• Home
  • Last date for filing Income Tax return extended till September 7

आज IT Return फाइल करने का है अाखिरी दिन, बाद में देनी होगी पेनल्टी

Personal Finance

Sep 07,2015 10:11:00 AM IST
नई दिल्ली। असेसमेंट ईयर 2015-16 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) भरने का आज आखिरी दिन है। इसके पहले सरकार ने बुधवार को आईटीआर फाइल करने अंतिम तारीख बढ़ाकर 7 सितंबर कर दिया था। पहले अंतिम तारीख 31 अगस्त थी।
पहले गुजरात के लिए बढ़ाई थी तारीख
इससे पहले इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने गुजरात के नागरिकों के लिए आईटी रिटर्न फाइल करने की तारीख बढ़ाकर 7 सितंबर की थी। इसकी वजह राज्य में पटेल समुदाय के लोगों द्वारा आरक्षण की मांग को लेकर किए गए आंदोलन को बताया गया था।
डायरेक्ट टैक्स के रूप में 8 लाख करोड़ जुटाने का है लक्ष्य
टैक्स डिपार्टमेंट ने असेसमेंट ईयर 2015-16 के लिए अपने रिटर्न फाइल करने के लिए एक तीन पेज के सरल फॉर्म के साथ ही आईटीआर फॉर्म के एक नए सेट को नोटिफाई किया था। देश में फिलहाल टैक्सपेयर्स की संख्या 4 करोड़ से ज्यादा है। सरकार मौजूदा फाइनेंशियल ईयर में डायरेक्ट टैक्स के रूप मे 7.98 लाख करोड़ रुपए जुटाने के लक्ष्य को लेकर चल रही है।
अगली स्लाइड में पढ़ेः आईटीआर भरने से पहले क्या करें...
आईटीआर भरने से पहले क्या करें... इनकम टैक्स रिटर्न भरने से पहले अपने बैंक का स्टेटमेंट अपने पास रख लें। इसके साथ कंपनी द्वारा दिया गया फॉर्म 16 और पिछले साल का इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग भी रखें। इसके बाद<a href='http://www.incometaxindiaefiling.gov.in/'>www.incometaxindiaefiling.gov.in</a> लॉग इन करने के बाद इन स्टेप्स को फॉलो करें। स्टेप 1: वेबसाइट पर सीधे हाथ की ओर से तीन ऑप्शन मिलेंगे। इनमें सबसे पहला ऑप्शन होगा- रजिस्टर योर सेल्फ। इस ऑप्शन पर क्लिक करें और खुद को रजिस्टर करें। रजिस्टर करने के बाद आपसे यूजर आईडी पूछी जाएगी। ध्यान रखें आपका पैन कार्ड नंबर ही आपकी यूजर आईडी है। स्टेप 2: यहां आप करंट फाइनेंशियल ईयर की टैक्स क्रेडिट स्टेटमेंट देख सकते हैं। इस ऑप्शन में आपको Form 26AS मिलेगा। यहां आपको वह सारे टैक्स मिल जाएंगे, जो आपकी कंपनी आपकी सैलरी में से काट रही है। फॉर्म 16 के हिसाब से जितना टैक्स आपको भरना है, इस ऑप्शन में दिए गए टैक्स से मिलान कर लें। यदि टैक्स में कोई अंतर हुआ तो बाद में आईटी डिपार्टमेंट आपको नोटिस भी दे सकता है। स्टेप 3: अब डाउनलोड ऑप्शन पर क्लिक करें। इसके जरिए करंट फाइनेंशियल ईयर का टैक्स रिटर्न फॉर्म डाउनलोड कर लें। अगर आपकी इनकम के महज 5000 रुपए ही इनकम टैक्स के दायरे में आते हैं, तो आपको ITR-2 फॉर्म भरना होगा। यदि आप इससे ज्यादा टैक्स के दायरे में आते हैं, तो ITR-1 or ITR 4S फॉर्म भरना पड़ेगा। इससे पहले आपको Quick e-file ITR पर पूरी जानकारी भरनी होगी। स्टेप 4: अब आपको रिटर्न प्रिपरेशन सॉफ्टवेयर का ऑप्शन मिलेगा, इसे डाउनलोड कर लें। इसमें एक फॉर्म मिलेगा, इसे फॉर्म 16 के आधार पर पूरा भर लें। स्टेप 5: इस स्टेप में Calculate Tax ऑप्शन मिलेगा, जिसके जरिए आप टैक्स कैलकुलेट कर सकते हैं। इस प्रोसेस को पूरा करने के बाद Pay tax (if applicable) पर क्लिक करें। साथ ही टैक्स रिटर्न के लिए चालान फॉर्म भी भरें। स्टेप 6: अब तक जो भी जानकारी आपने भरी हैं, उन्हें कन्फर्म करने के लिए Validate नाम से दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करके कन्फर्म करें। स्टेप 7: इसके बाद आपको XML file जनरेट करने के लिए ऑप्शन मिलेगा। आप इसे कम्प्यूटर में सेव कर लें। स्टेप 8: अब आपको पोर्टल के लेफ्ट में Upload Return नाम से ऑप्शन मिलेगा। इस ऑप्शन के जरिए जो XML फाइल आपने सेव की है, उसे फाइनेंशियल ईयर के साथ अपलोड कर दें। मसलन यदि आप साल 2014-15 का टैक्स जमा कर रहे हैं तो AY 2014-2015 सलेक्ट करें। अब आपसे पूछा जाएगा कि आप इस फॉर्म में डिजिटल सिग्नेचर डालना चाहते हैं या नहीं। इसके लिए आपको Yes Or No का ऑप्शन मिलेगा। स्टेप 9: जब आप इस प्रोसेस को पूरा कर लेंगे, तो आपकी वेबसाइट पर मैसेज मिलेगा successful e-filing। इसके बाद आप एक एक्नॉलेजमेंट फॉर्म ITR&mdash;Verification (ITR-V ) जनरेट करके उसे डाउनलोड कर लें। स्टेप 10: सेव किए गए फॉर्मेट ITR-V का प्रिंटआउट निकाल लें। इस पर नीले पेन से साइन करें। इसके बाद इसे साधारण डाक या स्पीड पोस्ट से इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को भेज दें। इस प्रोसेस को टैक्स रिटर्न भरने के 120 दिनों के भीतर पूरा कर लें। यह है इसका पता Income-Tax Department-CPC Post Bag No-1 Electronic City Post Office, Bangalore- 560 100 Karnataka
X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.