बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Income Tax » Updateएन चंद्रशेखरन के 1 साल में TCS को मिली खास मुकाम, 6 लाख करोड़ की बनी कंपनी

एन चंद्रशेखरन के 1 साल में TCS को मिली खास मुकाम, 6 लाख करोड़ की बनी कंपनी

पहले गैर पारसी चेयरमैन एन चंद्रशेखरन 21 फरवरी को अपने कार्यकाल के 1 साल पूरा करने वाले हैं।

Chandra 2nd year may begin with Tata largest domestic deal with Bhushan Steel takeover

मुंबई... टाटा ग्रुप के 150 साल के इतिहास के पहले गैर पारसी चेयरमैन एन चंद्रशेखरन 21 फरवरी को अपने कार्यकाल के 1 साल पूरा करने वाले हैं। एन चंद्रशेखरन को ऐसे समय में टाटा संस की कमान मिली जब इस ग्रुप की छवि को साइरस मिस्‍त्री विवादों के कारण दुनिया भर में नुकसान हो रहा था। 1 साल पहले मैराथन मैन चंद्रा के सामने कई चुनौतियां थीं। ऐसे में यह जानना जरुरी है कि क्‍या उन्‍होंने इन चुनौतियों से पार पा लिया है या फिर संघर्ष अभी बाकी है।  आज हम आपको इस रिपोर्ट में एन चंद्रशेखरन के बीते 1 साल के कामकाज के बारे में बताने जा रहे हैं। 

 

मार्केट कैप 6 लाख करोड़ के पार 

 

आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी ऐसी दूसरी कंपनी बन गई थी, जिसका मार्केट कैप 6 लाख करोड़ के पार चला गया। पिछले 24 जनवरी को कारोबार में टीसीएस ने मार्केट कैप के मामले में रिलायंस इंडस्ट्रीज को कुछ देर के लिए पीछे छोड़ दिया था। इस दौरान टीसीएस की वैल्यू 6.22 लाख करोड़ रुपए पहुंच गई थी। हालांकि, उस दिन कारोबार के अंत में टीसीएस का मार्केट कैप 6.07 लाख करोड़ पर बंद हुआ। जबकि RIL की वैल्यू 6.21 लाख करोड़ रुपए रही। वर्तमान में टीसीएस की मार्केट वैल्‍यू 5,62,264.55 करोड़ के करीब है। 

 

 

TCS का रेवेन्यू बढ़ा

 

- टाटा कंसल्टेंसी लिमिटेड का दिसंबर 2017 में समाप्त तिमाही के दौरान प्रॉफिट 1.3 फीसदी बढ़कर 6531 करोड़ रुपए हो गया, जबकि सितंबर तिमाही के दौरान यह आंकड़ा 6,446 करोड़ रुपए रहा था। 
- चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के दौरान देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी का कुल रेवेन्यू 1.1 फीसदी बढ़कर 30,904 करोड़ रुपए हो गया, जबकि सितंबर, 2017 में समाप्त तिमाही के दौरान उसका रेवेन्यू 30,541 करोड़ रुपए रहा था। 

 

भूषण स्‍टील का अधिग्रहण कर सकती है कंपनी
अगर सबकुछ ठीक रहा तो अपने दूसरे साल के कार्यकाल के शुरुआती दिनों में ही एन चंद्रशेखरन के नाम एक और शानदार उपलब्‍धि जुड़ जाएगी। दरअसल,   चंद्रशेखरन का दावा है कि टीसीएस जल्‍द ही भूषण स्‍टील का अधिग्रहण कर सकती है। यह अधिग्रहण 36,000 करोड़ रुपए का होगा। 

 


कौन हैं ​चंद्रशेखरन


- चंद्रशेखरन का जन्‍म तमिलनाडु के मोहनुर में हुआ था। फिलहाल, वे मुंबई में रहते हैं। पत्‍नी का नाम ललिता और बेटे का नाम प्रणव है। 
- वे बेहतरीन फोटोग्राफर हैं। इसके अलावा एम्सटर्डम, बोस्‍टन, शिकागो और मुंबई समेत कई जगह मैराथन में हिस्‍सा ले चुके हैं। 
- चंद्रशेखरन 5 मार्च 2016 से RBI के नॉन ऑफिशियल डायरेक्टर भी हैं। 
- वे रोज सुबह रनिंग जरूर करते हैं, क्योंकि उनकी फैमिली में डायबिटीक हिस्ट्री है। 
- चंद्रा के पिता का नाम श्रीनिवासन नटराजन है। वे वकील थे, लेकिन ज्यादातर वक्त खेती में गुजारते थे।

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट