बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Banking » Updateमुकेश अंबानी की बहू का नीरव मोदी से है खास कनेक्‍शन, जानिए हकीकत

मुकेश अंबानी की बहू का नीरव मोदी से है खास कनेक्‍शन, जानिए हकीकत

चर्चा पर यकीन करें तो मुकेश अंबानी के बड़े बेटे आकाश अंबानी जल्‍द ही शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं।

1 of

नई दिल्‍ली।  अगर मीडिया में हो रही चर्चा पर यकीन करें तो मुकेश अंबानी के बड़े बेटे आकाश अंबानी जल्‍द ही शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं। उनकी शादी हीरा कारोबारी और रोजी ब्लू के ओनर रसेल मेहता की बेटी श्लोका मेहता से होने जा रही है। मीडिया में यह भी दावा किया जा रहा है कि बैंक फ्रॉड में फंसे नीरव मोदी, रसेल मेहता के रिश्‍तेदार हैं। तो आइए जानते हैं कि आखिर नीरव मोदी से मुकेश अंबानी के होने वाले संबंधी के क्‍या रिश्‍ते हैं।    


दिसंबर में हो सकती है शादी 


खबर है कि आकाश और श्‍लोका की शादी इस साल दिसंबर में हो सकती है। यह भी दावा है कि 24 मार्च को दोनों की सगाई हो सकती है। फिलहाल इस बारे में न तो अंबानी परिवार और न ही मेहता परिवार की ओर से अभी तक कुछ कहा गया है।  

 

नीरव मोदी से क्‍या कनेक्‍शन 

दरअसल, मुकेश अंबानी की होने वाली बहू श्‍लोका की मां मोना मेहता से नीरव मोदी का कनेक्‍शन है। मोना मेहता के भाई यानी श्‍लोका के मामा मयंक मेहता की शादी नीरव मोदी की बहन पूर्वी से हुई है। यानी पूर्वी, श्‍लोका की मामी हुईं। 

 

मुकेश अंबानी से भी नीरव मोदी का नाता 

 

विवादों में फंसे नीरव मोदी का संबंध अंबानी परिवार से भी है। मुकेश और अनिल अंबानी की भांजी इशिता सलगांवकर की शादी नीरव मोदी के छोटे भाई नीशाल मोदी से हुई है। इशिता मशहूर बिजनेसमैन दत्ताराज सलगांवकर और दीप्ति सलगांवकर की बेटी हैं और दीप्ति, धीरूभाई अंबानी की बेटी हैं। 

 

कौन है नीरव मोदी 

 

पीएनबी में हुए 11,300 करोड़ रुपए के फ्रॉड के बाद डायमंड मर्चेंट नीरव मोदी सुर्खियों में हैं। बताया जा रहा है कि इस शख्स ने कुछ ऐसे हजारों करोड़ का खेल कर दिया, जिसकी वर्षों तक बैंक और सरकार को हवा तक नहीं लगी। इसकी चपेट में अब कई दूसरे बैंक भी आ गए हैं।आगे भी पढ़ें.... 

 

 

काफी रोचक है मोदी का सफर

 

47 साल के नीरव को दुनिया के सबसे बड़े डायमंड ज्वैलरी डिजाइनर माना जाता है। डायमंड से इनको बचपन से ही लगाव था। इनका परिवार भी डायमंड के ही कारोबार में है। बचपन से ही मोदी अपने पिता के साथ डायमंड कटिंग से लेकर हर तरह के डिजाइनिंग हुनर को बारीकी से समझते थे। बाद में इनको पढ़ाई लिखाई के लिए विदेश भेजा गया। मोदी ने पेंसिलवेनिया में फाइनेंस की पढ़ाई शुरू की थी, लेकिन एक साल बाद ही मोदी ने इसे छोड़ कर बिजनेस में हाथ अजमाने का मन बनाया। 1990 में मोदी मुंबई आए, जहां उनके चाचा डायमंड के कारोबारी थे। मोदी ने इनके साथ काम शुरू किया।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट