Home » Personal Finance » Income Tax » Glossaryyou can claim tax rebate under 80 c and home loan interest

अब 7.5 लाख रु. तक की इनकम पर नहीं देना होगा टैक्‍स, सेविंग का ये है नया फॉर्मूला

इन्‍वेस्‍टमेंट लिमिट का पूरा इस्तेमाल करने वाले टैक्सपेयर्स को सरकार ने आम बजट में दी राहत।

1 of
नई दिल्‍ली.  आम बजट में सरकार ने पर्सनल इनकम टैक्‍स के मोर्चे पर टैक्‍सपेयर्स को राहत दी है। अगर आप इन्‍वेस्‍टमेंट लिमिट का पूरा इस्तेमाल करते हैं तो आपको 7.5 लाख रुपए तक की सालाना इनकम पर टैक्‍स नहीं देना होगा। हम आपको बता रहे हैं कि आप 7.5 लाख रुपए तक की इनकम पर टैक्‍स छूट कैसे क्‍लेम कर सकते हैं। 
3 लाख रु. तक की इनकम पर कोई टैक्‍स नहीं...
- Cleartax की चीफ एडिटर और सीए प्रीति खुराना ने moneybhaskar.com को बताया, "नए टैक्‍स रेट के अनुसार सालाना 3 लाख रुपए की इनकम वालों को टैक्‍सेबल इनकम पर 5% टैक्‍स देना होगा।" 
- "2.5 लाख रुपए की सालाना इनकम पर कोई टैक्‍स नहीं लगता है। यानी सालाना 3 लाख रुपए की इनकम पर टैक्सेबल इनकम हुई 50 हजार रुपए।" 
- "इस पर 5% टैक्‍स रेट के अनुसार टैक्‍स लायबिलिटी हुई 2.5 हजार रुपए। 3.5 लाख रुपए की सालाना इनकम पर 2.5 हजार रुपए टैक्‍स छूट मिली हुई है। ऐसे में अगर आप की सालाना इनकम 3 लाख रुपए है तो आपको जीरो टैक्‍स देना होगा।" 
 
80C के तहत 1.5 लाख रुपए इन्वेस्टमेंट पर ले सकते हैं टैक्‍स छूट
- "आप 80C के तहत 1.5 लाख रुपए तक के इन्वेस्टमेंट पर टैक्‍स छूट हासिल कर सकते हैं।" 
- "80C के तहत आप पब्लिक प्रॉविडेंट फंड, लाइफ इंश्योरेंस और मेडिक्‍लेम पर 1.5 लाख रुपए तक इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं।"
 
एनपीएस में 50 हजार इन्वेस्टमेंट पर पा सकते हैं टैक्‍स छूट 
- "न्‍यू पेंशन सिस्‍टम यानी एनपीएस में 50 हजार रुपए इन्वेस्टमेंट पर भी आप टैक्‍स छूट पा सकते हैं।" 
 
2.5 लाख रुपए तक होम लोन इंटरेस्‍ट पर पा सकते है टैक्‍स छूट
 
- "अगर आपने होम लोन लिया है तो आप होम लोन के इंटरेस्‍ट पर 2 लाख रुपए तक टैक्‍स छूट पा सकते हैं। इसके लिए जरूरी है कि आपको पजेशन मिल गया हो।"
- "लेकिन अगर आपने पहली बार घर लिया है तो आप 2.5 लाख रुपए तक इंटरेस्‍ट पर टैक्‍स छूट ले सकते हैं।" 
 
सैलरी क्‍लास, बिजनेस मैन दाेनों के लिए है ये ऑप्‍शन 
- प्री‍ति खुराना का कहना है कि 7.5 लाख रुपए तक की सालाना इनकम पर टैक्‍स बचाने के लिए इन ऑप्‍शंस का यूज सैलरी क्‍लास और बिजनेस मैन दोनों कर सकते हैं।
- इस तरह से सैलरी क्‍लास के लोग या बिजनेस मैन को 7.5 लाख रुपए तक की सालाना इनकम पर कोई टैक्‍स नहीं देना होगा।  
 
वैसे 12500 रुपए तक की राहत सभी को मिली है
 
बजट प्रस्‍तावों आयकर नियमों मे बदलाव से 12500 रुपए तक की राहत सभी को मिली है। ऐसा शुरुआती आयकर के ब्रेकट यानी 2.5 से लेकर 5 लाख रुपए के स्‍लेब में बदलाव लाने से संभव हुआ है। इस स्‍लैब में आयकर की दर को 10 से घटाकर 5 फीसदी कर दिया गयाा है।  इस प्रकार 2.5 से  5 लाख की आय पर अब 25 हजार की जगह 12500 रुपए ही कर देना होगा। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट