बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Mutual Fund » Updateफरवरी में घटी म्‍युचुअल फंड की AUM, रिटेल इन्‍वेस्‍टर ने पैसा निकाला

फरवरी में घटी म्‍युचुअल फंड की AUM, रिटेल इन्‍वेस्‍टर ने पैसा निकाला

फरवरी में टॉप 10 इक्विटी म्‍युचुअल फंड का आसेट बेस करीब 8900 करोड़ रुपए कम हो गया।

1 of

 

नई दिल्‍ली. फरवरी में टॉप 10 इक्विटी म्‍युचुअल फंड का आसेट बेस करीब 8,900 करोड़ रुपए कम हो गया। जानकारों के अनुसार इसका सबसे बड़ा कारण रिटेल और HNIs निवेशकाें के निवेश में कमी आना रहा है। दूसरी तरफ फंड हाउस की टोटल आसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) में भी फरवरी में गिरावट दर्ज की गई है। यह फरवरी में कम होकर 18,68,404 करोड़ रुपए रह गई जो जनवरी में 18,77,303 करोड़ रुपए थी। 
 

 

एम्‍फी ने जारी किया आंकड़ें

म्‍युचुअल फंड की संस्‍था एसोसिएशन ऑफ म्‍युचुअल फंड इन इंडिया (Amfi) की तरफ से जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। म्‍युचुअल फंड के जानकारों के अनुसार AUM में यह कमी रिटेल इन्‍वेस्‍टर और HNIs के निवेश में कमी आने से दर्ज हुई है।

 

 

बजट के बाद आती है गिरावट

रिलासंय म्‍युचुअल फंड के सीईओ संदीप सिक्‍का के अनुसार, बजट के बाद स्‍टॉक मार्केट में आमतौर पर गिरावट आती है, एेसे में इस बार कुछ ऐसा ही है। उन्‍होंने कहा कि भारत की लॉन्‍ग टर्म ग्रोथ स्‍टोरी मजबूत है। इसके अलावा कार्पोरेट अर्निंग पटरी पर आती लग रही है। इन दोनों को कारणों से स्‍टॉक मार्केट में इस गिरावट को अच्‍छी संभावना के रूप में देखना चाहिए। इसका फायदा रिटेल निवेशक भी उठा सकते हैं। हालांकि इसके लिए म्‍युचुअल फंड का रास्‍ता अच्‍छा न कि सीधे स्‍टाॅक मार्केट में जाने का।

 

ये हैं टॉप 10 फंड हाउस

देश के टॉप 10 म्‍युचुअल फंड हाउस में से 6 की एयूएम में गिरावट दर्ज की गई है। बाकी 4 में कुछ बढ़त आई है। जिनकी आसेट मैनेजमेंट बढ़ी है उनमें कोटक महिन्‍द्रा, एक्सिस म्‍युचुअल फंड, रिलायंस, आईसीआईसीआई प्रू शामिल हैं।

 

 

फरवरी में जिन फंड हाउस में गिरावट दर्ज हुई

 

MF AUM में गिरावट

यूटीआई
4,824 करोड़ रुपए
एचडीएफसी MF
3,221 करोड़ रुपए
एसबीआई MF
2,280 करोड़ रुपए

 

इसके अलावा बिड़ला MF, फ्रैंकलिन और डीएसपी ब्‍लैकरॉक में अच्‍छी खासी गिरावट आई है। देश में म्‍युचुअल फंड बाजार में इस वक्‍त 42 कंपनियां काम कर रही है।

 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट