Home » Personal Finance » Income Tax » UpdateCabinet approves setting up of India first rail university in Gujarat

ऐसे मिलेगा रेलवे से जुड़कर कैरियर बनाने का मौका, मोदी सरकार की ये है योजना

अगर रेलवे से जुड़कर कैरियर बनाना चाहते हैं तो आपके लिए बड़ी खुशखबरी है।

1 of

नई दिल्‍ली। अगर रेलवे से जुड़कर कैरियर बनाना चाहते हैं तो आपके लिए बड़ी खुशखबरी है। जी हां, मोदी सरकार ने लोगों के स्‍कील और कैपिसिटी डेवलप करने के लिए देश की पहली रेल यूनिवर्सिटी खोलने की पहल की है। इस खास पहल को बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में मंजूरी भी दे दी गई। इस यूनिविर्सटी में 3,000 स्टूडेंट्स दाखिला लेंगे। इन स्‍टूडेंट्स को रेलवे से जुड़ी हर तरह के स्किल को डेवलप किया जाएगा। इस नए विश्वविद्यालय की फंडिंग पूरी तरह रेल मंत्रालय करेगा। आगे पढ़ें - कब शुरु होगी यह यूनिवर्सिटी  


2018 में होगा पहल सत्र 


सरकार की ओर से बयान में कहा गया, 'सरकार अप्रैल 2018 तक सभी स्वीकृतियां देने तथा जुलाई-2018 में पहला शैक्षिक सत्र शुरू करने की दिशा में काम कर रही है। प्रधानमंत्री द्वारा पेश यूनिवर्सिटी स्थापना का प्रेरक विचार नए भारत की दिशा में रेल और परिवहन क्षेत्र में बदलाव का अग्रदूत होगा।' बयान में कहा गया है कि रेल मंत्रालय कंपनी अधिनियम, 2013 की धारा आठ के अंतर्गत लाभ नहीं कमाने वाली कंपनी बनाएगा, जो प्रस्तावित यूनिवर्सिटी की मैनेजमेंट कंपनी होगी।  नए विश्वविद्यालय की फंडिंग पूरी तरह रेल मंत्रालय करेगा। आगे पढ़ें - यूनिवर्सिटीज के नियम कानून 

 

मैनेजमेंट कंपनी की यूनिवर्सिटी 
 
मैनेजमेंट कंपनी यूनिवर्सिटी को वित्तीय तथा संरचना संबंधी समर्थन देगी और यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर और प्रो चांसलर की नियुक्ति करेगी। पेशेवर लोगों और शिक्षाविदों वाला प्रबंधन बोर्ड प्रबंधक कंपनी से स्वतंत्र होगा और उसे अपने सभी अकादमिक तथा प्रशासनिक दायित्व निभाने की आजादी होगी। बयान में कहा गया है कि इस विश्वविद्यालय के निर्माण के लिए वडोदरा स्थित भारतीय रेल की राष्ट्रीय अकादमी (एनएआईआर) की मौजूदा जमीन का इस्तेमाल किया जाएगा और विश्वविद्यालय उद्देश्य के लिए इनमें आवश्यक संशोधन किया जाएगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट