बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Financial Planning » Updateट्रेन का वेटिंग टिकट कंफर्म होगा या नहीं, ऐसे करें पता

ट्रेन का वेटिंग टिकट कंफर्म होगा या नहीं, ऐसे करें पता

आप मात्र कुछ सेंकड्स में यह जान लेंगे कि आपने जो टिकट बुक कराया है, वह कंफर्म होगा या नहीं

1 of
 
नई दिल्‍ली। एक स्‍टडी बताती है कि लगभग 70 फीसदी लोगों को ट्रेन का टिकट वेटिंग में मिलता है और तब से लेकर अंत तक पैसेंजर को चिंता रहती है कि टिकट कंफर्म होगा या नहीं। आप भी शायद इस दौर से गुजर चुके हों। ट्रेन का टिकट कंफर्म कराने के लिए आपने भी सिफारिशें की होंगी या सिफारिश न होने पर चुपचाप रेलवे या आईआरसीटीसी की साइट पर लगातार बार-बार क्लिक करके यह जानने की कोशिश करते रहे होंगे कि टिकट कंफर्म हुआ या नहीं। हो सकता है कि कभी-कभार टिकट कंफर्म भी हो गया हो, वरना आखिरी समय में आपको टिकट कैंसिल करना पड़ा होगा या परेशानी के साथ सफर करना होगा। 
 
लेकिन यदि कोई ऐसा रास्‍ता हो, जो आपको टिकट बुक कराते ही यह बता दे कि आपका टिकट कंफर्म होने के कितने चांस हैं तो जाहिर है आप या तो अपना ट्रेवल प्‍लान चेंज कर लेंगे या बस-फ्लाइट का टिकट बुक करा लेंगे। आज हम आपको उस तरीके के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आज के समय में काफी प्रचलित हो रहा है। आप मात्र कुछ सेंकड्स में यह जान लेंगे कि आपने जो टिकट बुक कराया है, वह कंफर्म होगा या नहीं। 
 
आगे पढ़ें : कैसे करें पता 
 
 
कैसे करें पता 
 
आप अपने टिकट के कंफर्मेशन के लिए अगर एक मोबाइल ऐप डाउनलोड कर लेते हैं तो आपके लिए यह काम बेहद आसान हो जाएगा। railyatri.in नाम के इस ऐप में यह सुविधा है कि आप टिकट बुक कराने के बाद यह चेक कर सकते हैं कि आपकी टिकट कंफर्म होगी या नहीं । मोबाइल ऐप में पीएनआर स्‍टेट्स का ऑप्‍शन है, जहां आप केवल अपने 10 डिजिट वाले पीएनआर नंबर फीड करते हैं तो आपको पता चल जाएगा कि आपका वेटिंग नंबर क्‍या है। इसके साथ ही, आपको यह भी पता चल जाएगा कि आपकी वेटिंग टिकट कंफर्म हो पाएगा या नहीं। इतना ही नहीं, ऐप में यह भी शो हो जाएगा कि आपके टिकट कंफर्म होने के कितने चांस हैं। 
 
आगे पढ़ें - कैसे चलता है पता 
 
 
कैसे चलता है पता 
railyatri.in के सीइओ मनीष सेठी ने moneybhaskar.com को बताया कि दरअसल पिछले तीन साल से इस पर काम कर रहे हैं और लगातार डाटा ट्रेक कर रहे हैं। यह चेक कर रहे हैं कि किन दिनों किस ट्रेन में टिकट कंफर्मेशन के कितने चांस रहते हैं। पैसेंजर्स का ट्रेंड देख रहे हैं। रूट पर नजर रख रहे हैं। इसके बाद हम अनुमान लगाते हैं कि टिकट कंफर्मेशन के कितने चांस हैं। सेठी ने दावा किया कि वे जो अनुमान लगाते हैं, उसका सक्‍सेस रेट 94 फीसदी है। यानी कि पैसेंजर को जो इंफॉर्मेशन दी जाती है, वह एक्‍युरेट रहती है। 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट