बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Insurance » Updateशादी में आया विघ्‍न तो मिलेगा 10 लाख

शादी में आया विघ्‍न तो मिलेगा 10 लाख

अगर प्राकृतिक या मानवीय वजह से आपकी शादी कैंसिल हो जाती है तो आपको इसके लिए 10 लाख रुपए इससे ज्‍यादा की रकम मिलेगी।

1 of

नई दिल्‍ली। अगर प्राकृतिक या मानवीय वजह से आपकी शादी कैंसिल हो जाती है तो आपको इसके लिए 10 लाख रुपए इससे ज्‍यादा की रकम मिलेगी। जी हां यह पूरी तरह सच है। यह रकम आपको बीमा कंपनी देगी। बीमा कंपनियां मैरिज इन्‍श्‍योरेंस कवर ऑफर कर रही हैं। अगर आप यह कवर लेते हैं और आपकी शादी तय समय पर नहीं हो पाती है तो बीमा कंपनी आपको एक तय रकम का भुगतान करेगी। 

 

मैरिज इन्‍श्‍योरेंस ऐसे आएगा काम 

 

आजकल शादी का मौसम चल रहा है। इसके अलावा इन दिनों तेज आंधी तूफान भी आ रहे हैं। हाल में देश के कुछ इलाकों में आए आंधी तूफान में 50 से अधिक लोगों की मौत हो गई है। ऐसे परिदृश्‍य में अगर किसी की शादी के दिन ही आंधी या तूफान आता है और इसकी वजह से शादी नहीं हो पाती है या प्रॉपर्टी को नुकसान होता है तो वेडिंग इन्‍श्‍योरेंस कवर ऐसे नुकसान की भरपाई करता है। 

 

मैरिज इन्‍श्‍योरेंस में क्‍या होता है कवर 

 

बैंकबाजारडॉटकॉम के अनुसार भूकंप आग या तूफान से शादी अगर स्‍थगित हो जाती है। चोरी या लूटपाट हो जाती है। । अगर इन्‍श्‍योरेंस पॉलिसी में शामिल व्‍यक्ति की मौत  या  पर्सनल इंजरी हो जाती है। वह व्‍यक्ति हॉस्पिटलाइजेशन और पॉलिसी डाक्‍युमेंट में दी गई वजहों से शादी में नहीं आ पाता है। इस पॉलिसी के तहत सम इन्‍श्‍योर्ड में कार्ड छपवाने में आने वाली लागत, कैटरर या वेडिंग हॉल के लिए दिया गया अडवांस, डेकोरेशन, होटल रिजर्वेशन और ट्रेवेल टिकट के लिए दिया गया एडवांस कवर होता है। इसके अलावा पॉलिसी के तहत शारीरिक नुकसान या प्रॉपर्टी को हुए नुकसान को भी कवर किया जाता है। 

मैरिज इन्‍श्‍योरेंस में ये चीजें नहीं होती हैं कवर 

 

अगर बंद या सामाजिक तनाव की वजह से शादी कैंसिल हो जाती है तो इस पर क्‍लेम  नहीं मिलेगा। इसी तरह से अगर आतंकी हमला हो जाता है तो इस पर भी क्‍लेम  नहीं मिलेगा। अगर पॉलिसी में कवर व्‍यक्ति का अपहरण हो जाता है तो भी इसे कवर नहीं किया जाएगा। अगर पॉलिसी में कवर किया गया व्‍यक्ति शादी में समय पर इसलिए नहीं पहुंच पाता कि इसे ट्रांसपोर्ट की सुविधा नहीं मिली है तो भी उसे क्‍लेम  नहीं मिलेगा। अगर इन्‍श्‍योर्ड मेंबर द्वारा या उसके निर्देश पर उसके सहयोगियों द्वारा प्रॉपटी को नुकसान पहुंचाया जाता है तो भी क्‍लेम नहीं मिलेगा। अगर पॉलिसी में कवर व्‍यक्तियों की युद्ध या युद्ध जैसी स्थिति में मौत हो जाती है या वे घायल हो जाते हैं तो ऐसे केस में क्‍लेम  नहीं मिलेगा। अगर पॉलिसी के तहत कवर किया गया व्‍यक्ति खुद को नुकसान पहुंचाता है या आत्‍महत्‍या कर लेता है तो भी उसे पॉलिसी के तहत क्‍लेम  नहीं मिलेगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Ask Your Questions
Any query related to insurance?
Ask us
*
*
*
*
4
+
5
=