Home » Personal Finance » Financial Planning » UpdateHow a mom constipation turned into a 33 million dollar cult juggernaut

मां के लिए बनाया जुगाड़, अब उससे कमा लिए 200 करोड़

कहते हैं कि अगर आपको कुछ बड़ा बिजनेस करना हो तो आइडिया यूनिक होना जरुरी है ।

1 of

नई दिल्‍ली.. कहते हैं कि अगर आपको कुछ बड़ा बिजनेस करना हो तो आइडिया यूनिक होना जरुरी है । यह कहावत'स्क्वैटी पॉटी स्‍टूल' के निर्माता और सीईओ बॉबी एडवर्ड्स पर बिल्‍कुल सटीक बैठती है। बॉबी एडवर्ड्स को अपनी मां की बीमारी के चलते बिजनेस करने का आइडिया मिला और आज उसका कारोबार 200 करोड़ रुपए से भी ज्‍यादा का है।  आज हम आपको बॉबी एडवर्ड्स के कारोबार के बारे में विस्‍तार से बताने जा रहे हैं। 


बीमारी में मां के लिए बनाया जुगाड़ 


दरअसल,  बॉबी एडवर्ड्स की मां जुडी एडवर्ड्स को कॉन्स्टिपेशन यानी कब्‍ज की बीमारी थी। उन्‍हें टॉयलेट सही ढंग से नहीं हो पा रहा था। इस वजह से जुडी बेहद परेशान रहती थीं। मां की इस हालत को देखकर बॉबी  एडवर्ड्स ने एक जुगाड़ स्‍टूल बनाया। इस स्‍टूल का इस्‍तेमाल करने के बाद जुडी की यह बीमारी अब खत्‍म हो गई है। बॉबी के इस यूनिक जुगाड़ की जुडी का इलाज कर रहे डॉक्‍टर्स ने भी सराहाना की। डॉक्‍टर्स ने उन्‍हें फूट स्‍टूल का हमेशा इस्‍तेमाल करने की सलाह दी। 

 

पहला स्‍टूल लकड़ी का 


बॉबी ने पहला स्‍टूल लकड़ी का बनाया और इसको उन्‍होंने 'स्क्वैटी पॉटी स्‍टूल' नाम दिया। बॉबी और उनके पैरेंट्स ने इस फूट स्‍टूल की सफलता को देखते हुए अपने फ्रेंड्स और रिलेटिव को गिफ्ट देना शुरू कर दिया। 'स्क्वैटी पॉटी स्‍टूल' को लोगों ने शानदार रिस्‍पॉन्‍स दिया। बॉबी के मुताबिक इसके शानदार रिस्‍पांस को देखते हुए हमने 35 हजार डॉलर में एक वेबसाइट बनाया और इस प्रोडक्‍ट का निर्माण शुरू कर दिया।  आगे पढ़ें - 200 करोड़ की कमाई 


 

चीन से मिला पहला बड़ा ऑर्डर 


बॉबी बताते हैं कि उन्‍हें पहला बड़ा ऑर्डर चीन से मिला। यहां के एक कारोबारी ने हमें ऑनलाइन ट्रैक किया और  2000 'स्क्वैटी पॉटी स्‍टूल' का ऑर्डर दिया। बॉबी बताते हैं कि शुरू में उन्‍होंने प्रोडक्‍ट के प्रचार के लिए कई हेल्‍थ ब्‍लॉगर्स को फ्री में ये स्‍टूल दिया। बाद में हमने अमेरिकी शो शार्क टैंक के लिए क्‍वालिफाई किया। यहां हमने सिर्फ 24 घंटे के भीतर 1 मिलियन डॉलर के प्रोडक्‍ट बेच दिए। इसके अलावा हमें लॉरी ग्रेनर नामक एक कारोबारी से 350,000 डॉलर का निवेश मिला। 

 

200 करोड़ से ज्‍यादा की बिक्री 


इस प्रोडक्‍ट की पहले साल 2011 में 17,000 डॉलर की बिक्री हुई। जबकि 2015 में 'स्क्वैटी पॉटी स्‍टूल' 19 मिलियन डॉलर की बिके। वहीं 2017 के अंत तक ये स्‍टूल 33 मिलियन डॉलर यानी करीब 200 करोड़ रुपए के बिक चुके हैं। कंपनी ने पिछले साल टॉयलेट प्‍लगर समेत कई अन्‍य प्रोडक्‍ट भी लॉन्‍च किए। बॉबी के मुताबिक अब इंटरनेशनल लेवल पर इस प्रोडक्‍ट को पॉपुलर बनाना है। इसके लिए कनाडा में नए प्‍लांट बनाने की भी प्‍लानिंग है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट