बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Income Tax » Updateइनकम टैक्‍स अधि‍कारी कर रहा है परेशान, घर बैठे करें शि‍कायत

इनकम टैक्‍स अधि‍कारी कर रहा है परेशान, घर बैठे करें शि‍कायत

आपको लग रहा है कि‍ इनकम टैक्‍स ऑफि‍सर अनावश्‍यक रूप से आपको परेशान कर रहा है।

Income tax officer give tension complain here। इनकम टैक्‍स अधि‍कारी कर रहा है परेशान, तो यहां करें शि‍कायत

नई दिल्ली. अगर आपने आईटीआर फाइल की है या फि‍र आप उसके दायरे में नहीं आते है। इसके बावजूद कोई इनकम टैक्‍स ऑफि‍सर अनावश्‍यक रूप से आपको परेशान कर रहा है या आपसे रि‍‍‍‍‍श्‍वत की मांग कर रहा है। तो इसके लि‍ए आपके पास वि‍कल्‍प मौजूद है। इस समस्‍या के समाधान के लि‍ए आयकर विभाग की ओर से आपकी सहायता के लि‍ए एक पूरा सि‍स्‍टम तैयार कि‍या गया है। इसके अलावा भी अगर आपको आयकर वि‍भाग की लापरवाही के चलते कि‍सी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और उसकी सुनवाई नहीं हो रही है, तो आप उसकी शि‍कायत कर सकते हैं। आज हम आपको बताएंगे कि‍ कहां और कैसे आप इस बारे में शि‍कायत कर सकते हैं। 
 
कहां करें शि‍कायत 
 
अगर आपसे इनकम टैक्‍स से जुड़ी कोई गलती हो गई है और वि‍भाग में आपकी सुनवाई नहीं हो रही है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। इसके लि‍ए आप इनकम टैक्‍स की वेबसाइट www.incometaxindia.gov.in पर जाकर शि‍कायत कर सकते हैं। वेबसाइट पर आपको हेल्‍पलाइन का ऑप्‍शन दि‍खेगा उस पर क्‍लि‍क करेंगे तो आपके सामने कई टैक्‍स हेल्‍पलाइन आएंगी। इन्‍हींं में एक ऑप्‍शन होगा ग्रीवांस रीड्रेसल इन प्रि‍ंसि‍पल सीसीआईटी रीजन (Grievance Redressal in Principal CCIT Region)। जैसे ही आप इस पर क्‍लि‍क करेंगे आपके सामने देश के सभी राज्‍यों के नाम खुल जाएंगे। 
 
चुनें अपना इलाका 
 
ग्रीवांस रीड्रेसल इन प्रि‍ंसि‍पल सीसीआईटी रीजन क्‍लि‍क करने के बाद जब सभी राज्‍यों के नाम आपके सामने होंगे तो उसमें अपने राज्‍य के नाम पर क्‍लि‍क करें। इसके बाद आपके सामने उस स्‍टेट के हर जोन के इनकम टैक्‍स ऑफि‍सर की लि‍स्‍ट सामने आ जाएगी। इसमें उनका नाम, फोन नंबर, मेल आईडी और सभी जानकारी दी गई होती है।  
 
कहीं से भी करें शि‍कायत 
 
राज्‍य के हर जोन के इनकम टैक्‍स अधि‍कारी का नाम सामने होने पर आप उनसे संपर्क कर अपनी शि‍कायत उन तक पहुंचा सकते हैं। इसमें आप उन्‍हें देश के कि‍सी भी कोने से ई-मेल कर तुरंत अपनी शि‍कायत उन्‍हें भेज सकते हैं। 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट