Home » Personal Finance » Financial Planning » Updateनेशनल पेंशन सिस्‍टम यानी एनपीएस के नाम हो रहा है फ्रॉड, केंद्र सरकार ने अलर्ट ज़ारी किया - PFRDA Issues Alert About NPS Fraud

अलर्ट: एनपीएस के नाम हो रहा है फ्रॉड, PFRDA ने बताए बचने के ये तरीके

नेशनल पेंशन सिस्‍टम या एनपीएस के नाम पर फ्रॉड हो रहा है। केंद्र सरकार ने इस बारे में अलर्ट जारी कर लोगों को सतर्क रहने क

1 of

नई दिल्‍ली। नेशनल पेंशन सिस्‍टम या एनपीएस के नाम पर फ्रॉड हो रहा है। पेंशन फंड रेग्‍युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) ने पब्लिक नोटिस जारी कर लोगों को सतर्क किया है कि अगर कोई उनको पीएफआरडीए के नाम पर कॉल कर फंड रिलीज करने का लालच देता है तो इस पर विश्‍वास न करें और न ही पैसा दें। 

 

पीएफआरडीए की ओर जारी नोटिस में कहा गया है कि हमारी जानकारी में आया है कि कुछ लोग आम लोगों को फोन कर एनपीएस में जमा फंड रिलीज करने का वादा कर पैसा मांग  रहे हैं। यह भी पता चला है कि कुछ लोग इस तरह के दावों पर भरोसा कर ऐसे लोगों का बड़ा अमाउंट जैसे 29,999 रुपए पेमेंट भी करने के लिए तैयार हो गए हैं। पीएफआरडीए एक नियामकीय बॉडी है। यह बॉडी किसी भी व्‍यक्ति को उनके परमानेट रिटायरमेंट अकाउंट से फंड जारी करने के लिए कॉल नहीं करती है। 

 

एनपीएस अकाउंट होल्‍डर्स से बात कर सकती हैं पीएफआरडीए द्वारा नियुक्‍त एजेंसियां 

 

पीएफआरडीए ने बैंकों और नॉन बैकिंग फाइनेंस कंपनियों एनबीएफसी जैसे व्‍वाइंट ऑफ प्रेजेंस और एग्रीग्रेटर्स को नियुक्‍त किया है जो एनपीएस अकाउंट होल्‍डर्स से फीस को लेकर बात करती हैं। लेकिन फ्रॉड करने वाले लोग जो पैसा मांग रहे है यह उससे बहुत कम है। ऐसे में अगर कोई पीएफआरडीए या उसके द्वारा नियुक्‍त एजेसियों के नाम पर फोन कर पैसा मांगे तो उसके दावे को क्रास चेक जरूर करें। 

 

पीएफआरडीए नहीं भेजता कोई ईमेल या एसएमएस 

पीएफआरडीए ने एक एडवाइजरी में कहा है कि पीएफआरडीए फीस या चार्ज देने पर बडा अमाउंट जारी करने के वादे को लेकर कोई ईमेल या एसएमएस नहीं करता है। इस तरह का ईमेल या मैसेज आपके साथ  धोखाधड़ी करने के लिए भेजा गया हो सकता है। आप इस बारे में पुलिस को सूचित करें। 

 

एनपीएस से फंड जारी करने के नाम पर आए कॉल तो ये करें 

अगर आपको कोई कॉल कर एनपीएस से फंड जारी करने का वादा करता है तो आप उसके वादे पर विश्‍वास न करें। किसी भी अनधिकृत व्‍यक्ति या संस्‍था को पैसे का भुगतान न करें। कॉल करने वाले व्‍यक्ति या ईमेल की पहचान या विश्‍वसनीयता चेक करें। आप कॉलर का नाम, टेलीफोन नंबर, ईमेल आईडी और एड्रेस पुलिस को दें। 

 

आगे की स्‍लाइड में पढैं-सोशल सिक्‍योरिटी कवर मुहैया कराती है एनपीएस 

 

 

 

सोशल सिक्‍योरिटी कवर मुहैया कराती है एनपीएस 

नेशनल पेंशन सिस्‍टम यानी एनपीएस केंद्र सरकार की सोशल सिक्‍युरिटी स्‍क्‍ीम है। कोई भी भारतीय नागरिक इस स्‍कीम के तहत अकाउंट खुलवा सकता है। इस स्‍कीम के तहत 60 साल की उम्र होने पर एक लंप सम अमाउंट मिलता है और आपको हर माह पेंशन मिलती है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट