बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Income Tax » Updateचीनियों के हीरो बने 37 साल के मनु जैन, कमाई में बनाएंगे नया इतिहास

चीनियों के हीरो बने 37 साल के मनु जैन, कमाई में बनाएंगे नया इतिहास

वैसे तो चीन खुद को दुनिया अलग और मजबूत देश होने का दावा करता है।

1 of

नई दिल्‍ली... वैसे तो चीन खुद को दुनिया अलग और मजबूत देश होने का दावा करता है। लेकिन एक भारतीय शख्‍स जो चीन के बड़े - बड़े कारोबारियों के सामने नायक बनकर उभरा है। हम बात कर रहे हैं चीन की चर्चित स्‍मार्टफोन कंपनी Xiaomi इंडिया के एमडी मनु कुमार जैन के बारे में।

यूपी के बेहद साधारण परिवार से आने वाले Xiaomi के ग्‍लोबल वाइस प्रेसिडेंट मनु कुमार जैन इन दिनों सुर्खियों में हैं। दरअसल, वह जल्‍द ही कमाई के नए कीर्तिमान रचने वाले हैं।  तो आइए जानते हैं आखिर मनु जैन कैसे कमाई के नया कीर्तिमान बनाएंगे। लेकिन उससे पहले जानिए सफलता के इस शिखर तक पहुंचने की कहानी के बारे में। 

 

 

 

ये है सफलता का सफर 


यूपी के मेरठ से आने वाले मनु जैन ने 2003 में  आईआईटी दिल्‍ली से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बी- टेक कोर्स किया। उन्‍होंने 2007 में आईआईएम कोलकाता से मैनेजमेंट की पढ़ाई की। यही वो वक्‍त था जब स्‍मार्टफोन बनाने वाली कंपनी  Xiaomi चीन में अपनी नींव रख रही थी। लेकिन मनु जैन को तब Xiaomi के बारे में ज्‍यादा जानकारी नहीं थी। 


करियर की शुरुआत 


यही वजह था कि मनु ने अपने करियर की शुरुआत एक ऐसी कंपनी से की थी, जो इंवेस्‍टमेंट बैंक के लिए सॉफ्टवेयर तैयार करती है। बाद में मनु Jabong जैसी ऑनलाइन रिटेलर कंपनी से जुड़े। यहां वो Jabong के को-फाउंडर मेंबर्स में शामिल रहे। आगे पढ़ें - कब जुड़े Xiaom से 

 

 

 

2014 में Xiaomi ने मारी भारत में एंट्री

Xiaomi ने भारतीय मार्केट में मई 2014 में एंट्री की। इस दौरान कंपनी को यहां मनु जैन का साथ मिला। मनु जैन ने जून 2014 में बतौर कंट्री हैड Xiaomi ज्‍वाइन किया। यहीं से मनु जैन की मार्केटिंग स्‍ट्रैटजी की शुरुआत हुई। मनु  ने इस कदर कंपनी को भारतीय बाजार में पॉपुलर कर दिया कि आज यह देश की सबसे ज्‍यादा बिकने वाले स्‍मार्टफोन है। 

 

 

 मार्केट में कायम है Xiaomi का दबदबा 


हाल ही में काउंटर पॉइंट की ओर से जारी की गई रि‍पोर्ट में कहा गया है कि‍ साल 2018 की पहली तिमाही में स्‍मार्टफोन मार्केट में Xiaomi ने सैमसंग को पछाड़ते हुए 31 प्रतिशत मार्केट शेयर पर कब्‍जा कर लि‍या है। वहीं, सैमसंग की मार्केट भी बढ़ी है। लेकि‍न उसमें 2017 की पहली ति‍माही के अपेक्षा करीब 0.3 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। जबकि‍ Xiaomi की मार्केट 2017 की पहली ति‍माही के 13.1 फीसदी से बढ़कर 31.1 फीसदी हो गई है। वहीं, Xiaomi ने साल 2017 की आखिरी तिमाही से भी 6 फीसदी उछाल मारा है। 

 

ऑफलाइन मार्केट में भी पैठ बना रही है Xiaomi 


काउंटरप्वॉइंट के मुताबिक Xiaomi ऑनलाइन मार्केट के साथ-साथ ऑफलाइन बाज़ार में भी तेजी से पैठ बना रही है। शाओमी के Redmi Note 5 और Redmi Note 5 Pro कंपनी के सबसे लोकप्रिय फोन रहे। वहीं, सैमसंग Galaxy J7 Nxt और J2 (2017) के दम पर दूसरा स्थान हासिल करने में कामयाब रही। 

आगे पढ़ें - कैसे बनाएंगे कमाई के कीर्तिमान 

 

 

ऐसे बनाएंगे कमाई के रिकॉर्ड 


दरअसल, Xiaomi अगले कुछ महीनों में इनिशल पब्लिक ऑफरिंग (IPO) लाने की तैयारी में है। यह पिछले 4 सालों में दुनिया के सबसे बड़े IPO में से एक है। इस IPO पर भारत समेत दुनियाभर की निगाहें हैं। दरअसल, इसमें  Xiaomi  इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्‍टर मनु कुमार जैन को एंप्लॉयी स्टॉक ऑनरशिप प्लान (ESOP) के तहत शेयर मिला है। मनु के पास 23 लाख शेयर्स हैं और वह ESOP के तहत शेयर हासिल करने वाले इकलौते विदेशी हैं।  IPO आने पर मनु जैन को करोड़ों रुपए मिलने वाले हैं।

 

इकलौते भारतीय 

अहम बात ये है कि मनु जैन ESOP के तहत शेयर पाने वाले अकेले विदेशी हैं। ESOP के तहत शेयर कुल 10 कर्मचारियों और सीनियर मैनेजमेंट को मिला है। मनु जैन के पास 23 लाख शेयर्स हैं और वह दुनिया के तीसरे सबसे बड़े ESOP होल्डर हैं। श्योमी का वैल्युएशन करीब 80-100 अरब डॉलर लगाए जाने की संभावना है। रायटर्स के मुताबिक कंपनी का करीब 10 अरब डॉलर का आईपीओ आ सकता है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट