बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Income Tax » Updateमोदी सरकार दे रही 1 लाख रुपए जीतने का मौका, सिर्फ 9 दिन हैं बाकी

मोदी सरकार दे रही 1 लाख रुपए जीतने का मौका, सिर्फ 9 दिन हैं बाकी

मोदी सरकार अकसर अपने स्‍कीम या कॉम्‍पिटिशन के जरिए लोगों को अपना टैलेंट दिखाने का मौका देती है।

1 of

नई दिल्‍ली । मोदी सरकार अकसर अपने स्‍कीम या कॉम्‍पिटिशन के जरिए लोगों को अपना टैलेंट दिखाने का मौका देती है। दिलचस्‍प बात ये है कि कॉम्‍पिटिशन के जरिए टैलेंटेड विनर्स को लाखों रुपए का इनाम भी मिलता है। सरकार की ओर से एक ऐसा ही कॉम्‍पिटिशन फिर से आया है। इस कॉम्‍पिटिशन के विनर को 1 लाख रुपए दिया जाएगा। अहम बात ये है कि इसमें हिस्‍सा लेने के लिए अब सिर्फ 9 दिन बचे हैं। तो आइए, जानते हैं क्‍या है कॉम्‍पिटिशन।  

 

- दरअसल, यह कॉम्‍पिटिशन वूमन एंड चाइल्‍स डेवलपमेंट मिनिस्‍ट्री  के 'नेशनल न्‍यूट्रिशियन मिशन ' के तहत कराया जा रहा है।

- mygov.in वेबसाइट पर बताया गया है कि यह कॉम्‍पिटिशन सिर्फ भारतीय नागरिकता वाले लोगों के लिए है।

- विनर का लोगो और टैगलाइन, वूमन एंड चाइल्‍स डेवलपमेंट मिनिस्‍ट्री के अधीन आने वाली' नेशनल न्‍यूट्रिशियन मिशन ' की इंटरलेक्‍चुअल प्रॉपर्टी होगी।

-इस पर विनर का अधिकार नहीं होगा।  इसके अलावा मिनिस्‍ट्री से जुड़े लोग या उनके परिवार के लोग इस कॉम्‍पिटिशन में हिस्‍सा नहीं ले सकेंगे। 


नेशनल न्‍यूट्रिशियन मिशन क्‍या है 


मोदी सरकार ने देश को चरणबद्ध तरीके से कुपोषण से मुक्त करने के लिए नेशनल न्‍यूट्रिशियन मिशन की शुरुआत की है। पिछले दिनों ही कैबिनेट बैठक में इसकी स्थापना को मंजूरी दे दी गई। अगले तीन वर्षों के लिए मिशन के तहत 9046.17 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। आगे पढ़ें - क्‍या है इनाम 

 

 

1 लाख रुपए ईनाम 


जो शख्‍स कॉम्‍पिटिशन का विनर होगा उसे 1 लाख रुपए का ईनाम दिया जाएगा। कैंडिडेट लोगो और टैगलाइन , दोनों ही कॉम्‍पिटिशन में हिस्‍सा ले सकता है।  अगर ज्‍यूरी,  लोगो और टैगलाइन के लिए दो अलग - अलग कैंडिडेट को विनर चुनते हैं तो  यह इनामी राशि दोनों में बांट दी जाएगी।  टैगलाइन हिंदी या फिर इंग्‍लिश में लिख सकते हैं।  लोगो ओरिजिनल होना चाहिए। कॉपीराइट का उल्‍लंघन होने की स्थिति में कैंडिडेट को कॉम्‍पिटिशन से डिस्‍क्‍वालिफाई कर दिया जाएगा।  

 

ये है गाइडलाइन 


सरकार ने लोगो के संबंध में कुछ गाइडलाइन भी जारी की है। इसके मुताबिक कैंडिडेट को लोगो PNG फॉर्मेट में ही अपलोड करनी होगी। यह जरूरी है कि लोगो डिजिटल प्‍लेटफॉर्म पर ही डिजाइन किया हो। हाई रेज्‍यूलेशन के इस लोगो पर वाटरमार्क न हो। कलर में डिजाइन लोगो की साइज   4 सेमी x 4 सेमी से 60 सेमी x 60 सेमी के बीच होना जरूरी है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट