Home » Personal Finance » Income Tax » Updateincome tax department attach most benami property in mumbai and jaipur

मुंबई जयपुर में सबसे ज्‍यादा बेनामी प्रॉपर्टी, अब तक 4300 करोड़ रुपए की बेनामी प्रॉपर्टी अटैच

देश भर में 1500 बेनामी प्रॉपर्टी अटैच

income tax department attach most benami property in mumbai and jaipur

नई दिल्‍ली। इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने बेनामी प्रॉपर्टी ट्रांजैक्‍शन एक्‍ट लागू होने के बाद से देश भर में 1500 बेनामी प्रॉपर्टी अटैच की है। अटैच की गई प्रॉपर्टी की कीमत 4300 करोड़ रुपए है। मुंबई और जयपुर में सबसे अधिक प्रॉपर्टी अटैच  की गई है।

 

इनकम टैक्‍स डिपार्टमेट ने मुंबई में 200 बेनामी प्रॉपर्टी और जयपुर में भी 200 बेनामी प्रॉपर्टी अटैच  की है। बिजनेस स्‍टैंडर्ड के मुताबिक मुंबई में एक प्रोफेशनल के पास कई अचल संपत्तियां पाईं गईं। यह संपत्तियां उसने शेल कंपनियों के नाम पर कर रखी थीं। और शेल कंपनी का अस्तित्‍व केवल कागज पर था। 

 

शेल कंपनियों के जरिए खरीदी गई प्रॉपर्टीज 

 

संगनेर राजस्‍थान में एक और मामले में पाया गया कि एक ज्‍वेलर ने अपने पूर्व कर्मचारी के नाम पर 9 अचल सपंत्तियां कर रखीं थीं। जब उस पूर्व कर्मचारी के ये संपत्तियां खरीदने का कोई साधन नहीं पाया गया। इसके अलावा शेल कंपनियों के जरिए खरीदी गई कुछ और कुछ प्रॉपर्टीज को भी अटैच किया गया है। बड़े पैमाने पर सामने आ रहे बेनामी प्रॉपर्टी के मामलों को देखते हुए इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने बेनामी प्रॉपर्टी ट्रांजैक्‍शन एक्‍ट के तहत डेडीकेटेड एडजुकेटिंग अथॉरिटी का गठन करने की प्रक्रिया को तेज कर दिया है। जिससे अटैच की गई प्रॉपर्टी को अंतिम तौर पर जब्‍त करने का आदेश पारित किया जा सके। मौजूदा समय में प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉड्रिंग एक्‍ट पीएमएलए के तहत स्‍थापित की गई अथॉरिटी यह देख रही है कि अटैच की गई बेनामी प्रॉपर्टी जब्‍त करने के लायक है या नहीं। 

 

100 प्रॉपर्टी को जब्‍त करने के लिए मिली मंजूरी 

 

पीएमएलए के तहत स्‍थापित की गई एडजुकेटिंग अथॉरिटी ने अब तक इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट के 100 मामलों को अपनी मंजूरी दी है। इसका मतलब है कि अब इन 100 बेनामी प्रॉपर्टी को जब्‍त किया जा सकता है। इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने बेनामी एडजुकेटिंग अथॉरिटी का गठन करने के लिए एक सर्च पैनल बनाया है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट