Home » Personal Finance » Financial Planning » Updateknow who will not get benefit of health insurance

ये 5 चीजें नहीं लेने देंगी 5 लाख के फ्री इलाज की सुविधा, सरकार ने जारी की शर्तें

इस साल के आम बजट में मोदी सरकार ने हेल्‍थ प्रोटेक्‍शन इन्‍श्‍योरेंस स्‍कीम का ऐलान किया था।

1 of

नई दिल्‍ली। इस साल के आम बजट में मोदी सरकार ने हेल्‍थ प्रोटेक्‍शन इन्‍श्‍योरेंस स्‍कीम का ऐलान किया था। इस स्‍कीम को बुधवार को कैबिनेट की मंजूरी भी मिल गई। स्‍कीम के तहत 10 करोड़ परिवारों को साल में 5 लाख रुपए तक के इलाज की मुफ्त सुविधा मिलेगी। लेकिन इसका फायदा एक बहुत बड़े वर्ग को नहीं मिलने वाला है। आज हम आपको इस रिपोर्ट में बताएंगे कि आखिर किस तरह के लोग इस इन्‍श्‍योरेंस का फायदा नहीं ले सकेंगे।

 

सबसे पहले जानिए स्‍कीम के बारे में 


मोदी सरकार ने बजट में एक हैल्‍थ स्‍कीम लाने की घोषणा की थी जिसमें देश के 10 करोड़ गरीब परिवारों को शामिल करने की योजना थी। अब सरकार ने इस स्‍कीम को ‘आयुष्मान भारत’ नाम से मंजूरी दे दी है।  इसके तहत 5 लाख रुपए के हर साल मुफ्त इलाज का फायदा लेने के लिए तय मानकों में से किसी एक को पूरा करना होगा। सरकार की तरफ से कई सारे मानक तय किए गए हैं। स्‍कीम में गरीब परिवारों के चयन का आधार सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना -2011 को बनाया गया है। आगे पढ़ें - किन लोगों को नहीं मिलेगा फायदा 

 

 

 

जमीन निश्चित सीमा से अधिक होने पर


अगर आप निश्चित सीमा से अधिक जमीन के मालिक हैं तब भी आपको मोदी सरकार की इस स्‍कीम का फायदा मिल सकेगा। दरअसल, स्‍कीम का फायदा उन्‍हीं परिवारों को मिलने वाला है जिनके पास जमीन न हो । इसके अलावा उन परिवारों को भी स्‍कीम का लाभ नहीं मिलेगा जिनका पक्‍का मकान है। स्‍कीम के मुताबिक एक कमरे का कच्‍चा मकान या खपरैल में रहने वाली फैमली ही इसका लाभ ले सकेगी। 

 

100 सीसी से अधिक क्षमता वाला व्‍हीकल 

 

अगर आपके पास 100 सीसी से अधिक क्षमता वाला व्हीकल है तो आप बीपीएल कैटेगरी में नहीं आएंगे। हालांकि अगर कोई ऑटो ड्राइबर है और उसके पास अपना व्‍हीकल है तो उसे नियम के दायरे से बाहर रखा गया है। ऐसे में 100 सीसी से अधिक क्षमता का व्‍हीकल रखने वाले भी मोदी केयर इन्‍श्‍योरेंस स्‍कीम का फायदा नहीं ले पाएंगे। 

 

 हो रही है रेंटल इनकम 

 

अगर किसी को बिल्डिंग या घर से रेंटल इनकम हो रही है तो वह भी बीपीएल कार्ड हासिल नहीं कर सकता है। यानी ऐसे परिवार बीपीएल के दायरे में नहीं आते हैं तो ऐसे लोगों को भी मोदी मोदी केयर इन्‍श्‍योरेंस स्‍कीम का फायदा नहीं मिलेगा। 

 

 

बिजली का बिल 450 रुपए से अधिक होने पर 

 

इसी तरह अगर किसी परिवार का मंथली बिजली का बिल 450 रुपए से अधिक है तब भी उसे बीपीएल कार्ड जारी नहीं किया जा सकता है। ऐसे में मंथली 450 रुपए से अधिक का बिजली बिल देने वाले परिवारों को मोदी केयर इन्‍श्‍योरेंस स्‍क्‍ीम का फायदा नहीं मिल पाएगा। 


सालाना इनकम 2.5 लाख रुपए से अधिक होने पर 

 

अगर आपकी सालाना इनकम 2.5 लाख रुपए से अधिक है तो आपके लिए इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करना जरूरी है। मौजूदा नियम के तहत सालाना 2.5 लाख रुपए से अधिक की इनकम इनकम टैक्‍स के दायरे में आती है। इस तरह से अगर किसी की सालाना इनकम 2.5 लाख रुपए से अधिक है तो उसे बीपीएल कार्ड नहीं मिल सकता है और ऐसे परिवार को 5 लाख रुपए तक की फ्री हेल्‍थ इन्‍श्‍योरेंस स्‍कीम का फायदा नहीं मिल सकता है। 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट