बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Financial Planning » Updateसरकार का दावा: मिलेंगी 1 करोड़ नौकरियां, जाने कैसे

सरकार का दावा: मिलेंगी 1 करोड़ नौकरियां, जाने कैसे

मोदी सरकार के हर साल 2 करोड़ नौकरियों के चुनावी वायदों पर अकसर विपक्ष निशाना साधता रहा है।

1 of

नई दिल्‍ली.. मोदी सरकार के हर साल 2 करोड़ नौकरियों के चुनावी वायदों पर अकसर विपक्ष निशाना साधता रहा है। लेकिन अब मोदी सरकार का कहना है कि जल्‍द ही 1 करोड़ नई नौकरियां पैदा होंगी। तो आइए जानते हैं कि आखिर कैसे ये नई नौकरियांए मिलेंगी।   

 

कैसे मिलेगा फायदा 

 

दरअसल, केंद्र सरकार अब असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले नए कर्मचारियों के पहले 3 साल का एम्‍पलॉयर पीएफ कंट्रीब्‍यूशन खुद वहन करेगी।  अभी नियोक्ताओं को नए कर्मचारियों के लिए शुरुआती तीन वर्षों के लिए पेंशन के एवज में जमा कराना होता है। यानी अब ये राशि बचने से 1 करोड़ नौकरियों का सृजन हो सकता है। इसके लिए मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्‍साहन योजना का दायरा बढ़ाया है। पहले सिर्फ संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों को ही योजना का फायदा मिल रहा था। आगे पढ़ें - अभी तक कितने लोगों को मिला फायदा 

 

 

 

अब तक 31 लाख को मिला फायदा 

- प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्‍साहन योजना के तहत अब तक कुल 31 लाख लोगों को फॉर्मल सेक्‍टर में नौकरी मिली है। अब तक इस योजना के तहत 500 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं।

 

क्‍या है रोजगार प्रोत्‍साहन योजना? 

- प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्‍साहन योजना अगस्‍त, 2016 में शुरू हुई। इसके तहत सरकार संगठित क्षेत्र में आने वाले नए इम्‍पलाई के लिए पेंशन स्‍कीम में एम्‍पलॉयर्स कंट्रीब्‍यूशन खुद वहन कर रही है। यह कर्मचारी की बेसिक सैलरी+डीए का 8.33% होता है।

- योजना का फायदा ये है कि एम्‍पलॉयर्स को नए लोगो को नौकरी देने के लिए प्रोत्‍साहन मिलता है, वहीं लोगों के लिए भी नौकरी के मौके बढ़ जाते हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट