बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Financial Planning » Updateइन 80 शहरों में जो देगा सड़क के लिए जमीन, मिलेगा डबल मुआवजा

इन 80 शहरों में जो देगा सड़क के लिए जमीन, मिलेगा डबल मुआवजा

सरकार ने जमीन के अधिग्रहण का रेट लगभग दो गुना कर दिया है।

1 of

 

नई दिल्‍ली। अगर आपके पास जमीन है और सरकार उस जमीन के पास सड़क बनानी चाहती है तो यह आपके लिए मुनाफे का सौदा हो सकता है। सरकार ने जमीन के अधिग्रहण का रेट लगभग दो गुना कर दिया है। इतना ही नहीं, हाल ही में सरकार ने भारत माला परियोजना के तहत देश भर में हाईवे प्रोजेक्‍ट्स बनाने की घोषणा की है, इनमें रिंग रोड और बाइपास भी शामिल हैं।

 

यह है रेट

आज हम आपको ऐसे 80 शहरों के बारे में बताएंगे, जहां सरकार ने रिंग रोड और बाइपास बनेंगे। वहां सरकार जमीन का अधिग्रहण करेगी। अगर आप के पास इन शहरों में जमीन हैं तो आपके लिए यह फायदे का सौदा साबित होगा। आपको इस जमीन के बदले लगभग दो गुणा मुआवजा मिलेगा। मिनिस्‍ट्री ऑफ रोड एंड ट्रांसपोर्ट की रिपोर्ट के मुताबिक हाईवे प्रोजेक्‍ट्स के लिए पहले जहां लगभग 90 लाख रुपए प्रति हेक्‍टेयर के रेट से जमीन का अधिग्रहण किया जाता है। वहीं, फाइनेंशियल ईयर 2016 में औसतन 2.05 करोड़ रुपए प्रति हेक्‍टेयर के रेट से जमीन का अधिग्रहण किया गया।

 

इन शहरों में बनेंगे रिंग रोड

सरकार की योजना है कि 28 शहरों में रिंग रोड बनाए जाएं। इनमें पुणे, बंगलुरु, संभल पुर, मदुरैई, इंदौर, धुले, रायपुर, शिवपुरी, दिल्‍ली, भुवनेश्‍वर, गुरुग्राम, सूरत, पटना, लखनऊ, वाराणसी, विजयवाड़ा, चित्रदुर्ग, अमरावती, सागर, सोलापुर, जयपुर, बेलगाम, नागपुर, आगरा, कोटा, धनबाद, उदयपुर, रांची शामिल हैं। 

 

आगे पढ़ें : इन शहरों में बनेंगे बाईपास

 

इन शहरों में बनेंगे बाईपास

 

सरकार ने 51 शहरों में बाईपास बनाने का निर्णय लिया है। इनमें लुधियाना,  आगरा, वाराणसी, औरंगाबाद, अमृतसर, ग्‍वालियर, सोलापुर में 4 बाईपास, नादेंड में दो, जालंधर, फिरोजाबाद, सिलीगुड़ी, जलगांव, कोझिकोडी, कुरनॉल, बोकारो, बेलारी, धुले, बिलासपुर, देवास में दो, जलाना, सागर, मिर्जापुर, रायचूर, गंगा नगर, होसपत, ऑनगोल, मोर्वी, रायगंज, पनवेल, विदिशा, सासाराम, छत्‍तरपुर, बागलकोट, सिहोर, जहानाबाद, नागौर, चिलाकलुरपित, रिनीगुंटा, सांगरेड्डी, इम्‍फाल, सिलचर, शिलांग, डिब्रुगढ़, दीमापुर, उदयपुर, हिंगघाट और चित्रदुर्गा शामिल हैं। इन सभी शहरों के बीच अलग अलग हाइवे गुजर रहे हैं। लेकिन अब इन शहरों के बाईपास बनाने का निर्णय लिया गया है, ताकि शहर के अंदर जाम नहीं लगे।

 

आगे पढ़ें यहां बनेंगे लॉजिस्टिक पार्क

 

यहां बनेंगे लॉजिस्टिक पार्क

 

35 शहरों में लॉजिस्टिक शहर बनाने का भी निर्णय लिया गया है।  इनमें से कुछ पर काम शुरू हो चुका है। इनमें दिल्‍ली-एनसीआर, मुंबई, नॉर्थ गुजरात, हैदराबाद, साउथ गुजरात, साउथ पंजाब, नॉर्थ पंजाब, जयपुर, बंगलुरु, पुणे, विजयवाड़ा, चैन्‍नई, नागपुर, इंदौर, पटना, कोलकात्‍ता, अंबाला, वलसाड़, कोयम्‍बटूर, जगत सिंह पुर, नासिक, गुवाहटी, कोटा, पणजी, हिसार, विशाखापट्टनम, भोपाल, सुंदरगढ़, भटिंडा, सोलन, राजकोट, रायपुर, जम्‍मू, कांडला और कोचीन

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट