बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Income Tax » Updateघर-घर जाकर दवा बेचता था ये इंडियन, आज है 20 हजार करोड़ का मालिक

घर-घर जाकर दवा बेचता था ये इंडियन, आज है 20 हजार करोड़ का मालिक

कहते हैं कि अगर हौसले बुलंद हों तो जिंदगी में कुछ भी हासिल किया जा सकता है।

1 of

नई दिल्‍ली। कहते हैं कि अगर हौसले बुलंद हों तो जिंदगी में कुछ भी हासिल किया जा सकता है। फिर चाहें आप किसी भी परिस्थितियों में क्‍यों न हों। इस कहावत को सच कर दिखाया कर्नाटक के बीआर शेट्टी ने।  भारत से दुबई सिर्फ नौकरी करने गए बीआर शेट्टी की गिनती आज दुबई के टॉप अमीरों में होती है। शेट्टी ने हाल ही में Finablr नामक नई कंपनी बनाई है। ऐसा नहीं है कि ये शेट्टी की पहली कंपनी है । वह कई अन्‍य बड़ी फार्मा और फाइनेंशियल सर्विस कंपनियों के भी फाउंडर हैं। हरहाल, आज हम आपको बीआर शेट्टी की संघर्ष से भरी  सफलता की कहानी बताते हैं। 

 

घर - घर जाकर बेची दवाई 

बीआर शेट्टी कर्नाटक के उडुपी में 1942 में पैदा हुए और वहीं उनकी पढ़ाई हुई। पॉकेट में कुछ पैसे लेकर वो 1973 में अपनी किस्मत आजमाने दुबई पहुंचे। वैसे तो शेट्टी दुबई नौकरी के जुगाड़ में गए थे लेकिन उन्‍हें वहां काफी दिनों तक बेरोजगार रहना पड़ा। नौकरी न मिलने के बावजूद उन्होंने हिम्मत नहीं हारी। काफी मेहनत के बाद उन्‍हें सेल्‍समैन की नौकरी मिली। एक इंटरव्‍यू में शेट्टी ने स्‍वीकार किया था कि शुरुआती दिनों में मैंने सेल्समैन की नौकरी की। इस दौरान घर-घर जाकर दवा भी बेची। शेट्टी ने बताया था कि दवा बेचने के दौरान उन्‍हें संयुक्त अरब अमीरात में कई बड़े डॉक्‍टर्स से दोस्‍ती हो गई। 

 

1980 में बनाई यूएई एक्सचेंज 


धीरे-धीरे यूएई में शेट्टी के कदम जमने लगे और कामयाबियों की सीढ़यां चढ़ते चले गए। कमाई के साथ ही उन्‍होंने पैसे घर भी भेजना शुरू कर दिया। लेकिन शेट्टी को महसूस हुआ कि भारतीयों को अपने परिवार वालों को पैसे भेजने में दिक्‍कत होती है। तो उन्होंने 1980 में यूएई एक्सचेंज की स्थापना की। अब यह यूएई की एक बड़ी कंपनी बन गई है। इसके अलावा उन्होंने 2014 में विदेशी मुद्रा कंपनी "ट्रैवेक्स" को खरीद लिया जिसकी 27 देशों में ब्रांचेज हैं। 

 

 

यूएई में पांच सबसे धनी भारतीय 
शेट्टी यूएई में पांच सबसे धनी भारतीयों में से एक हैं। यही नहीं, वह अमीरात में स्वास्थ्य सेवाओं की सबसे बड़ी कंपनी न्यू मेडिकल सेंटर (एनएमसी) के मालिक हैं जिसके इस देश में दर्जनों अस्पताल और क्लिनिक हैं। आगे भी पढ़ें - कितनी है दौलत 

 

 

 

कितनी है संपत्ति 
फोर्ब्‍स के मुताबिक दुबई में रह रहे शेट्टी की कुल संपत्ति 3 बिलियन डॉलर यानी करीब 20 हजार करोड़ रुपए है। हालांकि उनका हेल्‍थकेयर फर्म NMC हेल्‍थ जल्‍द ही इस पोर्टफोलियो से अलग होने वाली है। 

 

 

यूएई में हिंदू धर्म के लिए कर रहे काम 
शेट्टी यूएई में हिंदू धर्म के लिए भी लगातार काम कर रहे हैं। शेट्टी उस समिति के अध्यक्ष भी हैं जो अबू धाबी में पहले हिन्दू मंदिर का निर्माण करने जा रही  है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2015 में अमीरात का दौरा किया था। उस समय मंदिर के लिए अबू धाबी सरकार ने जमीन देने का एलान किया था। मंदिर निर्माण कार्य की जि‍म्मेदारी शेट्टी के कन्धों पर ही है। यही नहीं, बीते साल  हजारों प्रवासी भारतीयों ने अमीरात में मोदी का स्वागत किया था। स्वागत के इस कार्यक्रम को अंजाम देने वाले कोई और नहीं डॉक्टर शेट्टी ही थे। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट