Home » Personal Finance » Loans » UpdateModi govt fixed deadline of 145 projects of smart city mission

स्‍मार्ट सिटी मिशन की स्‍लो स्‍पीड से परेशान मोदी सरकार, 145 प्रोजेक्‍ट्स की तय की डेडलाइन

दो साल पहले बड़े तामझाम के साथ शुरू हुआ स्‍मार्ट सिटी मिशन स्‍लो स्‍पीड से चल रहा है।

1 of
 
नई दिल्‍ली। दो साल पहले बड़े तामझाम के साथ शुरू हुआ स्‍मार्ट सिटी मिशन स्‍लो स्‍पीड से चल रहा है। इससे परेशान मोदी सरकार ने राज्‍यों से कहा है कि वे 25 जून 2017 तक 145 प्रोजेक्‍ट्स को पूरा करे। इस दिन स्‍मार्ट सिटी मिशन के दो साल पूरे होने हैं और मोदी सरकार चाहती है कि इस दिन के एक कार्यक्रम आयोजित कर देश को बताया जाए कि स्‍मार्ट सिटी मिशन कितना सफल रहा है।
 
25 जून से पहले होगा रिव्‍यू
 
मिनिस्‍ट्री ऑफ अर्बन डेवलपमेंट के सूत्रों के मुताबिक, जिन राज्‍यों के शहरों को स्‍मार्ट सिटी के तौर पर चुना जा चुका है, उनसे कहा गया है कि वे स्‍मार्ट सिटीज में चल रहे प्रोजेक्‍ट्स का रिव्‍यू करे और 25 जून से पहले यह अवगत कराए कि उन शहरों में अब तक क्‍या काम हुआ है। साथ ही, उन्‍हें प्रोजेक्‍ट्स पर तेजी से काम करने को भी कहे।
 
145 प्रोजेक्‍ट्स पर फोकस
 
मिनिस्‍ट्री ऑफ अर्बन डेवलपमेंट ने 145 ऐसे प्रोजेक्‍ट्स की पहचान की है, जिन्‍हें 25 जून से पहले पूरा किया जा सकता है। इन प्रोजेक्‍ट्स पर लगभग 1685 करोड़ रुपए का खर्च आएगा। मिनिस्‍ट्री ने राज्‍यों से कहा है कि वे खुद मॉनिटरिंग करें और जिन शहरों में स्‍मार्ट सिटी प्रोजेक्‍ट्स चल रहे हैं। उन्‍हें तय समय से पूरा कराएं।
 
किन शहरों में हैं ये प्रोजेक्‍ट्स
 
मिनिस्‍ट्री सूत्रों के मुताबिक, ये प्रोजेक्‍ट्स जबलपुर, सूरत, अहमदाबाद, पुणे, उदयपुर, नई दिल्‍ली, पणजी, नागपुर और अजमेर में हैं।
 
40 शहरों की भी होगी घोषणा
 
जून में ही 40 नए शहरों को भी स्‍मार्ट सिटीज का दर्जा दिया जाएगा। इन शहरों ने पिछले दिनों अपने-अपने स्‍मार्ट सिटी प्‍लान मिनिस्‍ट्री के पास भेजे थे, जिनको रिव्‍यू किया जा रहा है। जिसके बाद उनकी घोषणा होगी।
 
अब तक घोषित स्‍मार्ट सिटीज
 
अब तक केंद्र सरकार तीन चरणों में स्‍मार्ट सिटीज की घोषणा कर चुकी है। पहले चरण में 20 शहरों की घोषणा की गई, जिनमें इंदौर, भुवनेश्‍वर, जबलपुर, सूरत, अहमदाबाद, पुणे, उदयपुर, काकीनाडा, जयपुर, लुधियाना, नई दिल्‍ली, विशाखापट्टनम, दावानगरी, बेलागावी, सोलापुर, गुवाहटी, चैन्‍नई, भोपाल, कोची, कोयम्‍बटूर शामिल हैं। इसके बाद फास्‍टट्रेक सिटीज का चयन किया गया, जिनमें लखनऊ, पणजी, फरीदाबाद, रायपुर, धर्मशाला, चंडीगढ़, वारांगल न्‍यू टाउन कोलकाता, भागलपुर, पोर्ट ब्‍लेयर, इम्‍फाल, रांची और अगरतला शामिल हैं। इसके बाद दूसरे चरण के तहत 27 शहरों को स्‍मार्ट सिटी का दर्जा दिया गया, जिनमें नागपुर, वडोदरा, औरंगाबाद, कल्‍याण दोम्बिवली, थाणे, कोटा, अजमेर, जालंधर, तुमकुर, अमृतसर, उज्‍जैन, तिरुपति, मंगलौर, वैल्‍लूर, ग्‍वालियर, आगरा, नासिक, राउरकेला, कानपुर, मदुरैई, तंजावुर, नामची, सलेम, शिवामोगा, वाराणसी, हुबली धारवाड़ शामिल हैं।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट