बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Banking » Updateइस 'माल्‍या' से परेशान है चीन, कभी Apple को देता था टक्‍कर

इस 'माल्‍या' से परेशान है चीन, कभी Apple को देता था टक्‍कर

भारत की सरकार पिछले दो सालों से कर्ज लेकर विदेश फरार विजय माल्‍या को स्‍वदेश बुलाने में जुटी है।

1 of
नई दिल्‍ली। भारत की सरकार पिछले दो सालों से कर्ज लेकर विदेश फरार विजय माल्‍या को स्‍वदेश बुलाने में जुटी है। लेकिन हर बार नाकामी हाथ लगती है। भारत की तरह चीन भी अपने देश के विजय माल्‍या से परेशान है । 

 
दरअसल,  विजय माल्‍या की तरह ही चीन की कंपनी LeEco के फाउंडर जिया युएतिंग भी हजारों करोड़ों रुपए का कर्ज ले देश से फरार हैं।  युएतिंग को स्‍वदेश वापस बुलाने में देश की सरकार ने एड़ी - चोटी का जोर लगा दिया है। तो आइए जानते हैं चीन के माल्‍या के बारे में ।
 
दरअसल, चीन की फाइनेंस रेग्‍युलेटरी ने एप्‍पल और टेस्‍ला जैसी कंपनियों को टक्‍कर देने वाली कंपनी LeEco के फाउंडर युएतिंग को स्‍वदेश लौटने का आदेश दिया है। रेग्‍युलेटरी ने कहा है कि 31 दिसंबर से पहले स्‍वदेश वापस लौट जाएं।  
 
इसलिए दिया आदेश 
 
अमेरिका में इलेक्‍ट्रीक कार कंपनी बनाने का सपना देखने वाले जिया को चीन के कई अलग - अलग अदालतों ने डिफॉल्‍टर घोषित किया है। उन पर हजारों करोड़ रुपए का कर्ज है। यह दूसरी बार है जब रेग्‍युलेटर्स की ओर से जिया को चीन वापस लौटने का आदेश दिया गया है। इससे पहले सितंबर में भी उन्‍हें स्‍वदेश वापस बुलाया गया था। लेकिन जिया ने इस ऑर्डर को इग्‍नोर कर दिया। आगे भी पढ़ें - 
 
 
 
मुश्किलें बढ़ जाएंगी
 
31 दिसंबर से पहले अगर जिया स्‍वदेश लौटते हैं तो उनकी मुश्किलें बढ़ जाएंगी। वह एयरोप्‍लेन, हाई स्‍पीड ट्रेन और हाई होटल्‍स में नहीं ठहर सकेंगे। इसके अलावा उनके लिए चीन छोड़ कर जाना भी आसान नहीं होगा।    
 
टेक आइकन थे युएतिंग
जिया ने LeEco की स्‍थापना 2004 में की थी। कुछ सालों में ही युएतिंग चीन के टेक आइकन बन गए । उनकी कंपनी ने जल्‍द ही टेस्‍ला और एप्‍पल जैसी कंपनियों को टक्‍कर देनी शुरू कर दी। लेकिन पिछले साल जिया ने बैंकों और सिक्‍युरिटीज फर्म से कर्ज लिया, जो चुकाने में अब तक नाकाम हैं।   
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट