Home » Personal Finance » Income Tax » Updateनोटबंदी में 2 लाख से ज्‍यादा जमा करने वालो पर जनवरी से शुरू होगी टैक्स डिपार्टमेंट की जांच

नोटबंदी में 2 लाख से ज्‍यादा जमा किया था कैश तो 1 जनवरी से एक्‍शन के लिए रहें तैयार

अगर आपने नोटबंदी के दौरान बैंक में 2 लाख रुपए से ज्‍यादा कैश जमा कराया था और अब त‍क इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल नहीं किया है

1 of

नई दिल्‍ली। अगर आपने नोटबंदी के दौरान बैंक में 2 लाख रुपए से ज्‍यादा कैश जमा कराया था और अब त‍क इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल नहीं किया है तो इनकम टैक्‍स विभाग 1 जनवरी से आपके खिलाफ कार्रवाई शुरू कर सकता है। नकम टैक्स डिपार्टमेंट ( I-T) अब ऐसे लोगों पर सख्ती करने जा रहा है, जिन्होंने नोटबंदी के बाद बैंकों में 'संदिग्ध' पैसा जमा किया, लेकिन अभी तक इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) फाइल नहीं किया। I-T डिपार्टमेंट ऐसे मामलों में अगले साल जनवरी से एसेसमेंट प्रोसीडिंग्स शुरू कर देगा। बता दें कि सरकार ने पिछले साल नोटबंदी की थी। इसके तहत 500 और एक हजार के नोट बंद किए गए थे। 

 

 

ये भी पढ़े -  नोटबंदी में डिपॉजिट का हिसाब नहीं देने वालों पर जनवरी से शुरू होगी I-T जांच


 

31 दिसंबर तक भेज दिए जाएंगे सभी नोटिस

 

-  I-T डिपार्टमेंट के लिए पॉलिसीज बनाने वाले सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस (सीबीडीटी) ने कहा कि ऐसी एंटिटीज को नोटिस देने का काम 31 दिसंबर तक खत्म हो जाएगा।
 

जनवरी से शुरू होगी जांच


- एक सीनियर अफसर ने कहा, 'डिपार्टमेंट आई-टी नोटिस के बाद मिले जवाब के आधार पर ऐसे एसेसीज के खिलाफ एसेसमेंट प्रोसीडिंग जनवरी के आखिर में शुरू कर देगा।' उन्होंने कहा कि जिन मामलों में नोटिस के जवाब मिल चुके हैं, उनका एनालिसिस किया जा रहा है।

 

ये भी पढ़े -  नोटबंदी में किए ओवरटाइम का मिलेगा पैसा

 
तैयार है 18 लाख एसेसीज की लिस्ट

 

- यह कवायद ऑपरेशन क्लीन मनी (ओसीएम) का हिस्सा है, जिसे नोटबंदी के बाद ब्लैकमनी पर शिकंजा कसने के लिए इस साल के शुरुआत में लॉन्च किया गया था।
- ओसीएम में ऑनलाइन वैरिफिकेशन के पहले फेज के दौरान मिली जानकारी और डाटा एनालिटिक्स के आधार पर लगभग 18 लाख एसेसीज की लिस्ट तैयार की गई है, जिन्होंने नोटबंदी के दौरान (8 नवंबर से 30 दिसंबर, 2016) के अपने बैंक अकाउंट्स में काफी कैश जमा किया था, लेकिन एसेसमेंट ईयर 2017-18 के लिए आईटीआर अभी तक नहीं भरा।

 

 टैक्‍स के साथ 200 फीसदी तक देनी पड़ सकती है पेनल्‍टी 

नोटबंदी के दौरान बैंकों में कैश जमा कराने वालों को इनकम टैक्‍स विभाग पहले ही नोटिस भेज चुका है। बहुत से लोगों ने अब तक इनकम टैक्‍स विभाग की नोटिस का जवाब नहीं दिया है। अगर इनकम टैक्‍स विभाग की जांच में यह पाया जाता है कि किसी ने  बैंक अकाउंट में काला धन जमा कराया है तो उसे टैक्‍स के साथ 200 फीसदी तक पेनल्‍टी भी देनी पड़ सकती है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट