बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » ITR FilingIncome Tax रिटर्न फाइलिंग की डेडलाइन एक महीने बढ़ी, 31 अगस्त तक का मिला मौका

Income Tax रिटर्न फाइलिंग की डेडलाइन एक महीने बढ़ी, 31 अगस्त तक का मिला मौका

चुनिंदा कैटेगरीज के लिए Income tax return (ITR) फाइलिंग की डेडलाइन एक महीने बढ़ाकर 31 अगस्त कर दी है।

Govt extends ITR filing deadline till Aug 31

 

नई दिल्ली. सरकार ने चुनिंदा कैटेगरीज के लिए Income tax return (ITR) फाइलिंग की डेडलाइन एक महीने बढ़ाकर 31 अगस्त कर दी है। फाइनेंस मिनिस्ट्री ने एक बयान जारी करके यह जानकारी दी। इसके बाद अब सैलरीड क्‍लॉस के लोगों को एक माह का अतिरिक्‍त समय मिल जाएगा।

 

गौरतलब है कि नए income tax return फॉर्म्स अप्रैल में नोटिफाई किए गए थे और टैक्सपेयर्स (जिनके अकाउंट्स का ऑडिट नहीं होता है) 31 जुलाई तक आईटीआर फाइल कर सकते थे। फाइनेंस मिनिस्ट्री ने अपने बयान में कहा, 'काफी विचार विमर्श करने के बाद सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस (CBDT) ने सेलरीड टैक्सपेयर्स की संबंधित कैटेगरीज के लिए आईटीआर फाइलिंग की डेट 31 जुलाई से बढ़ाकर 31 अगस्त कर दी है।'

 

तय समय के बाद है पेनाल्‍टी का प्रॉविजन

अगर आप 31 जुलाई तक इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल नहीं करते हैं तो आपको 5,000 रुपए तक पेनल्‍टी देनी होगी। आप पेनल्‍टी दिए बिना इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल नहीं कर पाएंगे। अगर किसी की सालाना इनकम 5 लाख रुपए या इससे कम है और उसने तय समय तक रिटर्न फाइल नहीं की है तो बाद में रिटर्न फाइल करने के लिए उसे 1,000 रुपए पेनल्‍टी देनी होगी। 5 लाख रुपए से अधिक इनकम वालों को 31 जुलाई तक रिटर्न न फाइल करने पर 5,000 रुपए की पेनल्‍टी देनी होगी। लेकिन डेट लाइन बढ़ने के बाद इन कैटेगरी के लोगों को एक माह का अति‍रिक्‍त समय मिल जाएगा।

 

इनकम का प्रूफ

इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट के अनुसार ITR फाइल करना आपकी जिम्‍मेदारी है इससे आपको यह सम्‍मान मिलता है कि आप देश के विकास में योगदान कर रहे हैं। इसके अलावा ITR आपकी इनकम का प्रूफ होता है। इसे सभी सरकारी और प्राइवेट संस्‍थान इनकम प्रूफ के तौर पर स्‍वीकार करते हैं। अगर आप बैंक लोन के लिए आवदेन करते हैं तो बैंक कई बार ITR मांगते हैं। अगर आप नियमित तौर पर ITR फाइल करते हैं तो आपको बैंक से आसानी से लोन मिल जाता है। इसके अलावा आप किसी भी फाइनेंशियल इंस्‍टीट्यूशन से लोन के अलावा दूसरी सेवाएं भी आसानी से हासिल कर सकते हैं। वहीं अगर आप ITR फाइल नहीं करते हैं तो आपको फाइनेंशियल सर्विसेज हासिल करने में दिक्‍कतों का सामना करना पड़ सकता है।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट