बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Income Tax » Update​30 की उम्र में की ये 5 गलतियां, कराती हैं करोड़ों का नुकसान

​30 की उम्र में की ये 5 गलतियां, कराती हैं करोड़ों का नुकसान

वैसे तो 30 साल की उम्र में लोग मौज - मस्‍ती की लाइफ जीने में यकीन करते हैं।

1 of

नई दिल्‍ली... वैसे तो 30 साल की उम्र में लोग मौज - मस्‍ती की लाइफ जीने में यकीन करते हैं।  लेकिन अगर इस उम्र में फाइनेंशियल प्लानिंग नहीं की तो यकीनन ये गलती आने वाले समय में बहुत भारी साबित हो सकती है। 50-60 की उम्र में वही पैसा काम आता है जो 30 की उम्र में जोड़ा होता है।  अगर आपने ऐसा नहीं किया तो आपको करोड़ों का नुकसान हो सकता है। आज हम आपको उन 5 गलतियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपको करोड़ों का नुकसान करा सकती हैं। 

 

फ्यूचर की महंगाई को इग्‍नोर करना

 

आमतौर पर देखा गया है कि लोग सिर्फ आज का सोचते हैं। उन्‍हें फ्यूचर की महंगाई को लेकर ज्‍यादा चिंता नहीं होती है। यही गलती आपके फ्यूचर को नुकसान दे सकती है। महंगाई के हिसाब से कैल्‍कुलेशन करें तो जो  अमाउंट 1997 में 1 लाख रुपए था वो आज 29 हजार के करीब हो गया है। ऐसे में टर्म इंश्योरेंस हो या फिर आने वाले समय में किसी बड़े खर्च का बजट बनाना सब कुछ महंगाई को ध्यान में रखकर करिए। पेंशन प्लान भी ऐसा सोचकर ही लीजिए। 

 

इंश्योरेंस 

 

वैसे तो हेल्थ इंश्योरेंस आसानी से लोग ले लेते हैं। कुछ लोगों को ये कंपनी की तरफ से मिल जाता है। लेकिन लोग लाइफ इंश्‍योरेंस के बारे में नहीं सोचते। फ्यूचर में कुछ भी हो सकता है। अगर सेविंग्‍स या बैकअप सपोर्ट नहीं हुआ तो आपके परिवार के फ्यूचर को नुकसान हो सकता है। इसलिए हेल्थ इंश्योरेंस और लाइफ इंश्योरेंस दोनों ही बहुत जरूरी हैं। 

 

 

लोन और क्रेडिट कार्ड का चक्‍कर 


आमतौर पर देखा गया है कि लोग हर छोटी- मोटी जरुरतों के लिए लोन ले लेते हैं। लेकिन आपकी ये आदत बेहद नुकसानदेय है। हमेशा उतने ही लोन लीजिए जितने के पैसे चुका सकें। चाहें होम लोन हो या फिर पर्सनल लोन या क्रेडिट कार्ड का बिल, अगर सेविंग्स से ज्यादा आय का 60-70% पैसा लोन में ही खर्च हो रहा है तो उसका कोई मतलब नहीं है।  ऐसे में लोन और क्रेडिट कार्ड के झमेले से बचने की जरुरत है। 

 

सिर्फ बचत नहीं, निवेश भी 

 

अकसर यह देखने को मिला है कि लोग सिर्फ बचत करते हैं लेकिन निवेश करना जरुरी नहीं समझते। अगर यह सोच आपके दिमाग में भी है तो इसे आज ही निकाल दें। पैसा सिर्फ सेविंग्स अकाउंट में रखना एक तरह से गलती ही होगी।अगर निवेश किया जाएगा तो पैसा बढ़ेगा। म्यूचुअल फंड, स्टॉक मार्केट, टर्म इंश्योरेंस आदि बहुत सारे विकल्प हैं जिनमें निवेश किया जा सकता है। आगे पढ़ें - एक और गलती के बारे में 

 

 

एक्सपर्ट को इग्‍नोर करना 

 

अगर कोई घर बनवाता है तो पहले इंजीनियर से नक्शा बनवाता है न। ठीक वही फाइनेंशियल एडवाइस के बारे में कहा जा सकता है। एक या दो एक्सपर्ट से अपने फाइनेंस और फ्यूचर के बारे में सलाह लेना एक सही तरीका है और अगर इसे छोड़कर ये सोचा जाए कि बस हम सब कर सकते हैं तो यकीन मानिए कहीं न कहीं गलती हो सकती है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट