Home » Personal Finance » Banking » UpdateBad money habits you should change immediately

अमीर बनने से रोकती हैं ये 3 आदतें, बदलते ही बढ़ सकती है इनकम

जब बात पर्सनल फाइनेंस की आती है तो हमारी आदतें यकीनन हमें बना या बि‍गाड़ सकती हैं।

Bad money habits you should change immediately

नई दिल्‍ली। जब बात पर्सनल फाइनेंस की आती है तो हमारी आदतें यकीनन हमें बना या बि‍गाड़ सकती हैं। पॉजि‍टि‍व फाइनेंशि‍यल आदतों के फायदे अनगि‍नत होते हैं। हमारे सेविंग अकाउंट में बैलेंस होता है, पोर्टफोलि‍यो में अच्‍छा इनवेस्‍टमेंट नजर आता है और हम रुपए पैसे से जुड़ी चिंताओं से काफी हद तक दूर होते हैं।  दूसरी ओर उतना ही कमाने वाला दूसरा शख्‍स हमेशा फाइनेंशि‍यल स्‍ट्रेस में रहता है क्‍योंकि‍ वो गलतियां करता है। moneybhaskar आपको फाइनेंशियल एक्सपर्ट और एक रिपोर्ट के जरिए वो 3 बड़ी गलति‍यां बता रहा है जि‍नसे बच गए तो पैसे कि कि‍ल्‍लत आपको परेशान नहीं करने वाली। 


1 अपनी उधारी का च्रक बनाना 


आपने कि‍सी से उधार लि‍या या क्रेडि‍ट कार्ड से कैश निकाल लिया और उसे अपने संसाधनों से चुकता करने की बजाए कि‍सी तीसरे सोर्स से उधार लेकर चुका दि‍या। यानी एक कर्ज उतारने के लि‍ए दूसरा कर्ज, दूसरा उतारने के लि‍ए तीसरा। इसे कहते हैं उधारी का चक्र। 


भारती एक्‍सा लाइफ इंश्‍योरेंस में फाइनेंशि‍यल कंसल्‍टेंट सुनील मि‍श्रा कहते हैं कि‍ अगर आप ऐसा कर रहे हैं तो समझ लें कि ये आपकी आदत में शुमार हो गया है। बेहतर तरीका ये होगा कि आप उसकी कि‍स्‍तें बनावा लें और दो ये तीन महीने में उसे चुका कर खत्‍म करें। उधारी का चक्र चलाना भी एक लत बन जाता है, जि‍सका आपकी क्रेडि‍ट हि‍स्‍ट्री पर बहुत बुरा असर पड़ता है। धीरे-धीरे आपको जरूरत पर पैसा देने वाले हाथ खींचने लगते हैं। 


2 अपने बि‍लों को इग्‍नोर करना 


अपने बि‍लों को इग्‍नोर करना और आज-कल पर टालना दूसरी बुरी आदत है। जब बि‍ल ड्यू होते हैं तो उन पर चार्ज भी लगता है। जब बि‍ल समय पर पे होते हैं तो उन पर रि‍वार्ड भी मि‍लता है। कई बार आखिरी तारीख तक अकाउंट में पैसे ही नहीं बचते।ऐसे में आप बि‍ल की पेमेंट के लि‍ए क्रेडि‍ट कार्ड या कि‍सी और तरह की उधारी लेते हैं। ये आने वाले बुरे वक्‍त की नि‍शानी है। 
इसका सीधा सा तरीका है प्रोएक्‍टि‍व हो जाना- आपको बि‍ल मि‍ला, आप उसे चुका दें-बात खत्‍म। शुरू में ऐसा लगेगा कि ये झंझट भरा काम है मगर बाद में आपकी यही तत्‍परता आपको फाइनेंशि‍यल स्‍ट्रेस से आजाद रखेगी। अपने बि‍ल्‍स को टाइम से चुकाने पर आपको मौजूदा वि‍त्‍तीय हैसि‍यत का सही अंदाजा लग जाएगा। 


3 खरीददारी करते वक्‍त रिवॉर्ड के बारे में सोचना 


टाइम डॉट कॉम की एक रि‍पोर्ट के मुताबि‍क, अगर आप कि‍सी भी तरह के कार्ड से खरीददारी करते वक्‍त उससे मि‍लने वाले रिवॉर्ड प्‍वाइंट्स के बारे में सोच रहे हैं तो आप गलत प्लैटफॉर्म

पर खड़े हैं। यहां से मि‍लने वाली गाड़ी आपको फि‍जूल खर्ची, उधारी और नकदी संकट के स्‍टेशनों पर ही उतारेगी। कार्ड तभी फायदेमंद होते हैं, जब उनका इस्‍तेमाल सोच समझकर कि‍या जाए। 
कार्ड के सही इस्‍तेमाल का एक बेहतर तरीका ये है कि इसका यूज केवल फिक्‍स खर्चों के लि‍ए कि‍या जाए  जैसे जि‍म की फीस, स्‍कूल की फीस, पेट्रोल, फोन बि‍ल की पेमेंट वगैरह। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट