Utility

24,712 Views
X
Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

US में H-1B वीजा होल्डर्स के स्पाउस को नहीं मिलेगी जॉब, इंडियंस को झटका देने की तैयारी हर तीसरे ऑनलाइन शॉपिंग करने वाले को मि‍ल रहा है नकली सामान, सर्वे में खुलासा क्रूड की कीमतें 3 साल में पहली बार 75 डॉलर के पार, पेट्रोल-डीजल की कीमतें आसमान पर Jio और Airtel भारत में लॉन्‍च करेंगे एप्‍पल वॉच सीरीज-3, 4 मई से शुरू होगी प्री बुकि‍ंग रेमि‍टेंस हासि‍ल करने में टॉप पर भारत, दूसरे नंबर पर रहा चीन इस बैंक ने 18 माह में 1 लाख को बनाया 1.80 लाख, आगे भी कमाई का मौका तीन फॉर्मूलों से गन्‍ना कि‍सानों को राहत देगी सरकार, जीओएम में हुई चर्चा मंगलवार के लिए इंट्राडे टिप्स, इन शेयरों में मिल सकता है अच्छा रिटर्न खास खबरः जो काम अंबानी और बिड़ला नहीं कर पाए, वो TCS ने ऐसे कर दिखाया सेंसेक्स में 149 अंकों की तेजी, निफ्टी 10600 के पार, हिंडाल्को 8.50 फीसदी टूटा चीन की ये कंपनी लाई सस्‍ते टीवी का ऑफर, 13999 रुपए में मि‍लेगा Smart TV ​रुपए में थमी गिरावट , 5 पैसे मजबूत होकर 66.42 के भाव पर खुला यूपी और बिहार की वजह से भारत पि‍छड़ा, नीति‍ आयोग के सीईओ कांत का बयान खोलना चाहते हैं रिलायंस और एस्‍सार का पेट्रोल पंप, ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन मोदी देना चाहते हैं 'जहां झुग्‍गी-वहीं मकान', पर गुजरात को छोड़कर दूसरे राज्‍यों ने बनाई दूरी
बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Banking » Updateबैंक में जमा 30 % पैसा ही इन्श्योर्ड, RBI रिपोर्ट में खुलासा

बैंक में जमा 30 % पैसा ही इन्श्योर्ड, RBI रिपोर्ट में खुलासा

 
नई दिल्ली. देश के सभी तरह के बैंकों में जमा कुल 103 लाख करोड़ रुपए में से 29.5 फीसदी रकम ही इन्श्योर्ड है। इस बात का खुलासा आरबीआई की एक रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार सितंबर 2017 तक बैंकों में कुल 103 लाख करोड़ रुपए जमा हैं, जिसमें से 30.50 लाख करोड़ रुपए ही इन्श्योर्ड है। यानी अगर देश के बैंक डूब जाते हैं, तो उस हालत में 103 लाख करोड़ रुपए डिपॉजिट में 30.50 लाख करोड़ रुपए उनके जमाकर्ताओं को मिल पाएंगे। बाकी की रकम उन्हें नहीं मिलेगी। ऐसा इसलिए है क्योंकि अभी बैंकों में जमा रकम पर सरकार एक लाख रुपए तक की इन्श्योरेंस गारंटी देती है।

 
 
अभी क्या है नियम
मौजूदा फाइनेंशियल रिजॉल्युशन एंड डिपॉजिट इन्श्योरेंस कानून के मुताबिक अगर कोई भारतीय बैंक डूब जाता है, तो उसके कस्टमर को बैंक में  रखा पूरा पैसा नहीं मिलेगा । उसके बदले आपको एक लाख रुपए मिलेंगे। यानी भले ही बैंक में आपने एक लाख रुपए से ज्यादा पैसे रखे हो पर डूबने की स्थिति में केवल एक लाख मिलेंगे। हालांकि अगर बैंक में आपके एक लाख रुपए तक जमा है, तब आपको एक लाख रुपए तक की रकम मिल जाएगी। सरकार फाइनेंशियल रिजॉल्युशन एंड डिपॉजिट इन्श्योरेंस बिल का प्रस्ताव लेकर आई है, जिसके तहत इस लिमिट में बदलाव करने के केंद्र सरकार ने संकेत दिए हैं।
 
 
आरबीआई रिपोर्ट क्या कहती है
रिपोर्ट के अनुसार देश में पब्लिक सेक्टर, प्राइवेट, फॉरेन, रिजनल रुरल बैंक, को-ऑपरेटिव और लोकल एरिया कैटेगरी के कुल 2125 बैंक हैं। जिनमें सितंबर 2017 तक 103531 अरब रुपए यानी करीब 103 लाख करोड़ रुपए जमा है। इसमें से 29.5 फीसदी रकम इन्श्योर्ड है। यानी 30508 अरब रुपए अकाउंट होल्डर्स को बैंक डूबने की स्थिति में मिल जाएंगे। 
 
बैंक                         कुल जमा रकम                   इन्श्योर्ड रकम                     इन्श्योर्ड रकम (फीसदी में)
                        
पब्लिक सेक्टर बैंक             65724 अरब                 20678   अरब                           31.5%
                            
प्राइवेट सेक्टर बैंक              22202 अरब               4198 अरब                                       18.9%
 
फॉरेन बैंक                            5062 अरब               136 अरब                                        2.7 %
 
आरआरबी                             3041 अरब              1885 अरब                                      62.0%
 
को-ऑपरेटिव बैंक                   7496 अरब                  3608 अरब                                 48.1%
 
लोकल एरिया बैंक                      600 करोड़                    300 करोड़                               50 %
 
इन आंकड़ों से साफ है कि आरआरबी, कोऑपरेटिव और लोकल एरिया बैंक में ज्यादातर कस्टमर ऐसे हैं, जिनकी जमा पूंजी इन बैंकों में एक लाख रुपए तक है। जबकि पब्लिक सेक्टर बैंक और प्राइवेट सेक्टर और फॉरेन बैंक में ऐसे कस्टमर्स की संख्या ज्यादा है, जिन्होंने एक लाख रुपए से ज्यादा बैंकों में जमा कर रखा है।
 
दूसरे देशों की तुलना में भारत में कस्टमर को कम मिलती है गारंटी
 
एसबीआई द्वारा डिपॉजिट इन्श्योरेंस पर तैयार की गई रिपोर्ट के अनुसार  बैंक अकाउंट पर अपने कस्टमर की जमा रकम की सबसे ज्यादा सुरक्षा ब्राजील, अमेरिका, फ्रांस जैसे देशों में है। भारत इस मामले में सभी प्रमुख देशों की तुलना में काफी पीछे है। रिपोर्ट के अनुसार अगर दूसरे देशों के पैटर्न की तुलना की जाय और उसे भारत में लागू किया जाय, तो बैंक कस्टमर्स को एक लाख की जगह 3.5 लाख रुपए का इन्श्योरेंस कवर मिलना चाहिए। रिपोर्ट के अनुसार एक लाख रुपए का इन्श्योरेंस कवर 1993 के आधार पर है। मौजूदा प्रति व्यक्ति आय और बैंको में  जमा रकम को देखते हुए सरकार को 3.5 लाख रुपए का इन्श्योरेंस कवर मिलना चाहिए
 
 

देश

गारंटी इंडीकेटर

ब्राजील

7.4

यूएसए

4.4

ऑस्ट्रेलिया

3.7

इटली

3.6

फ्रांस

3.0

यू.के

2.8

भारत

0.9

 
नोट- गारंटी इंडीकेटर डिपॉजिट इन्श्योरेंस कवरेज और प्रति व्यक्ति आय से तुलना के आधार पर तैयार किया गया है।

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Trending

NEXT STORY

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.