बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Financial Planning » Updateसिबिल स्‍कोर कम है तो अपनाएं ये तरीके, आसानी से मिलेगा क्रेडिट कार्ड और लोन

सिबिल स्‍कोर कम है तो अपनाएं ये तरीके, आसानी से मिलेगा क्रेडिट कार्ड और लोन

पिछली कुछ गड़बडियों के कारण अगर आपका सिबिल स्‍कोर प्रभावित हुआ है तो इसे सुधारने की दिशा में आपको गंभीरता से सोचना चाहिए। सिबिल स्‍कोर नहीं सुधरता है तो भविष्‍य में आपको कर्ज लेने में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

1 of
नई दिल्‍ली। पिछली कुछ गड़बडियों के कारण अगर आपका सिबिल स्‍कोर प्रभावित हुआ है तो इसे सुधारने की दिशा में आपको गंभीरता से सोचना चाहिए। सिबिल स्‍कोर नहीं सुधरता है तो भविष्‍य में आपको कर्ज लेने में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। अब सवाल उठता है कि बिगड़े सिबिल स्‍कोर को सुधारने के क्‍या तरीके हैं और इसे कैसे दुरुस्‍त करवाया जा सकता है। आइए, आज उन्‍हीं उपायों की चर्चा करते हैं जिनकी मदद से आप अपने सिबिल स्‍कोर को सुधार सकते हैं।
 
सबसे पहले सिबिल स्‍कोर प्रभावित होने के कारण का पता लगाइए। इसके लिए आपको सिबिल रिपोर्ट मंगवाना चाहिए। सिबिल रिपोर्ट के लिए आपको उसकी वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा साथ ही 470 रुपए का भुगतान करना होगा। एक बार की ऑथेंटिकेशन प्रक्रिया के सफल होने के बाद आप सिबिल स्‍कोर और रिपोर्ट डाउनलोड कर सकते हैं। इसे आपके ई-मेल पर भी भेजा जाता है।
 
सिबिल स्‍कोर में कहां होती है गड़बड़ी
 
आपकी क्रेडिट रिपोर्ट में आपके खाते जैसे बैंक खाता, लोन और क्रेडिट कार्ड, की पूरी जानकारी होती है। अगर सिबिल स्‍कोर में आपकी पहचान और खातों से जुड़ी जानकारियां सही हैं तो ‘डीपीडी’ यानि क्रेडिट कार्ड के बिल या किसी लोन के भुगतान में कितने दिनों का विलंब हुआ है इस पर गौर करें। डीपीडी बताता है कि किसी खास महीने में आपने क्रेडिट कार्ड के बकाए या लोन की ईएमआई के भुगतान में कितने दिनों की देरी की है। अगर यह ‘000’ से अधिक है तो आपका सिबिल स्‍कोर प्रभावित होता है। इसके अलावा ‘रिटेन-ऑफ’ या ‘सेटल्‍ड‘ के नीचे लिखी जानकारी यह बताती है कि आपने बीते दिनों कहां-कहां डिफॉल्‍ट किया है और सिबिल स्‍कोर के घटने की प्राथमिक वजह भी यही होती है।
 
अगली स्‍लाइड में जानिए सिबिल स्‍कोर गलत होने पर ठीक करने के उपाय...
तस्‍वीरों का इस्‍तेमाल प्रस्‍तुतिकरण के लिए किया गया है।
सिबिल स्‍कोर अगर गलत है तो क्‍या किया जाए
 
बैंक आपके लोन अकाउंट या क्रेडिट कार्ड से जुड़ी जानकारियां सिबिल को भेजते हैं और कभी-कभार रिपोर्टिंग की प्रक्रिया में गलतियां भी होती हैं। बैंकों की इन गलतियों के कारण भी आपका क्रेडिट स्‍कोर घट जाता है। सिबिल स्‍कोर में कभी-कभार ऐसा देखने में आता है कि जो लोन आपने चुका दिया है वह भी बकाया प्रदर्शित होता है या फिर अपर्याप्‍त अकाउंट बैलेंस दिखाता है।
 
ऐसे मामलों में आप सिबिल की वेबसाइट पर डिस्‍प्‍यूट रिक्‍वेस्‍ट फॉर्म भर कर अपना पक्ष रख सकते हैं। सिबिल का डिस्‍प्‍यूट रिजॉल्‍यूशन सेल इस पर विचार करेगा और किसी विशेष लोन अकाउंट के मामले में संबंधित कर्जदाता से संपर्क करेगा। सिबिल स्‍कोर में हुई गलती को ठीक करने में लगभग 30 दिन लगते हैं।
 
कुछ गंभीर गलतियां भी होती हैं, जैसे आपने कोई लोन लिया ही नहीं और सिबिल रिपोर्ट में वह बकाया प्रदर्शित हो रहा है। यह पहचान चोरी होने का मामला हो सकता है। ऐसे मामलों पर नजर पड़ते ही सिबिल को सूचित किया जाना चाहिए। सिबिल भी ऐसे मामलों को तरजीही तौर पर देखता है।
 
इस संदर्भ में बैंक के नोडल अफसर के पास लिखित शिकायत भी करें कि या तो बैंक गलती सुधारे या फिर उस गलत एन्ट्री के बारे में पूरा विवरण दे।
अगर सिबिल या बैंक आपके निवेदन पर 30 दिनों तक कोई रेस्पांस नहीं देते हैं तो आप इसकी शिकायत बैंक लोकपाल से www.bankingombudsman.rbi.org.in कीजिए।
 
अगली स्‍लाइड में जानिए सिबिल स्‍कोर ठीक होने के बाद क्‍या हो नीति...
गलतियां ठीक के बाद क्‍या हो नीति
 
सिबिल स्‍कोर की गलतियां सुधरने के बाद यह तय कर लें कि आप क्रेडिट कार्ड के बिल और लोन की ईएमआई का भुगतान समय पर करेंगे। कभी भी नए क्रेडिट कार्ड या लोन के लिए काफी सोच-समझ कर ही आवेदन करें। इन सब की बदौलत आपका सिबिल स्‍कोर दुरुस्‍त रहेगा और भविष्‍य में लोन लेने में कोई परेशानी नहीं होगी।
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट