बिज़नेस न्यूज़ » Insurance » Motor Insuranceकार इंश्‍योरेंस नहीं लेने की चुकानी पड़ सकती है कीमत , चोरी या हादसे में होगा बड़ा नुकसान

कार इंश्‍योरेंस नहीं लेने की चुकानी पड़ सकती है कीमत , चोरी या हादसे में होगा बड़ा नुकसान

हर किसी का सपना कार लेने का होता है।

1 of

नई दिल्‍ली... हर किसी का सपना कार लेने का होता है। यही वजह है कि जो लोग कार लेते हैं वो चोरी या हादसे जैसी घटना के डर से बेहद संजो कर रखते हैं। दरअसल, इस बात की चिंता रही है कि कार के गुम हो जाने या एक्‍सीडेंट हो जाने की स्थिति में बड़ा नुकसान हो जाएगा।  लेकिन अगर आपने अपनी कार का इंश्‍योरेंस करा लिया है तो यकीन मानिए आपका यह डर खत्‍म हो जाएगा। आप इस इंश्‍योरेंस के जरिए यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आपकी कार की चोरी हो जाए या दुर्घटना का शिकार हो जाए तो इसमें हुए नुकसान की भरपाई हो जाएगी। 

 

क्‍या होता है कार इंश्‍योरेंस 


कार इंश्‍योरेंस आपको अपनी कार की सुरक्षा प्रदान करने का पुरा मौका देता है। इश्‍योरेंस होने पर आप किसी भी अपात दुर्घटना या फिर अन्‍य किसी तरह के कार के नुकसान के दौरान कंपनी को इंश्‍योरेंस क्‍लेम कर सकते हैं। जिसके बदले में आपकी इंश्‍योरेंस कंपनी आपकी कार में हुए नुकसान के अनुसार आप राशि प्रदान करती है। यह एक प्रोसेस के आधार पर होता है।

 

 

कार बीमा में ये आता है 
1. नेचुरल डिजास्‍टर के कारण क्षति या बर्बादी : आपके नियंत्रण के बाहर की एक्‍सीडेंट जैसे- बिजली कड़कना, भूकंप, बाढ़, तूफान, चक्रवात, आंधी, भू-स्खलन इत्यादि। 
2. मानव निर्मित डिजास्‍टर के कारण क्षति या बर्बादी : मानव निर्मित डिजास्‍टर जैसे- डकैती, चोरी, दंगा, हड़ताल, आतंकवादी गतिविधि, तथा सड़क, रेल या जल परिवहन के समय कोई क्षति। 
3. पर्सनल दुर्घटना कवर : दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु के समय यह आपके परिवार का भविष्य सुरक्षित करता है। यात्रा, कार से सवारी करते समय या निकलते समय ड्राइवर द्वारा किये जाने वाले किसी क्षति के लिए आप 2 लाख तक प्राप्त कर सकते हैं।कुछ कंपनियां साथी पैसेंजर को भी वैकल्पिक दुर्घटना राशि  उपलब्ध कराती हैं।
4. कानून द्वारा अनिवार्य थर्ड पार्टी पॉलिसी आपको आकस्मिक क्षति जिसमें थर्ड पार्टी की स्थायी जख्म या मृत्यु हो जाती है, के विरुद्ध कानूनी दायित्व की रक्षा करती है। यह आस-पास की संपत्ति की क्षति को भी कवर करता है।

 

थर्ड पार्टी इंश्योरेंस
 
कार का थर्ड पार्टी इंश्योरेंस लेना तब जरूरी होता है जब आप सेकेंड हैंड कार खरीदते हैं। थर्ड पार्टी इंश्‍योरेंस में आपके वाहन से किसी इंसान या संपत्ति के नुकसान होने पर कवर मिलता है। थर्ड पार्टी इंश्‍योरेंस में इंश्‍योरेंस की गई कार से दुर्घटना हो जाने पर लायबिलिटी अनलिमिटेड होती है। कार से किसी व्‍यक्ति को नुकसान पहुंचने पर क्‍लेम की राशि उसकी उम्र और आय को देखते हुए दी जाती है। वहीं, किसी संपत्ति के नुकसान होने पर अधिकतम 7.5 लाख रुपए का क्‍लेम मिलता है। थर्ड पार्टी इंश्‍योरेंस के साथ व्‍यक्तिगत बीमा होने पर गाड़ी की चोरी या टूट-फूट हो जाने पर शामिल होने पर कार के मालिक या ड्राइवर को शामिल किया जाता है।
 
इंश्‍योरेंस कवर प्राइस
 
थर्ड पार्टी इंश्योरेंस में ओन डैमेज कवर होने पर क्‍लेम की राशि गाड़ी को देखते हुए तय किया जाता है। बीमा कंपनी इंश्योर्ड डिक्लेयर्ड वैल्यू (आईडीवी) का भुगतान तब करता है, जब गाड़ी पूरी तरह से डैमेज हो जाती है या चोरी कर ली जाती है। इस सूरत में आईडीवी की गणना आपके कार की वैल्यू को माइनस कर की जाती है।
 
पहले साल कार की कीमत में 5 फीसदी की कमी आती है। हर साल बीमा कंपनी इंश्योर्ड डीक्‍लेयर्ड वैल्यू को देखते हुए प्रीमियम की गणना करती है। प्लास्टिक और रबर पार्ट पर भी मूल्य में कमी का नियम लागू होता है। एड ऑन कवर लेने पर क्लेम करते वक्‍त कम किया हुआ मूल्य नहीं बल्कि पूरा मूल्य मिलता है।


डेप्रिसिएशन 

जब आप बीमा कंपनी से क्लेम करते हैं तो वह आपके द्वारा मांगी गई रकम से कम देती है। इसको ऐसे समझते हैं कि अगर आपकी गाड़ी की कीमत 20 हजार रुपए है और उसमें डेप्रिसिएशन  रकम 1000 रुपए है तो बीमा कंपनी इस एक हजार रुपए नहीं देगी। अधिक डेप्रिसिएशन  रकम चुनने पर प्रीमियम की रकम कम हो जाती है, लेकिन जब आप क्लेम करते हैं तो आपको बीमा कंपनी कम रकम का भुगतान करती है।
 
नो-क्लेम बोनस
 
नो-क्लेम बोनस उसे कहते हैं जो बीमा कंपनी प्रत्येक साल आपको क्लेम नहीं करने की एवज में देती है। यह बोनस आपके प्रीमियम पर मिलता है। जब आप क्लेम नहीं करते हैं और हर साल पॉलिसी को रिन्यू कराते वक्‍त बीमा कंपनी आपको प्रीमियम राशि पर 50 फीसदी तक की छूट देती है। जब, आप पुरानी कार को बेचकर नई कार खरीदते हैं तो आप अपने इस पॉलिसी को नई कार के लिए ट्रांसफर कर सकते हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट