Home » Personal Finance » Income Tax » Updateदेश में करोड़पतियों की संख्या हुई 60 हजार-Number of crorepatis in assessment year 2015-16 grew 23.5%

देश में करोड़पतियों की संख्या हुई 60 हजार, लेकिन 51 हजार करोड़ घटी दौलत

एसेसमेंट ईयर 2015-16 के दौरान 1 करोड़ रुपए से ज्यादा इनकम घोषित करने वाले इंडिविजुअल्स की संख्या 23.5 फीसदी बढ़ गई है

1 of

 

नई दिल्ली. एसेसमेंट ईयर 2015-16 के दौरान 1 करोड़ रुपए से ज्यादा इनकम घोषित करने वाले इंडिविजुअल्स की संख्या 23.5 फीसदी बढ़कर 59,830 तक पहुंच गई, लेकिन करोड़पतियों के पास मौजूद इनकम पिछले साल की तुलना में 50,889 करोड़ रुपए कम हो गई।

 

 

1 करोड़ से ज्यादा इनकम वालों की संख्या बढ़ी

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने एसेसमेंट ईयर 2015-16 (अप्रैल 2014 से मार्च 2015) के लिए आंकड़े जारी किए, जिसके मुताबिक 1 करोड़ रुपए से ज्यादा इनकम वाले 59,830 इंडिविजुअल्स की कुल इनकम घटकर 1.54 लाख करोड़ रुपए रह गई, जबकि एसेसमेंट ईयर (एवाई) 2014-15 में करोड़पति इंडिविजुअल्स या 1 करोड़ से ज्यादा इनकम वालों की संख्या 48,417 थी, जिनकी कुल इनकम 2.05 लाख करोड़ रुपए थी।

 

 

एसेसमेंट ईयर 2015-16 में 4 करोड़ ने फाइल किया रिटर्न

वहीं देश के 1.2 अरब नागरिकों में से 4.07 करोड़ लोगों ने एसेसमेंट ईयर 2015-16 के लिए टैक्स रिटर्न फाइल किया था, जिनमें से 82 लाख ने शून्य टैक्स प्रदर्शित किया था या उनकी इनकम 2.5 लाख रुपए से कम थी।

फिलहाल 2.5 लाख रुपए तक इनकम पर कोई इनकम टैक्स नहीं लगता है। एसेसमेंट ईयर 2014-15 में 3.65 करोड़ लोगों ने टैक्स रिटर्न फाइल किया था, जिनमें से 1.37 करोड़ ने शून्य टैक्स दिखाया था या उनकी इनकम 2.5 लाख रुपए से कम थी।

 

 

टैक्स फाइलर्स की इनकम 21 लाख करोड़

एसेसमेंट ईयर 2015-16 के दौरान कुल इंडिविजुअल टैक्स फाइलर्स की कुल इनकम बढ़कर 21.27 लाख करोड़ रुपए हो गई थी, जबकि पिछले एसेसमेंट ईयर के दौरान यह आंकड़ा 18.41 लाख करोड़ रुपए रही थी।

एसेसमेंट ईयर 2015-16 के दौरान अधिकतम 1.33 करोड़ फाइलर्स 2.5-3.5 लाख इनकम ग्रुप में आए थे। लगभग 55,331 इंडिविजुअल्स की इनकम 1 करोड़ से 5 करोड़ रुपए के बीच थी, जबकि 5 करोड़ और 10 करोड़ रुपए के बीच इनकम वाले इंडिविजुअल्स की संख्या 3,020 थी। कुल 1,156 इंडिविजुअल्स की इनकम 10 करोड़ और 25 करोड़ रुपए के बीच थी।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट