/* impulse*/
Home » Personal Finance » Financial Planning » UpdatePF Members will not have to wait for Name Correction, EPFO has Given Power to junior officers

PF मेंबर्स को नाम में करेक्‍शन के लिए नहीं करना होगा लंबा इंतजार, EPFO ने जूनियर अफसरों को दी पावर

अब आपको अगर अपने पीएफ डाटा बेस में अपने नाम या पिता के नाम में करेक्‍शन कराना है या सरनेम बदलवाना है तो इसके लिए आपको म

1 of
नई दिल्‍ली। अब आपको अगर अपने पीएफ डाटा बेस में अपने नाम या पिता के नाम में करेक्‍शन कराना है या सरनेम बदलवाना है तो इसके लिए आपको महीनों इंजतार नहीं करना होगा। कर्मचारी भविष्‍य निधि सगठन (ईपीएफओ) ने नाम में करेक्‍शन के लिए आए आवेदन का तेजी से निस्‍तारण सुनिश्चित करने के लिए पावर जूनियर अधिकारियों को दी है। इससे अब पीएफ मेंबर्स के नाम में करेक्‍शन से जुड़े काम कम समय में हो जाएंगे। 
 
 

अधिकारियों की कमी से काम में हो रही थी देरी 

 
कर्मचारी भविष्‍य निधि सगठन (ईपीएफओ) की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि ईपीएफओ मेंबर्स या उसके पिता के नाम में करेक्‍शन को मंजूरी देने की पावर रीजनल पीएफ कमिश्‍नर के स्‍तर के अधिकारियों को है। लेकिन यह देखा गया है कि फील्‍ड में रीजनल पीएफ कमिश्‍नर स्‍तर के अधिकारियों की कमी है। ऐसे में नाम में करेक्‍शन से जुड़े आवेदन का निस्‍तारण तेजी से नहीं हो पा रहा है। 
 

करेक्‍शन की पावर जूनियर अधिकारी को 

ईपीएफओ ने मौजूदा स्थिति की समीक्षा के बाद नाम में करनेक्‍शन की पावर ऑफिस इंन्‍चवार्ज की मंजूरी के साथ एक या दो  अस्टिटेंट पीएफ कमिश्‍नर को देने का फैसला किया है। उसे पीएफ मेंबर के नाम करेक्‍शन से जुड़े सभी मामलों में मंजूरी का अधिकार होगा। 
 
 
 
नाम में करेक्‍शन के लिए चाहिए ज्‍वाइंट रिक्‍वेस्‍ट  
 
मौजूदा प्रावधानों के तहत ईपीएफओ के डाटा बेस में पीएफ मेंबर अगर अपने नाम या फायदा के नाम में करेक्‍शन कराना चाहता है तो इसके लिए कर्मचारी और एम्‍पलाई की ज्‍वाइंट रिक्‍वेस्‍ट के साथ सपोटिंग डाक्‍युमेंट देना होता है। कई बार महिला कर्मचारी शादी के बाद अपने सरनेम भी चेंज करातीं हैं। इन मामलों में मंजूरी का अधिकार  रीजनल पीएफ कमिश्‍नर और असिस्‍टेाट पीएफ कमिश्‍नर (अकाउंट्स) को है।  
 
 
आगे की स्‍लाइड में पढें ईपीएफओ के हैं कितने मेंबर्स 
 
ईपीएफओ के हैं 4.5 करोड़ एक्टिव मेंबर 
मौजूदा समय में ईपीएफओ के 4.5 करोड़ एक्टिव मेंबर हैं। इसके अलावा ईपीएफओ के कुल मेंबर्स की संख्‍या लगभग 17 करोड़ है। ईपीएफओ पीएफ मेंबर्स के 8 लाख करोड़ रुपए से अधिक के पीएफ फंड का प्रबंधन करता है। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट