Home » Personal Finance » Income Tax » Updatenot filing itr can give you a big jolt-6 साल पुराना रिकॉर्ड खंगालेगी सरकार

टैक्‍स को लेकर की ये गलती तो 6 साल पुराना रिकॉर्ड खंगालेगी सरकार

अगर आपकी इनकम पर टैक्‍स बनता और आप इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल नहीं करते हैं तो आप मुश्किल में फंस सकते हैं। इनकम टैक्‍स विभ

1 of

नई दिल्‍ली। अगर आपकी इनकम पर टैक्‍स बनता और आप इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल नहीं करते हैं तो आप मुश्किल में फंस सकते हैं। इनकम टैक्‍स विभाग ऐसे लोगों को ट्रैक कर रह है जिनकी इनकम पर टैक्‍स बनता है और जो टैक्‍स नहीं चुका रहे हैं। अगर आप Income Tax विभाग के शिकंजे में आ जाते हैं तो तो इनकम टैक्‍स विभाग आपकी पिछली 6 साल की इनकम का रिकॉर्ड खंगाल सकता है। ऐसे में आपको पिछले 6 साल की इनकम पर टैक्‍स के साथ पेनल्‍टी भी देनी पड़ सकती है। 

 

 

 

 

6 साल का पुराना रिकॉर्ड खंगालने की अनुमति देता है इनकम टैक्‍स एक्‍ट 

 

इनकम टैक्‍स अपीलेट ट्रिब्‍यूनल के पूर्व मेंबर और सीए राकेश गुप्‍ता ने moneybhaskar.com को बताया कि अगर इनबम टैक्‍स विभाग को जांच में पता चलता है कि कोई व्‍यक्ति टैक्‍स की चोरी कर रहा है या अपनी इनकम को कम करके दिखा रहा है तो इनकम टैक्‍स एकट के तहत इनकम टैक्‍स विभाग उसके पिछले 6 साल के रिकॉर्ड की जांच पड़ताल कर सकता है। केंद्र सरकार ने कई तरह के ट्रांजैक्शन में परमानेट अकाउंट नंबर यानी पैन डिटेल देना जरूरी बना दिया है। ऐसे में इनकम टैक्‍स विभाग के लिए लोगों की इनकम प्रोफाइल को ट्रैक करना आसान हो गया है। 

 

1.25 करोड़ नए रिटर्न फाइलर्स को जोड़ने का लक्ष्‍य 

 

इनकम टैक्‍स विभाग ने वित्‍त वर्ष 2017-18 में 1.25 करोड़ नए रिटर्न फाइलर्स को टैक्‍स बेस में जोड़ने का लक्ष्‍य निर्धारित किया है। नए रिटर्न फाइलर्स वे लोग हैं जिनको नियम के तहत इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करना चाहिए लेकिन वे इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल नहीं कर रहे हैं। इनकम टैक्‍स विभाग ऐसे लोगों की पहचान के लिए नए तरीके भी अपना रहा है। 

 

ये भी पढ़े -   इनकम टैक्स स्लैब रेट- Income Tax Slab Rate

 

आगे पढें-इनकम प्रोफाइल ट्रैक कर रही है सरकार 

 

 

इनकम प्रोफाइल ट्रैक कर रही है सरकार 

अब कार खरीदने और 30 लाख रुपए से अधिक की प्रॉपर्टी की रजिस्‍ट्री कराने के लिए पैन डिटेल देना जरूरी हो गया है। पैन से सरकार इस तरह के ट्रांजैक्‍शन ट्रैक कर रही है। अब अगर कार खरीदने वाला व्‍यक्ति या 30 लाख रुपए से अधिक की प्रॉपर्टी की रजिस्‍ट्री कराने वाला व्‍यक्ति इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल नहीं कर रहा है तो पैन के जरिए यह बात सरकार को पता चल जाएगी। ऐसे में इनकम टैक्‍स विभाग उस व्‍यक्ति को नोटिस देकर पूछ सकता है कि आपकी सालाना इनकम कितनी है और आप इनकम टैक्‍स रिटर्न क्‍यों नहीं फाइल कर रहे हैं। 

2.5 लाख रुपए से अधिक इनकम वालों के लिए रिटर्न फाइल करना है जरूरी 

सालाना 2.5 लाख रुपए से अधिक इनकम वालों के लिए इनकम टैक्‍स एक्‍ट के तहत इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करना जरूरी है। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो इनकम टैक्‍स विभाग ऐसे लोगों को नोटिस देकर रिटर्न फाइल करने के लिए कह सकता है। 2.5 लाख रुपए तक की इनकम पर टैक्‍स नहीं लगता है। ऐसे में 2.5 लाख रुपए तक या इससे कम इनकम वालों के लिए इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करना जरूरी नहीं है। 
इनकम टैक्‍स

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट