Home » Personal Finance » Banking » Updatefocus on 7 things bank will not cut your pocket

7 बातों का हमेशा रखें ध्‍यान, बैंक में बचेंगे ज्‍यादा पैसे

कई बार हमारी लापरवाही के चलते बैंकों को चार्ज वसूलने का मौका मिल जाता है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली. बैंक की ओर से मि‍लने वाली लगभग हर सुवि‍धा के लि‍ए चार्ज वसूला जाता है। लेकिन कई बार हमारी लापरवाही के चलते बैंकों को चार्ज वसूलने का मौका मिल जाता है। क्‍योंकि‍ कई बार हम बैंकि‍ंग करते समय बैलेंस, ट्रांजेक्‍शन लिमिट जैसी कई ध्‍यान रखने वाली बातों को लेकर अलर्ट नहीं रहते और यही छोटी चूक हमारी जेब पर भारी पड़ती है। अगर हम थोड़ी सी सावधानी बरतें तो इन एक्‍स्‍ट्रा चार्ज से बचा जा सकता है। ऐसे में आज हम आपको बता रहे हैं कि ऐसे कौन से चार्ज हैं, जिन्‍हें आप थोड़ा सा ध्‍यान देकर कटने से बचा सकते हैं - 

 
चेकबुक छोड़ि‍ए, नेटबैंकि‍ंग कीजि‍ए  
 
आज यह जरूरी है कि‍ समय के साथ कदम मि‍लाकर चला जाए। ऐसे में अगर आप चेक से पैसे नि‍कालते हैं तो आदत बदल लीजि‍ए। क्‍योंकि‍ बैंक चेकबुक देने के लि‍ए फीस लेता है। ऐसे में आप नेट बैंकि‍ंग के जरि‍ए 20 रुपए से लेकर 150 रुपए तक बचा सकते हैं। वहीं, चेकबुक पर लगनी वाली फीस इस बात भी निर्भर करती है कि‍ आपने कि‍तने पेज वाली चेकबुक ली है। 
आगे पढ़ें : ATM का यूज ध्‍यान से करें  
 
समझदारी से करें एटीएम का प्रयोग 
 
आजकल सभी लोग एटीएम का यूज करते हैं। लेकि‍न कई बार वे भूल जाते हैं कि‍ ज्‍यादातर बैंक महीने में सि‍र्फ 5 बार फ्री पैसा नि‍कालने का ऑप्‍शन देते हैं। ऐसे में कोशि‍श करें कि‍ एक बार में बड़ा अमाउंट नि‍काल लें। ताकि‍ बार-बार पैसा नि‍काल कर बैंक को एक्‍स्‍ट्रा पेमेंट न करनी पड़े। ऐसा कर आप 10 रुपए से 20 रुपए हर ट्रांजैक्‍शन पर बचा सकते हैं। 
आगे पढ़ें : कभी न भूलें क्रेडि‍ट कार्ड का बि‍ल भरना  
समय पर भरें क्रेडि‍ट कार्ड का बि‍ल 
 
आजकल लोगों की जरूरत और शौक दोनों को पूरा करने में क्रेडि‍ट कार्ड का बड़ा हाथ है। यही कारण है कि‍ लोग एक बार में बहुत सारी शॉपि‍ंग कर लेते हैं और क्रेडि‍ट कार्ड की ईएमआई बनवा लेते हैं। लेकि‍न 
क्रेडि‍ट कार्ड की लेट पेमेंट करने पर आपके ऊपर 36 फीसदी से लेकर 42 फीसदी का चार्ज लग सकता है। वहीं, सि‍र्फ 3 दि‍न की लेट पेमेंट पर आपको 750 रुपए चार्ज करने पड़ सकते हैं। ऐसे में कोशि‍श करें कि‍ क्रेडि‍ट कार्ड की पूरी पेमेंट समय पर हो।    
आगे पढ़ें : बि‍ल भरने के लि‍ए लें नेट बैंकि‍ंग का सहारा 
बैंक से करें सभी बि‍ल पेमेंट 
 
बि‍जली, पानी और फोन जैसे बि‍ल की पेमेंट लेट होने पर कंपनि‍यां आप पर चार्ज लगाती हैं। ऐसे में आप नेट बैंकि‍ंग की मदद से समय पर बि‍ल भरना नि‍श्‍चि‍त कर सकते हैं। इसके लि‍ए बैंक की ओर से ऑटो डि‍डक्‍शन के ऑप्‍शन दि‍ए गए होते हैं। इससे आपके 40 रुपए से लेकर 100 रुपए तक हर बि‍ल पर बचेंगे। 
 
आगे पढ़ें : मि‍नि‍मम बैलेंस का ध्‍यान रखें 
मि‍नि‍मम बैलेंस हमेशा बनाए रखें  
 
बैंक में पैसे रखने की मि‍नि‍मम बैलेंस लि‍मि‍ट होती है। ऐसे में हमेशा कोशि‍श करें कि‍ आपके अकाउंट में मि‍नि‍मम बैलेंस बना रहे। क्‍योंकि‍ ऐसा न होने पर बैंक आप पर 10 रुपए महीने से लेकर 600 रुपए तक चार्ज कर सकता है। 
आगे पढ़ें : ये हुआ तो जाना पड़ सकता है जेल 
अकाउंट में मौजूद बैलेंस से ज्‍यादा का चेक न दें 
 
हमेशा याद रखें कि‍ अकाउंट में जि‍तने पैसे हों उतनी रकम का ही चेक इश्‍यू करें। क्‍योंकि‍ अगर चेक बाउंस हो गया तो बैंक आप पर 500 रुपए से लेकर 750 रुपए तक की पेनल्‍टी लगा सकता है। इसके अलावा चेक बाउंस होना एक क्रि‍मि‍नल ऑफेंस भी है। 
आगे पढ़ें : बि‍ल भरने के लि‍ए लें नेट बैंकि‍ंग का सहारा 
क्रेडि‍ट कार्ड से न नि‍कालें कैश 
 
कभी भी अपने क्रेडि‍ट कार्ड से पैसे न नि‍कालें। क्‍योंकि‍ ऐसा करने पर आपको रोज के आधार पर इंटरेस्‍ट देना पड़ सकता है। इस पर 2.5% ती ब्‍याज लगता है। वहीं, फि‍क्‍स्‍ड चार्ज के रूप में मि‍नि‍मम 300 रुपए से 500 रुपए तक चार्ज देना पड़ सकता है। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट