐसे में अब ईपीएफओ मेंबर्स या पेंशनर्स कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर ईपीएफओ से जुड़ा अपना कोई काम नहीं करा पाएंगे।

 

EPFO ने कहा, उसके डाटा सेंटर से नहीं लीक हुआ है डाटा 

 

वहीं लेबर मिनिस्‍ट्री की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि ईपीएफओ के डाटा सेंटर से कोई डाटा लीक नहीं हुआ है। इसलिए चिंता की कोई बात नहीं है। ईपीएफओ मेंबर्स के डाटा को सुरक्षित रखने के लिए सतर्क है और हर संभव कदम उठा रहा है। 

 

आधार डाटा है सुरक्षित 

 

इस बीच यूआईडीएआई की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि ईपीएफओ की वेबसाइट aadhaar epfoservices.com का यूआईडीएआई से कोई संबध नहीं है। आधार डाटा कहीं भी लीक नहीं हुआ है। आधार डाटा पूरी तरह से सुरक्षित है। 

 

 

सिस्‍टम को मजबूत बनाने की जरूरत 

 

आईबी ने डाटा को सुरक्षित रखने के लिए सक्षम ऑडीटर्स और टेस्‍टर्स से पूरे सिस्‍टम का नियमित तौर पर ऑडिट और वनरेबिलिटी असेसमेंट एंड पेनेट्रेशन टेस्टिंग कराने पर जोर दिया है। aadhaar epfoservices.com नेशनल डाटा सेंटर के सर्वर पर चल रहा था। इस सर्वर पर चलने वाले एप्‍लीकेशन को दूर दराज के इलाकों में कॉमन सर्विस सेंटर टीम  मैनेज कर रही है। फिलहाल ईपीएफओ ने इस सर्वर पर दी जाने सभी सर्विसेज को रोक दिया है। 

 

 

खामियां दूर करे टेक्निकल टीम 

 

वीपी जॉय ने पत्र में लिखा है कि aadhaar epfoservices.com में मौजूद खामियों को दूर करने के लिए एक्‍सपर्ट टेक्निकल टीम तैनात की जाए। इसके अलावा डाटा को सिक्‍योर  करने के लिए आईबी के दूसरे सुझावों को लागू किया जाए। आगे पढ़ें - EPFO मेंबर्स के लिए क्‍यों है बुरी खबर 

 

 

EPFO मेंबर्स के लिए क्‍यों है बुरी खबर 

 

ईपीएफओ के डाटा बेस में ईपीएफओ मेंबर्स का पर्सनल डाटा जैसे आधार नंबरमोबाइल नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, मेल आईडी सहित दूसरी डिटेल होती हैं। अगर आपकी यह पर्सनल डिटेल चोरी हो जाती है तो इसका मिसयूज हो सकता है। इन डिटेल के आधार पर कोई आपके पीएफ अकाउंट से विद्ड्राअल का प्रयास भी कर सकता है। हाल में ईपीएफओ ने ऑनलाइन पीएफ क्‍लेम में धोखाधड़ी के खतरों पर अंकुश के लिए कदम उठाए हैं। 

 

कॉमन सर्विस सेंटर पर क्‍यों जाते हैं ईपीएफओ मेंबर्स 

 

ईपीएफओ मेंबर्स कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर ऑनलाइन क्‍लेम फाइल करने सहित तमाम ऑनलाइन सेवाओं का फायदा उठा सकते हैं। इसके अलावा ईपीएफओ के पेंशनर्स कॉमर्स सर्विस सेंटर पर जाकर लाइफ सर्टफिकेट जीवन प्रमाण सबमिट करा सकते हैं। पेंशनर्स के लिए ऐसा करना जरूरी होता है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट